इंसानियत शर्मसार चार साल की मासूम हुई दरिंदगी की शिकार

उदयपुर जिले में इंसानियत फिर से शर्मसार हुई। जिले के झाड़ोल तहसील के गांव धूधाणा में आज एक मासूम अपने ही पडोसी की हवस का शिकार बनी। गत 15 अगस्त को ही एक मासूम सलूम्बर कस्बे में दरिंदो की हवस की भेट चढ़ी थी, मेवाड़ का यह ज़ख्म अभी भरा भी नहीं कि अब फिर झाड़ोल में हुई घृणित की घटना ने मेवाड़ का सर शर्म से नीचे कर दिया। शूरवीरो की धरती मेवाड़ पर यह बदनुमा दाग समाज के पतन और गिरते हुए सामाजिक, नैतिक मूल्यों की बानगी है।

 

इंसानियत शर्मसार चार साल की मासूम हुई दरिंदगी की शिकार

उदयपुर जिले में इंसानियत फिर से शर्मसार हुई। जिले के झाड़ोल तहसील के गांव धूधाणा में आज एक मासूम अपने ही पडोसी की हवस का शिकार बनी। गत 15 अगस्त को ही एक मासूम सलूम्बर कस्बे में दरिंदो की हवस की भेट चढ़ी थी, मेवाड़ का यह ज़ख्म अभी भरा भी नहीं कि अब फिर झाड़ोल में हुई घृणित की घटना ने मेवाड़ का सर शर्म से नीचे कर दिया। शूरवीरो की धरती मेवाड़ पर यह बदनुमा दाग समाज के पतन और गिरते हुए सामाजिक, नैतिक मूल्यों की बानगी है।

धूधाणा गांव में 1 सितंबर की शाम को चार साल की मासूम अपने घर के बाहर खेल रही थी तभी प्रकाश नाम का दरिंदा वहां पर आया और उसे बिस्कीट दिलाने का लालच देकर वहां से लेकर चला गया। इसके बाद इस वहशी दरिंदे ने चार साल की मासूम को अपने घर में कुछ देर के लिए बंदी बनाया और उसके साथ दुष्कर्म कर दिया। जब परिजनों ने बच्ची को ढूंढा तो बच्ची कही नहीं मिली लेकिन कुछ देर बाद अपने ही घर के पास के मकान से जब बच्ची बाहर आयी तो वह लहुलूहान थी।

बच्ची को लहूलुहान पाते ही परिजन उसे झाडोल स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले गये। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टरों ने पहले परिजनों को पुलिस के पास जाने को कहा। इसके बाद परिजन पहले पुलिस के पास पहुंचे और इस पूरे घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी। परिजनों की ओर से रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस ने सबसे पहले बच्ची फिर से झाडोल कस्बे के समुदायिक स्वास्थ केंद्र पर भेजा जहां से उसे उदयपुर के एमबी चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। इसके बाद झाडोल पुलिस की मौजूदगी में बच्ची को एमबी हॉस्पिटल लाया गया। इस दौरान झाडोल पुलिस और बच्ची के परिजनों ने मिलकर बच्ची का मेडिकल करवाया।

फिलहाल हैवानियत का शिकार हुई 4 वर्ष की मासूम बच्ची का इलाज उदयपुर के एमबी अस्पताल में जारी है। वही दूसरी ओर झाडोल पुलिस ने दरिन्दे प्रकाश की सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी है। मासूम का पिता लक्ष्मण महाराष्ट्र के पुणे में मजूदरी का काम करता है और इन दिनों यहां पर आया हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी प्रकाश मासूम बच्ची के पिता लक्ष्मण का परिचित है ओर पड़ोसी होने के नाते पहले भी बच्ची से बातचीत करता था लेकिन इस तरह की वारदात को वह अंजाम देगा यह किसी को नहीं पता था। अब पुलिस इस मामले में अनुसंधान में जुट गयी है। लेकिन 4 साल की मासूम बच्ची के साथ हुई हैवानियत की इस घटना ने एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार कर दिया है।

From around the web