उदयपुर में कोरोना वेक्सीनेशन की तैयारियां की कवायद

उदयपुर में कोरोना वेक्सीनेशन की तैयारियां की कवायद 

कोरोना वेक्सीनेशन की तैयारियों को लेकर टास्क फोर्स समिति की बैठक

 
उदयपुर में कोरोना वेक्सीनेशन की तैयारियां की कवायद
कलक्टर ने राज्य सरकार के निर्देशानुसार सम्पूर्ण जिले में वेक्सीनेशन की प्रक्रिया पूर्ण करवाने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ टास्क फोर्स टीम के सदस्यों को महत्वपूर्ण निर्देश दिए।

उदयपुर, 03 जनवरी 2021। जिले में कोरोना वेक्सीनेशन की तैयारियों को लेकर रविवार को जिला कलेक्टर चेतन देवड़ा की अध्यक्षता में टास्क फोर्स समिति की एक आवश्यक बैठक आयोजित की गई। कलक्टर ने राज्य सरकार के निर्देशानुसार सम्पूर्ण जिले में वेक्सीनेशन की प्रक्रिया पूर्ण करवाने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ टास्क फोर्स टीम के सदस्यों को महत्वपूर्ण निर्देश दिए।

कलक्टर ने टीकाकरण बूथ के फिजिकल वेरिफिकेशन, माईक्रो प्लान एवं उसके रिव्यू, कोल्ड चेन पोईंट, कोल्ड चेन पोईन्ट के अतिरिक्त वैक्सिनेशन सत्र की स्थिति में एवीडी, प्रत्येक वैक्सिन सत्र के लिये मुख्य सचिव के पत्रानुसार वैक्सिनेशन ऑफिसर एवं चार अन्य वैक्सिनेशन ऑफिसर की लाइन लिस्ट, उनका प्रशिक्षण आयोजित करने (वैक्सिनेशन ऑफिसर प्रथम पुलिसकर्मी ही होगा), प्रत्येक तीन से पांच वैक्सिनेशन सत्र पर सुपरवाईजर का गठन करने 5 जनवरी तक दलों का गठन करने, 10% आरक्षित दलों का गठन करने, सेशन साईट का अंतिम चयन, स्थानान्तरित हुये कार्मिकों की सूची बनाने जिसे कोविन् से नाम हटाया जा सके, स्थानान्तरित होकर आये कार्मिकों को कोविन पर अपडेट करवाने, वैक्सिनेशन सत्र हेतु लाल कलर में ग्लोसी फ्लेग्स (नमूना संलग्न) लगवाले, प्रत्येक वैक्सिनेशन सत्र हेतु एईएफआई किट एवं एईएफआई रजिस्टर बनवाने, खण्ड स्तर पर कन्ट्रोल रूम स्थापित करने जिसमें वैक्सिनेशन के समय एक विशेषज्ञ चिकित्सक आवश्यक रूप से उपस्थित रहे तथा ग्राम स्तरीय निगरानी दलों को सक्रिय करने सहित आदि अन्य आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

कलक्टर ने जिले के सभी वेक्सिनेशन बूथ सेशन साइटों का शत् प्रतिशत भौतिक सत्यापन उपखण्ड अधिकारी स्वयं अथवा तहसीलदार, विकास अधिकारी द्वारा संबंधित खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी मनोनीत वरिष्ठ अथवा चिकित्सा अधिकारी के साथ दो दिवस में सुनिश्चित करते हुए 5 जनवरी की सायं 5 बजे अनिवार्य रूप से रिपोर्ट भिजवाने को भी निर्देशित किया।

बीटीएफ की बैठक आयोजित कर तैयारियों के दे अंजाम

साथ ही कलक्टर ने निर्देश दिए कि ब्लॉक स्तर पर सभी उपखण्ड अधिकारी ब्लॉक टास्क फॉर्स (बीटीएफ) की बैठक 5 जनवरी तक आवश्यक रूप से आयोजित करेगें जिसमें पुलिस विभाग को भी शामिल करते हुये वैक्सिनेशन के संबंध में तैयारियों की समीक्षा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी।

तीन से पांच बूथों पर एक सूपरवाईजर नियुक्त करने के निर्देश 

कलक्टर ने यह भी निर्देश दिए कि संबंधित खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी से वैक्सिनेशन बूथ की सूची प्राप्त कर प्रति तीन से पांच बूथों पर एक सूपरवाईजर नियुक्त करें जो संबंधित सैक्टर का चिकित्सा अधिकारी, महिला बाल विकास अधिकारी, ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी, नायब तहसीलदार, तहसीलदार, विकास अधिकारी को किया जा सकता है।

ये रहे मौजूद

बैठक में जिला परिषद सीईओ डॉ. मंजू, एडीएम सिटी संजय कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल स्वरूप् मेवाड़ा चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. जेड.ए.काजी, आरएनटी प्राचार्य डॉ. लाखन पोसवाल, एमबी अधीक्षक डॉ. आर.एल. सुमन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश खराड़ी, आयुर्वेद उपनिदेशक डॉ. जिनेन्द्र पाठक, डॉ. हारून रशीद (होम्योपैथी), डॉ. अंकित जैन, डॉ. अक्षय व्यास, मुदित माथुर, सुरेश परमार, प्रताप सिंह आदि मौजूद रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal