राजस्थान खादी ग्राम उद्योग बोर्ड का लिपिक रिश्वत लेते गिरफ्तार

राजस्थान खादी ग्राम उद्योग बोर्ड के कनिष्ठ लिपिक को आज उदयपुर एसीबी (भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो) ने 20,000 नकद और 54,000 रुपए की रिश्वत राशि के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। प्रार्थी द्वारा एसीबी ऑफिस में उपस्थित होकर कनिष्ठ लिपिक के खिलाफ लिखित में एक रिपोर्ट दी गई थी। जिसमें उसने पाउडर की फैक्ट्री डालने के एवज में 74,000 रुपए की रिश्वत की मांग की थी।

 
राजस्थान खादी ग्राम उद्योग बोर्ड का लिपिक रिश्वत लेते गिरफ्तार

राजस्थान खादी ग्राम उद्योग बोर्ड के कनिष्ठ लिपिक को आज उदयपुर एसीबी (भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो) ने 20,000 नकद और 54,000 रुपए की रिश्वत राशि के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। प्रार्थी द्वारा एसीबी ऑफिस में उपस्थित होकर कनिष्ठ लिपिक के खिलाफ लिखित में एक रिपोर्ट दी गई थी। जिसमें उसने पाउडर की फैक्ट्री डालने के एवज में 74,000 रुपए की रिश्वत की मांग की थी।

एसीबी की ओर से इस शिकायत का पहले तो सत्यापन कराया गया और जब सत्यापन में शिकायत सही पाई गई तो आज इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया। केंद्र सरकार की ओर से खादी ग्राम उद्योग बोर्ड के तहत दिए जाने वाले लोन में 35% की सब्सिडी दी जाती है। ऐसे में प्रार्थी की ओर से करीब 25 लाख रुपए का लोन सोप स्टोन की फैक्ट्री डालने के लिए लिया गया था। जिस पर कनिष्ठ लिपिक द्वारा सब्सिडी के 35% में से 10% रुपयों की मांग रिश्वत के एवज़ की जा रही थी।

प्रार्थी द्वारा बार-बार परेशान होने के बाद इसकी शिकायत एसीबी को की गई थी और एसीबी ने इस रिश्वतखोर एलडीसी को रिश्वत की राशि के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। अब एसीबी के अधिकारियों द्वारा आरोपी लिपिक से लगातार पूछताछ की जा रही है साथ ही उसके घर और ऑफिस में भी एसीबी के अधिकारी उसके दस्तावेजों और लॉकर को खंगालने में जुटे हुए हैं।

From around the web