उदयपुर में कमजोर हो रहा है कोरोना


उदयपुर में कमजोर हो रहा है कोरोना

पॉजिटिविटी रेट और मृत्यु दर में आ रही है कमी

 
उदयपुर में कमजोर हो रहा है कोरोना
UT WhatsApp Channel Join Now

वैक्सीन का दिखने लगा असर

उदयपुर, 15 मई 2021 । राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोरोना नियंत्रण के लिए उठाए जा रहे सख्त कदमों के सकारात्मक नतीजे सामने आने लगे हैं। जिले में पिछले कुछ दिनों के आंकड़ों पर नजर डालें तो कोरोना संक्रमण की दर में कमी आई है और मृत्यु दर भी लगातार घट रही है। सख्त लॉकडाउन और जन जागरुकता की वजह से उदयपुर जिले में कोरोना संक्रमण नियंत्रित होता नजर आ रहा है।

जिला कलक्टर चेतन देवड़ा ने बताया कि जिला प्रशासन और कोरोना संक्रमण को रोकने में जुड़े समस्त विभागों के समन्वित प्रयासों से जिले में पिछले दिनों से कोरोना संक्रमण में कमी देखी जा रही है उन्होंने कहा है कि लोगों की जागरूकता और सतर्कता से जल्द ही कोरोना का संक्रमण नियंत्रित कर लिया जाएगा।

10 मई के बाद घटी पॉजिटिविटी रेट

चिकित्सा विभाग के आंकड़ों के अनुसार 10 मई को कुल 2775 सैम्पल लिए गए थे, जिनमें से 1014 कोरोना संक्रमित पाए गए। इस दिन कोरोना संक्रमण की दर 36.54 थी और 18 लोगों को कोविड की वजह से जान गंवानी पड़ी।  इसके बाद से लगातार कोरोना संक्रमण की दर में कमी देखी जा सकती है और कोरोना की वजह से जान गंवाने वाले लोगों की संख्या भी लगातार घट रही है।

ऐसे कमजोर हो रहा है कोरोना

चिकित्सा विभाग के आंकड़ों के अनुसार 10 मई को कोविड संक्रमण की दर यानी प्रति 100 सैम्पल में से कोरेाना पॉजिटिव की संख्या 36.54 थी। गत 11 मई को 4849 सैम्पल में से 1506 पॉजिटिव आए और इस दिन संक्रमण की दर 31.06 रह गई। 12 मई को 3175 सैम्पल में से 907 कोरोना पॉजिटिव आए और संक्रमण दर घटकर 28.57 पर आ गई। 13 मई को 3572 में से 997 कोरोना पॉजिटिव पाए गए और पॉजिटिविटी रेट 27.91 पर एवं  14 मई 2465 सेम्पल में से 688 कोरोना संक्रमित पाए गए और पॉजिटिविटी रेट 27.91 रह गई। वहीं 15 मई 3682 सेम्पल में से 957 कोरोना संक्रमित पाए गए और पॉजिटिविटी रेट 25.99 रह गई।

वैक्सीन का दिखने लगा असर

जिले में कोरोना वैक्सीन के भी सुखद परिणाम सामने आने लगे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार वेक्सीन की एक डोज के बाद भी कोविड संक्रमण की वजह से मृत्यु की आशंका काफी हद तक घट जाती है और दोनों डोज लगवाने पर तो बहुत कम मामलों में ही मरीज को अस्पताल जाना पड़ता है। एक भी डोज लगने के बाद यदि कोई व्यक्ति संक्रमित हुआ है तो उसे आईसीयू या वेंटीलेंटर की बहुत कम मामलों में आवश्यकता पड़ी।  

लोग हो रहे हैं जागरूक

जिला कलक्टर देवड़ा ने बताया कि जिले में वेक्सीनेशन की गति बढ़ने के साथ ही कोरोना संक्रमण की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या भी घट रही है। वेक्सीन को लेकर जागरूकता के चलते लोग वेक्सीन लगवाने के लिए आगे आ रहे हैं। कोरोना जागरुकता अभियान का भी असर देखने को मिल रहा है। लोग मास्क लगाने और सामाजिक दूरी को लेकर पहले से ज्यादा सतर्क हुए हैं। सख्त  लॉकडाउन के चलते भी संक्रमण फैलने की आशंका कम हुई है। उन्होंने जिलेवासियों से आह्वान किया है कि कोरोना को हराने के लिए प्रशासन का सहयोग करें और कोरोना प्रोटोकॉल की अनुपालना के साथ-साथ सरकार के निर्देशों पर लगाई गई पाबंदियों का पालन करें। धैर्य व अनुशासन से ही कोरोना को हराना संभव होगा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal