फतेहसागर झील के देवाली छोर पर मॉक ड्रिल

फतेहसागर झील के देवाली छोर पर मॉक ड्रिल

मॉक ड्रिल में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सिविल डिफेन्स, होम गार्ड, मेडिकल डिपार्टमेंट ने भाग लिया

 
mock drill
मॉक ड्रिल में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सिविल डिफेन्स, होम गार्ड, मेडिकल डिपार्टमेंट ने भाग लिया

उदयपुर 18 जनवरी 2023। एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के साथ फायर टीम और नागरिक सुरक्षा द्वारा बुधवार को फतेहसागर झील के देवाली छोर पर मॉक ड्रिल की गई। जहाँ चारों टीमों द्वारा किए जाने वाले प्रयासों से अवगत कराने लिए रेस्क्यू ऑपरेशन का लाईव डेमो दिया दिया गया।

इसमें यह दिखाया गया कि किसी भी गांव में बाढ़ या आपदा आने पर किस तरह ग्रामीणों को बचाया जा सकता है चारों टीमों ने अपना अपना प्रदर्शन उत्कृष्ट किया।

इस मौके पर एडीएम सिटी प्रभा गौतम ने बताया कि एसडीआरएफ और एनडीआरएफ कि टीमों द्वारा जो आपदा नियंत्रण की कार्यवाही की जाती हैं, ख़ासकर जिलों में आपदा उत्पन्न होती हैं उस दौरान जो उपाय किए जाते हैं, इन सभी उपाय के बारे में बताया गया, एक मॉक ड्रिल कि गई ताकी लोगो में भी अवेयरनेस आए, इसी के साथ ग्रामीणों के फ्लड आने कि स्थिति कैसे रेस्क्यू किया जाए इस पर भी प्रकाश डाला गया और पूरा रेस्क्यू ऑपरेशन कर के दिखाया गया।

mock drill

साथ ही उदयपुर में आने वाले टूरिस्ट के साथ कोई दुर्घटना होने पर क्या उपाय किया जाएगा वो भी बताया गया और साथ ही में रेस्क्यू करने के बाद उन्हें क्या प्राथमिक उपचार दिया जाएगा इसके बारे में भी बताया गया।

इसके अलावा मौत होने पर शव के पानी में फंस जाने पर किस तरह ऑक्सीजन सिलिंडर कि मदद से किस तरह डीप डाइव करके बॉडी निकाली जाए इस बारे में भी बताया गया। घरेलू उपकरणों कों उपयोग में लेकर इमरजेंसी सिचुएशन में कैसे काबू किया ज़ा सकता हैं इसके बारे में भी बताया गया।

mock drill

गौतम ने कहा कि मौक ड्रिल के जरिए ना सिर्फ लोगों कों जागरूक किया जाता है बल्कि आपदा से निपटने वाली सभी टीमों कि योग्यता कों भी समय समय पर चैक किया जाता हैं।

सिक्स बटालियन के योगेश कुमार ने बताया कि कमांडन्ट वीबीएन प्रसंदा कुमार और ज़िला कलेक्टर ताराचंद मीणा ने एक दिन पूर्व इस ड्रिल के बारे में टेबल टॉक मे सभी एजेंसियों के अधिकारीयों कि मौजूदगी में आज की तारीख तय हुई। 

आज बुधवार कों फतहसागर झील पर सुबह 11 बजे फ्लड की मौका ड्रिल की गई। जिसमे सभी एजेंसियों एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सिविल डिफेन्स, होम गार्ड, मेडिकल डिपार्टमेंट आदि ने भाग लिया। इसके दौरान विभिन्न टेक्निक बताई गई कि किन किन तरीकों से टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चला कर लोगों कि जान बचाती हैं इसके बारे में बताया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal