फ्री मोबाइल पाकर महिलाओं के चेहरे पर दिखी खुशी

फ्री मोबाइल पाकर महिलाओं के चेहरे पर दिखी खुशी

साथ ही उनके परिवार के सदस्यों में भी दिखा उत्साह

 
FREE SMARTPHONE

महिलाओं को डिजिटल क्रांति से जोड़ने के लिए राजस्थान में इंदिरा गांधी फ्री स्मार्टफोन योजना गुरूवार 10 अगस्त से शुरू हो गई है। योजना के पहले चरण में 40 लाख महिलाओं को मोबाइल बांटने का लक्ष्य रखा है। सीएम गहलोत ने योजना के तहत महिलाओं को मुफ्त स्मार्टफोन देने की शुरुआत जयपुर के बिरला सभागार से की। जयपुर से वर्चुअली हुए इस आयोजन में यहां सुखाड़िया रंगमंच से महिलाएं जुड़ीं।  

उदयपुर में जिला स्तरीय शुभारंभ समारोह सुखाड़िया रंगमंच पर श्रम सलाहकार बोर्ड के उपाध्यक्ष राज्यमंत्री जगदीशराज श्रीमाली, सम्भागीय आयुक्त राजेन्द्र भट्ट, जिला कलक्टर अरविन्द पोसवाल, महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के जिला संयोजक पंकज शर्मा, पूर्व विधायक त्रिलोक पूर्बिया, समाजसेवी विवेक कटारा के आतिथ्य में हुआ। कार्यक्रम में बहुप्रतीक्षित स्मार्टफोन पाकर महिलाओं के चेहरे खिल उठे। उनकी प्रसन्नता का कोई ठिकाना नहीं रहा। महिलाओं ने राज्य सरकार का खूब-खूब आभार जताया।

मिला फ्री मोबाइल, चेहरे पर आई मुस्कान

महिलाओं को जब स्मार्टफोन मिले तो उनके चेहरे की खुशी देखने लायक थी। जैसे ही कार्यक्रम शुरू हुआ तो महिलाएं अपनी बारी के इंतजार में नजर आईं। टाउनहॉल के सुखाड़िया रंगमंच पर इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना की शुरुआत के पहले चरण में मोबाइल वितरण का कार्यक्रम आयोजित हुआ। सुखाडिया रंगमंच में जुटी लाभार्थी महिलाओं व उनके परिवार के सदस्यों में उत्साह था। इस मौके पर आई महिलाओं में से कुछ से जिला कलेक्टर अरविंद कुमार पोसवाल ने बातचीत भी की। शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों से भी महिलाएं आई।

इंदिरा गांधी स्मार्टफोन योजना का उद्धाटन करते हुए गहलोत ने कहा की आज एक बजट घोषणा पूरी होने जा रही है। इससे स्पष्ट होता है कि हम केवल वादा नहीं करते निभाते भी हैं। सीएम ने कहा कि दुनियाभर में सेमीकंडक्टर चिप की कमी है इस कारण मोबाइल नहीं बन रहे हैं। इस वजह से अलग-अलग फेज में मोबाइल दिए जाएंगे। पहले फेज में 40 लाख महिलाओं को मोबाइल बांटने का लक्ष्य रखा है। वहीं, अगले फेज में 80 लाख मोबाइल दिए जाएंगे।

इस अवसर पर राज्य मंत्री जगदीशराज श्रीमाली, संभागीय आयुक्त राजेंद्र भट्ट, कलेक्टर पोसवाल, महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के जिला संयोजक पंकज शर्मा, समाजसेवी विवेक कटारा, नगर निगम आयुक्त मयंक मनीष और जिला परिषद सीईओ सलोनी खेमका मौजूद रहे।

जिला कलक्टर ने किया लाभार्थियों से संवाद

कार्यक्रम के दौरान जिला कलक्टर पोसवाल ने कई लाभार्थी महिलाओं से संवाद किया। इस दौरान महिलाएं फुले नहीं समा रही थी। महिलाओं ने कलक्टर से कहा कि वे मोबाइल पाकर बेहद खुश हैं और अब अपने कई कार्य आसानी से इसके माध्यम से कर सकेंगी।

खिलखिलाकर बोली लाभार्थी राधा - ऑनलाइन फॉर्म भर सकूँगी, बच्चों की पढ़ाई भी होगी आसान

इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना की लाभार्थी उदयपुर की सविना निवासी राधा बुनकर ने कहा कि मोबाइल पाकर अच्छा लग रहा है, इससे अब वे बहुत सारे कार्य कर सकेंगी, मोबाइल के लिए राज्य सरकार ने जन आधार ई वॉलेट में 6800 रुपए जमा किये, इसमें 6125 का मोबाइल खरीद और 675 रुपए की सिम खरीदी, ऐसे में मोबाइल बिल्कुल निशुल्क मिला। अब वह मोबाइल से ऑनलाइन फोरम भर सकेंगी, पेमेंट कर सकेंगी, गूगल क्लास से उनके बच्चे पढ़ाई कर सकेंगे और साथ ही सोशल मीडिया का उपयोग भी कर सकेंगे।

अब ऑनलाइन भी पढ़ कसेगी सुरभि

उदयपुर शहर की निवासी कॉलेज छात्रा सुश्री सुरभि लोहार ने कहा कि मोबाइल पाकर वह बहुत खुश है, मोबाइल मिलने से वह ऑनलाइन क्लास लेकर अपनी पढ़ाई को और बेहतर ढंग से कर पाएगी, साथ ही ऑनलाइन बिजली और पानी के बिल भरने में भी सुविधा होगी। उन्होंने मोबाइल फोन के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया है।

प्रथम चरण में डेढ़ लाख महिलाओं को मिलेंगे मोबाइल

डीओआईटी की संयुक्त निदेशक शीतल अग्रवाल ने बताया कि प्रथम चरण में जिले की 1 लाख 52 हजार महिलाओं को मोबाइल वितरित किये जाएंगे। इसके लिए उन्हें आवश्यक दस्तावेज़ लेकर निकटवर्ती कैंप में पहुंचना होगा। यहाँ डॉक्युमेंट वेरीफिकेशन के बाद ई वॉलेट में 6800 रुपए की राशि स्थानांतरित होगी और उन्हें कैंप में ही मोबाइल फोन और सिम कार्ड दिया जाएगा। इस प्रकार से लाभार्थी महिला कैंप में आकर सीधे मोबाइल प्राप्त कर ही घर लौटेंगी।

 



 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal