फतहनगर मर्डर केस का खुलासा, मुख्य आरोपी गिरफ्तार, अपराध में अपचारी भी शामिल

आज उदयपुर जिले के फतहनगर कस्बे में हुए 40 वर्षीय सत्यनारायण अग्रवाल के सनसनीखेज मर्डर केस का खुलासा महज़ कुछ ही घंटो में हो गया। हत्या व्यावसायिक प्रतिस्पर्धा के चलते की गई। पुलिस के हत्या के आरोप में फतहनगर निवासी लोकेश जीनगर पुत्र घनश्याम जीनगर को गिरफ्तार किया गया है। जबकि अपराध में अपचारी कभी लिप्त पाया गया है।

 

फतहनगर मर्डर केस का खुलासा, मुख्य आरोपी गिरफ्तार, अपराध में अपचारी भी शामिल

आज उदयपुर जिले के फतहनगर कस्बे में हुए 40 वर्षीय सत्यनारायण अग्रवाल के सनसनीखेज मर्डर केस का खुलासा महज़ कुछ ही घंटो में हो गया। हत्या व्यावसायिक प्रतिस्पर्धा के चलते की गई। पुलिस के हत्या के आरोप में फतहनगर निवासी लोकेश जीनगर पुत्र घनश्याम जीनगर को गिरफ्तार किया गया है। जबकि अपराध में अपचारी कभी लिप्त पाया गया है।

जिला पुलिस अधीक्षक कैलाश चंद्र बिश्नोई ने बताया की मृतक सत्यनारायण अग्रवाल को आखिरी बार लोकेश के साथ देखा गया था। इसी जानकारी के आधार पर लोकेश को डिटेन कर गहनता से पूछताछ की तो उसने बताया की उसने अपने एक अपचारी साथी के साथ मिलकर सत्यनारायण को बहाने से बुलवाया और साथ में कार में बिठाकर ले गया एवं फालूदा आइसक्रीम में नशीली गोली खिलाकर बेहोश कर दिया और मावली नाथद्वारा रोड पर स्थित गरियावास बडियार ने निकट मुंह पर तकिया दबाकर हत्या कर दी। और उसके पश्चात् शव को सड़क किनारे फेंकने के बाद वापिस फतहनगर आ गया। पुलिस अभी भी लोकेश और अपचारी से सघन पूछताछ कर रही है।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा बनी हत्या की वजह

बताया जाता है की सत्यनारायण अग्रवाल ने जो दुकान किराये पर ले रखी थी वह दुकान पहले लोकेश जीनगर ने ले रखी थी। सत्यनारायण ने यह दुकान लोकेश से अधिक किराया देकर दुकान मालिक से यह दुकान हथिया ली थी। इस वजह से लोकेश को दुकान खाली करनी पड़ी थी। बाद में लोकेश ने सत्यनारायण की दुकान के सामने ही अपनी दुकान लगा ली थी। चूँकि दोनों काम बैग व्यवसाय का था अतः दोनों में प्रतिस्पर्धा चलती रही थी। और इसी वजह से सत्यनारायण ने अपनी जान खोई और लोकेश हत्यारा बन गया।

https://udaipurtimes.com/bjp-councilor-saroj-agrawal-brother-satyanarayan-agrawal-being-murdered-tense-in-fatehnagar/

उल्लेखनीय है की उदयपुर की वार्ड 43 की भाजपा पार्षद सरोज अग्रवाल के भाई सत्यनारायण अग्रवाल का शव क्षेत्र के गरियावास बडियार में मिलने की सूचना पर फतेहनगर कस्बे में सनसनी फ़ैल गई थी । उक्त मामले को लेकर कस्बे में एक बार तनाव व्याप्त हो गया था। । लोगो ने बाज़ार बंद करके और टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन भी किया। वहीँ कथित आरोपी (लोकेश) की दुकान का सामान बाहर निकालकर उसमे आग लगा दी।

From around the web