आंगनबाड़ी केंद्रों पर लगेंगे स्मार्ट टीवी, बच्चे सीखेंगे वर्णमाला, यूट्यूब पर सुनेंगे कविताएं


आंगनबाड़ी केंद्रों पर लगेंगे स्मार्ट टीवी, बच्चे सीखेंगे वर्णमाला, यूट्यूब पर सुनेंगे कविताएं

उदयपुर में 3225 आंगनबाड़ी, पहले चरण में 171 संवर चुकी, अब दूसरा चरण 

 
Anganwadi Nand Ghar Yojana
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर जिले के 2000 आंगनबाड़ी केंद्रों पर आने वाले दिनों में स्मार्ट टीवी लगेंगे और इसी के माध्यम से बच्चे पढ़ाई करेंगे। इसके लिए सरकार नंद घर योजना लेकर आई है। इसके तहत पहले चरण में जिले के 171 केंद्रों पर हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के सहयोग से स्मार्ट टीवी लगाई जा चुकी हैं।

राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश के आंगनबाड़ी केंद्रों को डवलप करने के लिए स्थानीय स्तर पर किसी न किसी औद्योगिक इकाई या समूह को इसमें शामिल किया है। इसी के तहत जिले में कुल 3325 आंगनबाड़ी केंद्रों पर स्मार्ट टीवी लगाए जाने है। इसमें से 171 में ये टीवी लगाई जा चुकी है। इसके दुसरे चरण को लेकर जिले सहित प्रदेश में कई केंद्रों का सर्वे हो चूका है।

योजना से ये फायदे होंगे 

 1- नौनिहाल को केंद्र पर बैठने का समय बढ़ेगा। वहीं अभी बच्चे एक घंटे से ज्यादा इन केंद्रों पर नहीं टिक पाते हैं।

 2- स्मार्ट टीवी से बच्चों के गीत, कविताएं, अंग्रेजी और हिंदी वर्णमाला आदि    आसानी से सीखा सकते हैं।

 3- नंद घर योजना के माध्यम से जर्जर हालत वाली आंगनबाड़ी केंद्र के भवन भी सुधर जाएंगे। 
 4- नौनिहालों को टीवी के माध्यम से सिखाने के बाद स्कूलों में जाने पर पढ़ाई में आसानी रहेगी।

2000 केंद्र इस योजना के तहत लेने हैं

महिला और बाल विकास विभाग की सहायक निदेशक कीर्ति राठौड़ ने बताया कि 2000 केंद्र इस योजना के तहत लेने हैं। फिर जो बचेंगे, उन्हें अगले चरण में शामिल किया जाएगा। इसको लेकर सर्वे का काम हो चुका है, आगे का काम बकाया हैं। बता दें कि सरकार ने इस योजना को नंद घर योजना का नाम दिया है।

चयनित केंद्रों पर रिनोवेशन, पेंट और बाल चित्रकारी

स्मार्ट टीवी लगाने से पहले चयनित केंद्रों का रिनोवेशन किया जाएगा। रेनोवेट होने के बाद उस पर पेंट होगा। इस तरह से केंद्र पूरी तरह से डवलप होने के बाद ही उसमें स्मार्ट टीवी लगाई जाएगी। स्मार्ट टीवी को चलाने के लिए केंद्र पर केबल कनेक्शन या फिर डिश टीवी एंटीना आदि भी लगाया जाएगा। ताकि बच्चों को स्मार्ट टीवी की पूरी सुविधा मिले और इसे देख - देख कर बच्चे भी पढ़ाई कर सके।






 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal