मकर सक्रांति के अवसर पर उदयपुर में एक डोर में 700 उड़ी पतंगे

मकर सक्रांति के अवसर पर उदयपुर में एक डोर में 700 उड़ी पतंगे 

मकर सक्रांति के अवसर पर शहर में हुए विविध आयोजन

 
makar sakranti

अब्दुल कादिर ने एक डोर में उड़ाई 700 पतंगे, अंतररष्ट्रीय पतंगबाज़ अब्दुल मलिक की स्मृति में भी उड़ी विशाल पतंगे

उदयपुर 14 जनवरी 2022 । मकर सक्रांति के मौके पर उदयपुर में एक युवा अब्दुल क़ादिर ने फतहसागर किनारे पतंगबाजी का अनोखा हुनर दिखाया। अब्दुल कादिर ने एक डोर में एक साथ 700 पतंगें उड़ाई। अंतरराष्ट्रीय पतंगबाज स्वर्गीय अब्दुल मालिक की स्मृति मे कोरोना मुक्त भारत 2022 की कामना और आज़ादी के 75 साल के अमृत महोत्सव के सन्देश वाली पतंगे सुहेल अहमद ने आसमान में लहराई। 

अब्दुल क़ादिर ने पतंगबाजी का अपने आप में यह रिकॉर्ड बनाया है। एक डोर में कादिर ने  700 अलग-अलग रंग बिरंगी पतंगें उड़ाई। उन्होंने पतंग के माध्यम से लोगों को वैक्सीनेशन के लिए भी जागरूक किया। अब्दुल कादिर पिछले 20 सालों से पतंगबाजी करते हैं। इस बार 7 से 8 मीटर की एक अलग पतंग बनाई गई, जो लोगों को मास्क लगाने की संदेश दे रही थी। इससे पूर्व मकर सक्रांति के अवसर पर भी अब्दुल ने 500 पतंग उड़ाई थी।

इससे पूर्व शहर में सुबह से ही आसमान में पतंगों ने अपना डेरा डाला हुआ था। लोग बढ़-चढ़कर पतंगबाजी करते नजर आए। शहर में सुबह से ही लोग इस पर्व को मनाने में जुट नजर आए। शहर के मंदिरों में भगवान के दर्शनों को लेकर भक्त दर्शन के लिए कल सुबह से ही पहुंचे। महाकालेश्वर मंदिर, बोहरा गणेश जी और जगदीश मंदिर में प्रभु के दर्शन के लिए भक्त पहुंचते रहे। यहां भी गायों और निर्धन व्यक्तियों को दान पुण्य किया गया।

शताब्दी वर्ष समारोह के अन्तर्गत खेल दिवस का आयोजन

विद्या प्रचारिणी सभा, भू.नो. संस्थान के शताब्दी वर्ष समारोह के अन्तर्गत खेल दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि डॉ.महेन्द्र सिंह आगरिया ने कहा कि खेलों को खेल की भावना से ही खेला जाना चाहिए और खेल शारीरिक विकास के साथ सामूहिक भावना उत्पन्न करता है।
 

makar sakranti

अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए कार्यक्रम के अध्यक्ष मोहब्बत सिंह राठौड़ ने कहा कि खेलों से व्यक्ति का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित होता है। विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित कैप्टन गजेन्द्र सिंह बान्सी ने भी ऐसी खेल प्रतियोगिताओं की सराहना की और वर्तमान में खेलों की आवश्यकता पर बल दिया। संस्थान के शताब्दी वर्ष को ध्यान में रखते हुए उपस्थित अतिथियों, संकाय सदस्य एवं विद्यार्थियों द्वारा

खेल दिवस के अवसर पर भू.नो. संस्थान की विभिन्न शैक्षणिक इकाईयों के संकाय सदस्य एवं विद्यार्थियों के लिए विविध प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया जिसमें  वॉलीबॉल आदि प्रतियोगिताओं में विद्यार्थियों एवं संकाय सदस्यों ने उत्साह के साथ भाग लिया।

मकर सक्रांति का विशेष आयोजन सितोलिया, कुर्सी रेस, चम्मच रेस आदि भी उत्साह के साथ खेले गये। रस्सा-ंकशी प्रतियोगिता में भू.नो.पी.जी. महाविद्यालय पुरुष व महिला वर्ग दोनों में विजेता
रहा। इस अवसर पर राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर के स्पोर्टस बोर्ड के सेवानिवृत अध्यक्ष डॉ. महेन्द्र सिंह मान्यास एवं विद्या प्रचारिणी सभा के कार्यकारिणी सदस्य एवं विभिन्न इकाईयों के प्रधान एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे। उक्त जानकारी कार्यक्रम के आयोजक एवं शिक्षा संकाय के अधिष्ठाता डॉ. भूपेन्द्र सिंह चौहान ने दी।

