गिट्स में इण्डस्ट्री-इंस्टीट्यूट समागम 2019 का हुआ आयोजन

गीतांजली इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्निकल स्टड़ीज डबोक उदयपुर में इण्डस्ट्री-इंस्टीट्यूट समागम 2019 के प्रोग्राम का आयोजन किया गया जहां पर जाने माने एच.आर. प्राफेशनल्स एवं उद्यमियों ने विद्यार्थियों से सीधा संवाद स्थापित किया और

 

गिट्स में इण्डस्ट्री-इंस्टीट्यूट समागम 2019 का हुआ आयोजन

गीतांजली इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्निकल स्टड़ीज डबोक उदयपुर में इण्डस्ट्री-इंस्टीट्यूट समागम 2019 के प्रोग्राम का आयोजन किया गया जहां पर जाने माने एच.आर. प्राफेशनल्स एवं उद्यमियों ने विद्यार्थियों से सीधा संवाद स्थापित किया और औद्योगिक जगत की वर्तमान परिस्थितियों से विद्यार्थियों को अवगत कराया। कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ।

संस्थान के निदेशक डाॅ. विकास मिश्र ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि इन्जिनियरिंग का हमारे जीवन में बहुत बढा योगदान हैं। बिना इन्जिनियरिंग के हम वर्तमान जीवन की परिकल्पना भी नहीं कर सकते है। इन्जिनियरिंग को वर्तमान जीवन के सांचे में ढालकर मानव जीवन के कलयाण हेतु बना देना ही सफल इन्जिनियरिंग हैं।

मोटिवेशनल स्पीच देते हुए एमबीए निदेशक डाॅ. पी.के.जैन ने कहा कि लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए विजन को होना बहुत जरूरी हैं। इसके अलावा भी जैन ने औद्योगिक इकाइयों के वर्तमान हालत पर चर्चा किया एवं एक विश्लेषण द्वारा बताया कि आज की औद्योगिक इकाइयां एक एक करके बंद क्यों होती जा रहीं हैं। ये इकाइयां बंद नहीं हो उसके लिए कुछ सुझाव प्रस्तुत किया।

कार्यक्रम के संयोजक ट्रेनिंग एण्ड प्लेसमेंट हेड अरविन्द सिंह पेमावत के अनुसार इस इन्ट्रेक्शन प्रोग्राम में जे के टायर एण्ड इण्डस्ट्रीज लिमिटेड के उपमहाप्रबन्धक – मानव संसाधन डाॅ. एन.के. शर्मा ने कहा कि इन्जिनियरिंग फिलिंग, स्प्रीट, इनोवेशन, आईडियास, का एक मिश्रण हैं। दुर्भाग्य से आज के लोग इनोवेशन से ज्यादा रिवर्स इन्जिनियरिंग पर ध्यान दे रहे हैं। साथ ही इन्होने इन्जिनियरिंग को सामान्य तरीके से लाइफ को प्रयोगों के बारे में बताया। फलन इन्पैक्ट द्वारा विद्यार्थियों को सही दिशा में अपने ज्ञान को पढाते रहना चाहिए। इससे विद्यार्थियों अपने जीवन में कभी असफल नहीं होंगे। फ्यूजन बिजनेस सोल्यूशन प्राईवेट लिमिटेड के संस्थापक एवं प्रबन्ध निदेशक मधुकर एस दुबे ने जीवन में सफलता प्राप्त करने में आने वाली कठनाइयों से बचने का सचित्र वर्णन किया।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

अपने जीवन का अनुभव शेयर करते हुए उन्होनें कहा कि किसी को भी अपनी सफलता पर हत्तोसाहित नहीं होने तथा चुनोतियों से नहीं डरने की सलाह दी। असफलता कई बार हमें सफलता के पथ पर अग्रसर करती हैं। शेलेन्द्र सिंह (ए.जी.एम. एच.आर. नुवको विस्तास कोर्पाेरेशन लिमिटेड, (लफार्ज)) ने विद्यार्थियों को किसी ओर्गेनाइजेशन में अपनी जगह कैसे बनाएं। इस पर टिप्स प्रदान किये। हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड के हेड़ स्ट्रेटिजिक एच.आर. प्रोजेक्ट संजय शर्मा ने विद्यार्थियों को अपने लक्ष्य के प्रति दृढ़ रहने को कहा इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों को साक्षात्कार के नियम से अवगत कराया। कार्यक्रम का संचालन असिस्टेंट प्रोफेसर अंजली धाभाई द्वारा किया गया।

इस अवसर पर वित्त नियंत्रक बी.एल.जांगिड सहित पूरा गिट्स परिवार उपस्थित था।

From around the web