मनरेगा कार्यो का औचक निरीक्षण में पाई गई अनियमितताएं

उदयपुर, 22 मई 2019 जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने मंगलवार को पंचायत समिति गिर्वा की ग्राम पंचायत बुझड़ा एवं बड़ी उन्दरी में महानरेगा में चल रहे कार्यों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कई अनियमतिताएं पाई गई जिन पर जिम्मेदार कर्मचारियों अधिकारियों के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई प्रारम्भ कर दी गई है। बूझड़ा में चारागाह विकास कार्य हेतु 143 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे जिसमें से 76 श्रमिक ही कार्य स्थल पर पाये गये। कार्यस्थल पर जाॅबकार्ड, मेडीकल किट एवं बोर्ड नहीं थे जिस पर संबंधित मेट को चेतावनी दी गयी।

 

मनरेगा कार्यो का औचक निरीक्षण में पाई गई अनियमितताएं

उदयपुर, 22 मई 2019 जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने मंगलवार को पंचायत समिति गिर्वा की ग्राम पंचायत बुझड़ा एवं बड़ी उन्दरी में महानरेगा में चल रहे कार्यों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कई अनियमतिताएं पाई गई जिन पर जिम्मेदार कर्मचारियों अधिकारियों के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई प्रारम्भ कर दी गई है। बूझड़ा में चारागाह विकास कार्य हेतु 143 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे जिसमें से 76 श्रमिक ही कार्य स्थल पर पाये गये। कार्यस्थल पर जाॅबकार्ड, मेडीकल किट एवं बोर्ड नहीं थे जिस पर संबंधित मेट को चेतावनी दी गयी।

बड़ी उन्दरी में सम्पर्क सडक मय पुलिया का सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से किए जा रहे कार्य के निरीक्षण के दौरान कार्यस्थल पर 6 मेट कार्यरत थे एवं 229 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे। मौके पर उपस्थिति लेने पर 139 श्रमिक पाये गये।

इसके अलावा मुख्य कार्यकारी अधिकारी के निर्देेशों की अनुपालना में जिला परिषद के अधिकारियों के एक दल ने पंचायत समिति बडगांव की ग्राम पंचायत लोयरा, थूर, लोसिंग एवं अम्बेरी में में मनरेगा में चल रहे कार्यों का औचक निरीक्षण किया। दल को चिकलवास फीडर पर धोरा निर्माण कार्य में जारी 51 श्रमिकों के मस्टरोल में से कार्यस्थल पर 31 श्रमिक ही मिले। कार्यस्थल पर जाॅबकार्ड, मेडीकल किट एवं बोर्ड भी नहीं पाये गये । थूर फूटा नाका मरम्मत का कार्य में 26 में से मौके पर 15 श्रमिक ही पाये गये। कार्यस्थल पर मेडीकल किट एवं छाया थी किन्तु जाॅबकार्ड कार्यस्थल पर नहीं पाये गये।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

चदाणों की भागल में चारागाह विकास कार्य में 87 श्रमिकों के स्थान पर 47 श्रमिक कार्य स्थल पर पाये गये। मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड सहित कार्यस्थल पर उपस्थित था। कार्यस्थल पर छाया की व्यवस्था नहीं एवं बोर्ड नहीं पाये गये। कार्यस्थल पर मेडीकल किट उपलब्ध था।

इसी प्रकार लोसिंग का ढावा में चरागाह विकास कार्य के निरीक्षण में 132 श्रमिकों में से 106 श्रमिक कार्य स्थल पर पाये गये। मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड सहित कार्यस्थल पर उपस्थित था। कार्यस्थल पर मेडीकल किट एवं बोर्ड नहीं पाये गये।

अम्बेरी के नीलकंठ का बोरा में ग्रेवल सड़क कार्य पर लगे 138 श्रमिकों में से 108 श्रमिक कार्य स्थल पर पाये गये। दोनों मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड सहित कार्यस्थल पर उपस्थित थे। कार्यस्थल पर मेडीकल किट, छाया की व्यवस्था एवं साइन बोर्ड नहीं पाये गये।

इसी प्रकार एक अन्य दल ने पंचायत समिति सलूम्बर की ग्राम पंचायत कांट एवं इंटाली खेडा में मनरेगा में चल रहे कार्यों का औचक निरीक्षण किया। कांट में चारागाह विकास एवं वृक्षारोपण कार्य पर लगे 83 श्रमिकों में से 51 श्रमिक कार्य स्थल पर उपस्थित पाये गये। 2 एवजी श्रमिक पाये गये। मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड एवं मेडीकल किट सहित कार्यस्थल पर उपस्थित था। कार्यस्थल पर छाया की व्यवस्था नहीं एवं बोर्ड नहीं पाये गये। यहीं पर एक अन्य चारागाह विकास एवं वृक्षारोपण कार्य पर 52 श्रमिकों में से 39 श्रमिक कार्य स्थल पर पाये गये। 3 एवजी श्रमिक पाये गये। मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड एवं मेडीकल किट सहित कार्यस्थल पर उपस्थित था। कार्यस्थल पर छाया की व्यवस्था नहीं एवं बोर्ड नहीं पाये गये।

मनरेगा कार्यो का औचक निरीक्षण में पाई गई अनियमितताएं

इंटालीखेड़ा सम्पर्क सडक मेन रोड से खजुरा पुराना शिव मन्दिर तक के कार्य पर लगे 70 श्रमिकों में से 35 श्रमिक कार्य स्थल पर पाये गये। 1 एवजी श्रमिक पाया गया। मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड एवं मेडीकल किट सहित कार्यस्थल पर उपस्थित था। कार्यस्थल पर छाया पानी की व्यवस्था थी किन्तु बोर्ड नहीं पाया गया। पारोड़ा सम्पर्क सडक के कार्य पर लगे 99 श्रमिकों में से 42 श्रमिक कार्य स्थल पर पाये गये। मेट मस्टरोल एवं जाॅबकार्ड एवं मेडीकल किट सहित कार्यस्थल पर उपस्थित था। कार्यस्थल पर छाया पानी की व्यवस्था थी किन्तु बोर्ड नहीं पाया गया।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने समस्त कमियों के लिये पंचायत समितियों से संबंधित विकास अधिकारी, सहायक अभियंता, कनिष्ठ तकनीकी सहायक एवं ग्राम विकास अधिकारी को नोटिस जारी कर अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गयी है। दोषी पाये जाने वाले मेट को ब्लेक लिस्टेड करने के निर्देश जारी कर दिये गये है। उन्होने कहा कि महानरेगा में किसी भी अनियमितत या शिकायत हेतु टोल फ्री नम्बर 1800-180-6127 पर संपर्क किया जा सकता है।

From around the web