मुख्यमंत्री गहलोत ने उदयपुर में राजस्थान के पहले बर्ड पार्क का किया लोकार्पण


मुख्यमंत्री गहलोत ने उदयपुर में राजस्थान के पहले बर्ड पार्क का किया लोकार्पण

देसी विदेशी पक्षियों की चहचहाहट से फिर आबाद होगा गुलाब बाग़

 
bird park
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 12 मई 2022 । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बुधवार शाम से उदयपुर की यात्रा पर आये मुख्यमंत्री ने आज गुरुवार सुबह 10 बजे गुलाबबाग में नवनिर्मित राजस्थान के पहले बर्ड पार्क का लोकार्पण किया।  इस दौरान गहलोत के साथ परसादी लाल मीणा, रघुवीर मीणा, रामलाल जाट, गिरिजा व्यास, विधायक फूलसिंह मीणा, महापौर जी एस टांक, उप उपमहापौर पारस सिंघवी सहित तमाम उदयपुर जिला कांग्रेस के नेता मौजूद रहे।

मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) आर.के.खेरवा ने बताया कि शहर के हृदय स्थल पर गुलाबबाग में करीब साढ़े ग्यारह करोड़ रुपये की लागत वाले इस आकर्षक बर्ड पार्क का निर्माण पर्यटन विभाग, वन विभाग, नगर निगम व यूआईटी के द्वारा संयुक्त रूप से करवाया गया है। निर्माण कार्य आरएसआरडीसी लिमिटेड द्वारा किया गया है। इस पार्क के लिए पर्यटन विभाग ने 8 करोड़, नगर निगम ने 1.75 करोड़, यूआईटी ने 1.74 करोड़ रुपये दिए हैं।  

bird park

बर्ड पार्क के प्रभारी एवं उप वन संरक्षक (वन्यजीव) डॉ. अजीत ऊंचोई ने बताया कि बर्ड पार्क में पर्यटकों को एशियन, आस्ट्रेलियन, अफ्रिकन और अमरीकन परिंदों के दीदार हो सकेंगे। इसमें  कुल 28 प्रजातियों के पक्षियों को रखा गया है। इसमें मकाऊ, काकाटू, सन कोंनुअर, सेनेगल पैरेट, बैरा बैंड पैराकीट, रोक पेब्लर, किम्सन बिग, पिंक कुर्क, सेनेगल फायर फिंच, रेड चिकड़ कार्डन ब्लू, ब्लेक रम्पड वैक्स बिल, कैलिफोर्निया क्वेल, नार्थन बॉब व्हाईट, चाइनीज क्वेल, ग्रीन मुनिया आदि की अटखेलियाँ पर्यटक करीब से देख सकेंगे। इसी प्रकार रोज रिंग पैराकीट, एलम्जैडिया पेरेट, प्लम हैडेड पैराकीट, मोर, बज्रीघर, लव बर्ड, कोकाटेल, रोज़ी पेलिकन, कॉम्ब डक, ग्रैलेग गूज, अमेरिकन पकिन, सिल्वर फिजेंट व एमू शामिल हैं। 

ashok gehlot

उन्होंने बताया कि बर्ड पार्क गुलाबबाग में 12 एक्जीबिट्स यानि पिंजरें बनाए गए हैं, जिनमें असोर्टेंट पैराकिट, ईमु, ग्रीन मुनिया, लेसर पैसेराइन, ओस्टरीच, बार्न आउल, मकाउ, ककाटू प्रजातियों के पक्षियों को रखा गया है।

bird park

 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal