सार्क देशों ने सराहा उदयपुर के सैनिटेशन प्रयासों को

कोलंबो, श्री लंका सरकार के निमंत्रण पर " सस्टेनेबल सेनिटेशन सॉल्यूशन" विषयक तीन दिवसीय कॉन्फ्रेंस में उदयपुर में हो रहे सेनिटेशन प्रयासों को सराहा गया। विद्या भवन पॉलीटेक्निक के प्राचार्य व झील संरक्षण समिति के सहसचिव डॉ अनिल मेहता, नगर निगम के अतिरिक्त मुख्य अभियंता अरुण व्यास, सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च के शुभागतो दासगुप्ता, तन्वी तोमर ने कॉन्फ्रेंस में "पार्टनरिंग फ़ॉर मेवाड़" ( MEWAR : मैनेजिंग एनवायरनमेंट थ्रू वेस्ट रीयूज") की रूपरेखा प्रस्तुत की।

 

सार्क देशों ने सराहा उदयपुर के सैनिटेशन प्रयासों को

कोलंबो, श्री लंका सरकार के निमंत्रण पर ” सस्टेनेबल सेनिटेशन सॉल्यूशन” विषयक तीन दिवसीय कॉन्फ्रेंस में उदयपुर में हो रहे सेनिटेशन प्रयासों को सराहा गया। विद्या भवन पॉलीटेक्निक के प्राचार्य व झील संरक्षण समिति के सहसचिव डॉ अनिल मेहता, नगर निगम के अतिरिक्त मुख्य अभियंता अरुण व्यास, सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च के शुभागतो दासगुप्ता, तन्वी तोमर ने कॉन्फ्रेंस में “पार्टनरिंग फ़ॉर मेवाड़” ( MEWAR : मैनेजिंग एनवायरनमेंट थ्रू वेस्ट रीयूज”) की रूपरेखा प्रस्तुत की।

यह योजना निगम, हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड, विद्या भवन व सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च द्वारा क्रियान्वित हो रही है। इसके तहत उदयपुर में सम्पूर्ण फिकल स्लज प्रबंधन होगा व हिंदुस्तान जिंक की मदद से सेप्टिक टैंक मलबे का उपचार संयंत्र भी बनेगा।

कार्यक्रम में भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका, अफगानिस्तान, भूटान, मालदीव व नेपाल के प्रतिनिधि भाग ले रहे है। इस अवसर पर कोलम्बो में स्थापित साउथ एशियाई रीजनल सेंटर फॉर सेनिटेशन के कार्य क्षेत्र को सदस्य देशों में व्यापक करने पर उदयपुर के दल ने विचार प्रस्तुत किये।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

मेहता तथा व्यास ने श्रीलंका के नगरीय विकास, जल व सेनिटेशन मंत्री रउफ हकीम से भी मुलाकात की। हकीम ने भारत के स्वच्छ भारत अभियान को एक महत्वपूर्ण कदम बताया।

From around the web