तीर्थक्षेत्र गिरनार को असामाजिक तत्वों से मुक्त कराने के प्रस्ताव का सर्वसम्मत निर्णय

अखिल भारतीय दिगम्बर जैन दसा नरसिंहपुरा संस्थान राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक मध्यप्रदेश के दलौदा शहर में जावरा रोड, मधुर मिलन गार्डन के सभा भवन में संस्थान परम संरक्षक कुन्तीलाल जैन के आतिथ्य में सम्पन्न हुई। बैठकी की अध्यक्षता संस्थान राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्रप्रसाद कोठारी ने की।बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित क

 

तीर्थक्षेत्र गिरनार को असामाजिक तत्वों से मुक्त कराने के प्रस्ताव का सर्वसम्मत निर्णय

उदयपुर 13 अगस्त 2019। अखिल भारतीय दिगम्बर जैन दसा नरसिंहपुरा संस्थान राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक मध्यप्रदेश के दलौदा शहर में जावरा रोड, मधुर मिलन गार्डन के सभा भवन में संस्थान परम संरक्षक कुन्तीलाल जैन के आतिथ्य में सम्पन्न हुई। बैठकी की अध्यक्षता संस्थान राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्रप्रसाद कोठारी ने की।

संस्थान परम संरक्षक कुन्तीलाल जैन ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मन्दसौर के विनोद कुमार जैन, उदघाटनकर्ता मन्दसौर समाज अध्यक्ष प्रदीप जैन, विशिष्ट अतिथि जावरा समाज अध्यक्ष एवं भट्टारक यशकीर्ति ट्रस्ट के मुख्य ट्रस्टी एडवोकेट विजय कुमार जैन एवं कार्यक्रम संयोजक महावीर जैन दलोदा थे। बैठक में स्वागत उदबोधन राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्रप्रसाद कोठारी ने दिया।

उन्होंने बताया कि बैठक में विचारणीय विषयों पर चर्चा हेतु प्रस्ताव रखे जिस पर मंथन के बाद राष्ट्रीय युवा मोर्चा अधिवेशन उदयपुर में 15 दिसम्बर 2019 आयोजित करने, मेरी बेटी-मेरी शान (स्मार्ट गर्ल) सशक्तिकरण प्रशिक्षण कार्यशाला, मध्यप्रदेश राज्य के मन्दसौर एवं प्रतापगढ शहर में आयोजित करने का निर्णय सर्वसम्मत रहा।

बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर भारत के गृहमंत्र अमित शाह से जैन समाज के तीर्थ क्षेत्र श्री गिरनार जी को असामाजिक तत्वों से अतिशीघ्र मुक्त कराने की मांग की गई। जैन ने कहा कि जैन समाज अहिंसक होने से गुजरात सरकार कोई सहयोग नही कर रही है। अतः शाह हस्तक्षेप कर समस्या का समाधान कराने की मदद करें, साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि समस्या के समाधान हेतु अपने अपने सदस्य पंचायतो से सभी राज्य प्रमुख पत्र द्वारा पत्र भिजवाये जाये।

संस्थान महामंत्री सुमतिचन्द्र जैन ने बताया कि संस्थान को नई ऊंचाईयों पर ले जाने हेतु पंकज जैन प्रतापगढ, धर्मेन्द्र जैन खेरोट, शैलेष जैन इन्दौर, उमेश जैन इन्दौर, आजाद जैन कुचडौद, अशोक जैन नान्देवल, संजय जैन कुचडौद, श्रीमती मीना जैन इन्दौर, पंकज जैन इन्दौर, उज्जवल जैन प्रतापगढ, डाॅ. अशोक जैन नान्देवल आदि ने अपने अपने विचार रख कर बैठक को सफल बनाने में अहम भूमिका का निवर्हन किया।

बैठक में संस्थान राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रमेशचन्द्र जुसोत द्वारा वार्षिक आय-व्यय लेखे प्रस्तुत किये जिसका सर्वसम्मति से अनुमोदन किया गया।

CLICK HERE to Download UdaipurTimes to your Android device

बैठक में प्रतापगढ से कवि चांदमल जैन ‘चन्दू’ ने काव्य पाठ कर सदन को मंत्रमुग्ध कर दिया। बैठक में उपस्थित कुचडौद पंचायत के अध्यक्ष आजाद कुमार जैन ने संस्थान की अगली बैठक कुचडौद मे रखने का आग्रह किया जिसे स्वीकार कर अगली बैठक संस्थान कुचडौद में रखेगी।

भट्टारक यशकीर्ति ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं सीनियर एडवोकेट विजय कुमार ओरा नि. जावरा ने सपरिवार संस्थान की सदस्यता ग्रहण की। इसी क्रम मे आजाद कुमार कुचडौद, अमृतलाल जैन, कल्याणपुरा, डाॅ. अशोक जैन, नान्देवल, समरथमल जैन, सिहोर, जीवनलाल जैन ढोढर, समर्थलाल खजुरिया, संजयकुमार सांरग, बालचन्द एवं केसरीमल दलौदा, प्रकाश जैन एवं निलेश जैन, मन्दसौर, विरेन्द्र जैन भडका, दिलीप कुमार मोकडवाडा नगरी, सुभाष जैन रतलाम, संजय जैन बनी ने संस्थान की नई सदस्यता ग्रहण की।

प्रारम्भ में मंचासीन अतिथियों ने दीप प्रज्जवलन एवं मंगलाचरण श्रीमती संगीता, निकिता, टीना एवं सोनू ने किया। बैठक में इन्दौर, मन्दसौर, रतलाम, दलोदा, प्रतापगढ, धरियावद, कुचडौद, ढोढर, कल्याणपुरा, नान्देवल, जावरा, उदयपुर, सिहोर, खजुरिया, भडका, मोकडवाडा, बनी, नगरी एवं सारंग पंचायत के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक में संस्थान परम संरक्षक कुन्तीलाल जैन द्वारा त्रिवार्षिक में अब तक हुए कार्यो एवं भावी योजना प्रस्तुत की। बैठक का संचालन राष्ट्रीय महामंत्री सुमतिचन्द्र जैन एवं आभार मध्यप्रदेश राज्य प्रमुख संजय जैन द्वारा व्यक्त किया गया।

From around the web