अब 9 बजे ही बंद हो जायेंगे बाजार, नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से

अब 9 बजे ही बंद हो जायेंगे बाजार, नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से 

चित्तोड़गढ़, आबूरोड में भी नाइट कर्फ्यू लेकिन राजसमंद में नहीं, वजह कहीं उपचुनाव तो नहीं ?

 
अब 9 बजे ही बंद हो जायेंगे बाजार, नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से

कोरोना की दूसरी लहर से बचाव के लिए कड़े कदम ज़रूरी 

उदयपुर 31 मार्च 2021।  राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश को कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से बचाने के लिए सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा की विगत दिनों में कोविड प्रोटोकॉल की पालना में हुई लापरवाही के कारण कोरोना के केस तेज़ी से बढे है।  इस के मद्देनज़र कोविड गाइडलाइन की पालना न करने पर सख्त कार्यवाही करने, नाइट कर्फ्यू का समय बढ़ाने सहित अन्य पाबंदिया पुनः लागू करने के निर्देश दिए।  

नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से

जिन नगरीय क्षेत्रो उदयपुर, जयपुर, जोधपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, कोटा, सागवाड़ा और कुशलगढ़ में रात 11 बजे से नाइट कर्फ्यू लगा हुआ है। अब इन क्षेत्रो में नाइट कर्फ्यू का दायरा बढ़ा कर रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक कर दिया गया है।  साथ ही इन क्षेत्रो में अब बाजार रात्रि 10 बजे के स्थान पर एक घंटे पूर्व 9 बजे ही बंद हो जायेंगे। 

चित्तोड़गढ़, आबूरोड में भी नाइट कर्फ्यू लेकिन राजसमंद में नहीं, वजह कहीं उपचुनाव तो नहीं ?
कोरोना के बढ़ते केस के मद्देनज़र अब चित्तोड़गढ़ और आबूरोड नगरीय क्षेत्र में भी रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है।  जबकि राजसमंद में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है, और राजसमंद में नाइट कर्फ्यू नहीं लगाया गया है।  कहीं इसकी वजह अप्रैल माह में होने वाले राजसमंद विधानसभा सीट पर होने वाला उपचुनाव तो नहीं ? जहाँ प्रदेश में सरकार एक तरफ कोविड गाइडलाइन की पालना हेतु सख्ती दिखा रही है वहीँ राजसमंद में चुनाव प्रचार में बड़े बड़े नेताओ की रैली और चुनाव प्रचार निर्बाध रूप से जारी है।  ऐसे में चुनाव के चलते राजसमंद में कोरोना का बड़ा धमाका हो जाए तो आश्चर्य नहीं होना चाहिए। 
चुनाव लोकतंत्र का आधार है। चुनाव होने चाहिए और अवश्य होने चाहिए लेकिन साथ हो कोविड प्रोटोकॉल की पालना भी सख्ती से होनी चाहिए। बड़े बड़े नेताओ की रैलियों, रोड शो और शक्ति प्रदर्शन हेतु जमा की गई भीड़ को रोका जा सकता है। एक तरफ सरकार और प्रशासन बाजार, सावर्जनिक स्थल और पर्यटन स्थलों पर जमा होने वाली भीड़ को लेकर चिंतित है और पाबंदिया लगाने को आतुर है वहीं दूसरी तरफ राजनैतिक दबाव के चलते बड़े नेताओ की रैलियों, प्रदर्शनो में किराये पर जमा की गयी भीड़ को नियंत्रण करने में लगभग नाकाम है। 

जबकि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सचिव सिद्धार्थ महाजन ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति तथा वेक्सिनेशन के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण दिया।  उन्होंने बताया की प्रदेश में एक्टिव केसेज़ की संख्या बढ़कर 8155 हो गई है। केस डबलिंग टाइम भी घटकर 312 दिन हो गया है।  तथा पाोजिटिविटी रेट 3 से 9 मार्च के सप्ताह में 1.21 प्रतिशत थी जो बढ़कर 24 मार्च से 30 तक 3.16% हो गई है।  हमारे जिले की बात की जाए यहाँ भी पोजिटिविटी का प्रतिशत 5.28 है जबकि कल बढ़कर 8.58% हो गया था और परसो 6.87% था।     
  

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal