पीलादर में तनाव, 5 सरकारी वाहन फूंके, 4 राउंड फायर, 17 घायल, 100 हिरासत में

जिले के जयसमंद रोड पर स्थित पीलादर में रमेश पटेल हत्याकांड को लेकर ग्रामीणों और पटेल समाज का आक्रोश कल सड़को पर नज़र आया। पुलिस की कार्यवाही से असंतुष्ट और क्रुद्ध ग्रामीणों ने झरियाना में एकत्र होकर कलेक्टर को ज्ञापन देने जा रहे थे। इसी दरमियान माहौल गरमा गया। लोगो ने हाइवे जाम कर दिया। पुलिस ने हाइवे खुलवाने के प्रयास किये तभी महिलाओ को आगे कर पुलिस पर पथराव शुरू हो गया। जवाब में पुलिस ने भी लाठिया भांजी। देखते ही देखते माहौल और खराब होने पर पुलिस को चार राउंड फायर करना पड़ा। जिससे दो ग्रामीण घायल हो गए. जबकि ग्रामीणों की ओर से किये गए पथराव में एक महिला कांस्टेबल समेत 15 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

 

पीलादर में तनाव, 5 सरकारी वाहन फूंके, 4 राउंड फायर, 17 घायल, 100 हिरासत में

उदयपुर 16 जुलाई 2019, जिले के जयसमंद रोड पर स्थित पीलादर में रमेश पटेल हत्याकांड को लेकर ग्रामीणों और पटेल समाज का आक्रोश कल सड़को पर नज़र आया। पुलिस की कार्यवाही से असंतुष्ट और क्रुद्ध ग्रामीणों ने झरियाना में एकत्र होकर कलेक्टर को ज्ञापन देने जा रहे थे। इसी दरमियान माहौल गरमा गया। लोगो ने हाइवे जाम कर दिया। पुलिस ने हाइवे खुलवाने के प्रयास किये तभी महिलाओ को आगे कर पुलिस पर पथराव शुरू हो गया। जवाब में पुलिस ने भी लाठिया भांजी। देखते ही देखते माहौल और खराब होने पर पुलिस को चार राउंड फायर करना पड़ा। जिससे दो ग्रामीण घायल हो गए. जबकि ग्रामीणों की ओर से किये गए पथराव में एक महिला कांस्टेबल समेत 15 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

सरकारी वाहनों पर फूटा गुस्सा

पीलादर में तनाव, 5 सरकारी वाहन फूंके, 4 राउंड फायर, 17 घायल, 100 हिरासत में

आक्रोशित भीड़ ने तीन पुलिस कर्मियों के वाहन और दो सरकारी रोडवेज की बसों को निशाना बनाते हुए फूँक डाले। मौके पर पहुंचे आस पास के विभिन्न थानों के जाब्ते के साथ आये उनके वाहनों में भी जमकर तोड़ फोड़ की गई। क्रुद्ध भीड़ ने वाहनों के शीशे फोड़ डाले।

100 ग्रामीणों को लिया हिरासत में

घटना के बाद पुलिस ने कार्यवाही करते हुए देर रात तक करीब 100 लोगो को हिरासत में लिया है। वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी के आधार पर पथराव, तोड़फोड़ और आगज़नी में शामिल लोगो को चिन्हित कर पुलिस गिरफ्तारी में जुटी है। पुलिस पर हमला, तोड़फोड़, आगज़नी और सार्वजनिक सम्पति को नुक्सान पहुँचाने तथा रोडवेज की बसों को आग के हवाले करने का मामला दर्ज किया है।

पीलादर में तनाव, 5 सरकारी वाहन फूंके, 4 राउंड फायर, 17 घायल, 100 हिरासत में

चार राउंड फायर हुए

संभाग की आईजी पुलिस ने बताया की पथराव व तोडफ़ोड़ करने पर मौका मजिस्ट्रेट तहसीलदार की मौजूदगी में एएसपी दशरथसिंह की मौजदगी में रबर बुलेट से चार राउंड फायर किये गए। जिनमे दो ग्रामीण सल्लाड़ा निवासी बाबूलाल पुत्र रत्ना पटेल और महुडी सराड़ा निवासी देवलीलाल पुत्र केवा पटेल घायल हो गए। उधर प्रदर्शनकारियो के पथराव में जावरमाइंस थानाधिकारी भरत योगी, सराड़ा थानाधिकारी रतनसिंह, झल्लारा थानाधिकारी शिवसिंह, सेमारी थानाधिकारी मुकेश कुमार सहित हेड कांस्टेबल कन्हैयालाल, महिला कांस्टेबल भगवती और कांस्टेबल अशोक घायल हो गए।

अब पढ़ें उदयपुर टाइम्स अपने मोबाइल पर – यहाँ क्लिक करें

पुलिस की सफाई और ग्रामीणों के आरोप

पुलिस ने पूरे मामले पर सफाई देते हुए कहा की रमेश पटेल हत्याकांड में नामजद सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ हत्या की जांच चल रही थी। पुलिस की इस कार्यवाही से ग्रामीण संतुष्ट भी थे लेकिन बाद में अन्य लोगो की लिप्तता को लेकर ग्रामीण झरियाना में एकत्र होकर कलेक्टर को ज्ञापन देने आ रहे थे तभी माहौल गरमा गया और कुछ लोगो ने पुलिस पर पथराव और तोड़फोड़ शुरू कर दी। जबकि ग्रामीणों का कहना है की पुलिस ने महिलाओ पर लाठिया बरसाई उसके बाद माहौल खराब हुआ।

पीलादर में तनाव, 5 सरकारी वाहन फूंके, 4 राउंड फायर, 17 घायल, 100 हिरासत में

अवैध शराब की तस्करी वजह बनी हत्या की

जिला पुलिस अधीक्षक कैलाश चंद्र बिश्नोई ने बताया की मृतक रमेश पटेल और हत्या का आरोपी रमेश मीणा दोनों अवैध शराब के कारोबार में लिप्त थे। रमेश मीणा को रमेश पटेल पर मुखबिरी का शक और पैसो के लेनदेन को लेकर विवाद था। इसी विवाद के चलते आरोपी ने मृतक को मौत के घाट उतारकर शव को जयसमंद के जंगल में फ़ेंक दिया। पहले दो दिन तक तो हत्या का पता नहीं चला परिजनों ने रमेश मीणा को नामजद करते हुए गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवा रखी थी। दो दिन बाद पुलिस ने रमेश मीणा को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो मामले का खुलासा हुआ।

निष्पक्ष जांच होगी – आईजी बिनीता ठाकुर

पीलादर में हुए घटनाक्रम पर आयोजित प्रेस वार्ता में संभाग की आईजी पुलिस श्रीमती बिनीता ठाकुर ने बताया की रमेश पटेल हत्याकांड में दो गिरफ्तारी हो चुकी है। आगे भी अनुसन्धान जारी है। अभी मौके पर स्थिति पूरी तरह से काबू में है। जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक मौके पर है। कल के घटनाक्रम के मद्देनज़र पुलिस का जाब्ता मौजूद है। उन्होंने बताया की सम्पूर्ण घटनाक्रम की निष्पक्ष जांच की जाएगी।

चार दिन पूर्व लापता युवक की लाश जयसमंद के जंगल में मिली

From around the web