सूरजपोल हत्याकांड में लिप्त दो आरोपी और गिरफ्तार, मामले में अबतक चार गिरफ्तार

उदयपुर 22 मार्च 2019, सूरजपोल थाना क्षेत्र के खांजीपीर स्थित इंद्रा नगर बीड़ा रेलवे स्टेशन में कल होली के अवसर पर हुई नृशंस हत्याकाण्ड में आपसी रंजिश के चलते कुछ लोगो ने एक ही परिवार के लोगो पर चाकू, तलवार, लट्ठ और सरिये से हमला कर एक की हत्या कर दी और चार लोगो को गंभीर रूप से घाय

 

सूरजपोल हत्याकांड में लिप्त दो आरोपी और गिरफ्तार, मामले में अबतक चार गिरफ्तार

उदयपुर 22 मार्च 2019, सूरजपोल थाना क्षेत्र के खांजीपीर स्थित इंद्रा नगर बीड़ा रेलवे स्टेशन में कल होली के अवसर पर हुई नृशंस हत्याकाण्ड में आपसी रंजिश के चलते कुछ लोगो ने एक ही परिवार के लोगो पर चाकू, तलवार, लट्ठ और सरिये से हमला कर एक की हत्या कर दी और चार लोगो को गंभीर रूप से घायल कर दिया। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए हत्यारे पिता पुत्र को कल ही गिरफ्तार कर लिया था। जबकि आज मामले में दो और अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है।

सूरजपोल पुलिस थानाधिकारी रामसुमेर मीणा ने बताया की उपरोक्त हत्याकांड में वांछित प्रिन्स आदिवाल पिता सतयनारायण आदिवाल निवासी दक्षिणी खांजीपीर इंद्रानगर बीड़ा हाल मुकाम मार्वल वाटर पार्क के पास एवं 24 वर्षीय अविनाश उर्फ़ अवि पिता प्रकाश गुस्सर निवासी किशनपोल कालका माता मंदिर के पास को गिरफ्तार किया गया है। इस प्रकार इस मामले में कुल चार लोगो को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस अभी अभियुक्तों से वारदात में प्रयुक्त हथियारों की बरामदगी का प्रयास कर रही है।

उल्लेखनीय है की हत्या का आरोपी खांजीपीर बीड़ा निवासी शेखर आदिवाल पिता सत्यनारायण आदिवाल निवासी खांजीपीर बीड़ा कुछ महीनो पूर्व मृतक पवन परदेशी की नाबालिग भतीजी के अपहरण के आरोप में जेल जा चूका है। शेखर फरवरी में ही ज़मानत पर बाहर आया था, बस इसी बात की रंजिश को लेकर शेखर ने अपने पिता सत्यनारायण आदिवाल उर्फ़ सत्तू पिता जमनालाल हरिजन, शेखर की माँ काजल आदिवाल पत्नी सत्यनारायण आदिवाल, प्रिंस आदिवाल, अविनाश, पंकज चावरिया और अन्य के साथ मिलकर पवन परदेशी के परिवार पर चाकू, लट्ठ और धारदार हथियारों से हमला कर दिया।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

सूरजपोल थाना पुलिस ने बताया की परदेशी परिवार होली मन रहा था तभी शेखर अपने माता पिता और अन्य साथियो के साथ आ धमका और आते ही उसने पवन उसके भाई कमल पवन की पत्नी गीता, कमल की पत्नी पिंकी और सोनू आदिवाल पर चाकू, लट्ठ और धारदार हथियारों से ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। शोर सुन कर आसपास की लोग इकठ्ठा हो गये लेकिन हमलावरों के हाथ में हथियार देखकर कोई उन्हें रोकने की हिम्मत नहीं जुटा पाया। हमलावर भी मौके का फायदा उठाकर वहां से भाग गए। लोगो ने घायलों को अस्पताल पहुँचाया गया जहाँ 43 वर्षीय पवन पिता रतन परदेशी को मृत घोषित कर दिया गया। वहीँ घायल कमल, गीता, पिंकी और सोनू को भर्ती कर दिया गया।जहाँ उनका इलाज चल रहा है।

सूरजपोल में खून से खेली गयी होली, एक की हत्या चार घायल

अभियुक्त शेखर पर पहले ही शहर के विभिन्न थानों ने हत्या के प्रयास, बलात्कार, मारपीट और नकबजनी के छह केस दर्ज है जबकि उसके पिता सत्यनारायण उर्फ़ सत्तू आदिवाल पर भी हत्या के प्रयास, बलात्कार लूट जैसे गंभीर मामलो में शहर के विभिन्न थानों में 9 केस दर्ज है।

From around the web