मकर संक्रान्ति पर गौशाला में किया दान

makar sakranti


उदयपुर। जैनाचार्य देवेन्द्र महिला मण्डल की सदस्याओं ने आज गौशाला में जा कर गायों को चारा एवं गुड़ खिलाकर मकर संक्रान्ति पर्व मनाया। मंत्री ममता रांका ने बताया कि इस गौशाला में 340 गायों थी जहाँ  पर गायों को हरा चारा खिलाया एवं पिछले 30 वर्षो से इनकी सेवा करने वाले लोगों को 15 किलो गुड़ प्रदान किया।

महाराणा प्रताप युवा सेना ने मनाया मकर संक्रांति पर्व

महाराणा प्रताप युवा सेना द्वारा आज मकर संक्रांति पर्व के पावन अवसर पर चित्रकूट नगर , रामनगर , महादेव विहार , कालीमंगरी आदि विभिन्न स्थानों पर गायों के लिये रजगा, बंदर एवं कुत्तों के लिये बिस्किट, छोटे गरीब बच्चों के लिये तिल के लड्डू आदि सेवा कार्य किये गये !

इस सेवा कार्य में प्रमोद सिंह राव (जिलाध्यक्ष उदयपुर शहर), दशरथ सिंह राव (जिलाध्यक्ष उदयपुर देहात), दिविज्ज भट्ट, पुष्कर वैष्णव (अम्बेरी प्रमुख), चतुर सिंह राव, हेमंत सालवी, रोहित, आदि उपस्थित थे

प्रयास संस्थान के बच्चों के साथ मनाई मकर संक्राति 

makar sakranti

सकल जैन समाज की प्रतिनिधि संस्था श्री महावीर युवा मंच संस्थान महिला प्रकोष्ठ की ओर से शुक्रवार को प्रयास संस्थान निराश्रित गृह के बच्चों के साथ मकर संक्राति पर्व मनाया गया। 

महिला प्रकोष्ठ अध्यक्षा विजयलक्ष्मी गलूंडिया ने बताया कि इस अवसर पर बच्चों को भोजन, मास्क, कपडे वितरित किए गए। साथ ही बैलून से सजावट कर संक्रांति पर्व मनाया। सर्दी के बचाव के लिए 50 कम्बल भी वितरित किए। नमस्कार महामंत्र जाप द्वारा विश्व शांति एवं उत्तम स्वास्थ्य की प्रार्थना की। इस दौरान भारती जैन, पुष्पा पोरवाल, आजाद गलूंडिया, दीपाली गलूंडिया एवं प्रयास संस्थान के संचालक राजा भण्डारी आदि मौजूद रहे। 

भव्य भारत सेना द्वारा जरूरतमंदों को बांटी कम्बले

सर्दी में कंपकपाते लोगों की ओर मदद का हाथ बढ़ाते हुए मकर संक्रांति से पूर्व भव्य भारत सेना की ओर से गरीब एवं जरूरतमंदों को कंबल बांटे गए। सेना के संस्थापक धर्मेंद्र सिंह रावल ने बताया कि प्रतीक सिंह राजपूत, भंवर सिंह राठौड़, जितेंद्र सिंह रावल, सोहेल खान, चिराग शर्मा, दिनेश मेघवाल सहित टीम के लोगों ने रेल्वे स्टेशन, बस स्टेशन शहर के रेन बसेरा और फुटपाथ पर सो रहे ऐसे गरीब और जरूरतमंदों को कंबल वितरित किए जिनके पास वास्तविकता में गर्म कपड़े या ओढ़ने के लिए कंबल नहीं थे।

makar sakranti

रावल ने बताया कि मकर सक्रांति पर दान पुण्य को लेकर हिंदू संस्कृति में काफी महत्व है। ऐसे में मकर सक्रांति से पूर्व देर रात को इस पुण्य काम की शुरुआत की गई है, और अगले 7 दिन तक शहर के अलग-अलग इलाकों में फुटपाथ पर सोने वाले जरूरतमंदों को भव्य भारत सेना द्वारा कंबल वितरित किए जाएंगे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal