स्टूडेंटस के लिए लॉन्च की गई 'APAAR' आईडी

स्टूडेंटस के लिए लॉन्च की गई 'APAAR' आईडी

छात्रों के लिए आधार जैसा काम करेगी APAAR ID

 
APAAR ID

उदयपुर 13 फरवरी 2024। हमारे देश में हर एक व्यक्ति की पहचान के लिए एक जरूरी कार्ड है, यानी आधार कार्ड है। ठीक इसी कार्ड की तर्ज पर अब राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) ने वन नेशन वन स्टूडेंट आईडी यानी APAAR लॉन्च किया है। 

क्या है APAAR?

'ऑटोमेटेड परमानेंट अकादमिक अकाउंट रजिस्ट्री' (आपार APAAR) यह एक एजुकेशन इकोसिस्टम रजिस्ट्री या एडुलॉकर है। ये पूरी तरह से आधार कार्ड की तरह होगा। ये 12 नंबरों का एक यूनिक कोड होगा। सभी स्टूडेंट्स का यूनिक आईडी होगा और ये स्कूल बदलने पर भी वही रहेगा। इस यूनिक आईडी से किसी भी स्टूडेंट की पूरी जानकारी निकाली जा सकती है।

DD

APAAR का रजिस्ट्रेशन

APAAR के रजिस्ट्रेशन के लिये स्टूडेंट का नाम, उम्र, जन्म तिथि, लिंग और एक फोटो सहित बेसिक जानकारी होनी चाहिए। इस जानकारी को उनके आधार कार्ड से वेरिफिकेशन किया जाएगा। स्टूडेंट्स को एक परमिशन लेटर पर साइन करने की जरूरत होगी और वे APAAR ID बनाने के लिये शिक्षा मंत्रालय के साथ अपने आधार नंबर तथा सेंसस की जानकारी को मानने या नहीं मानने का ऑप्शन चुन सकते हैं। माइनर को इस रजिस्ट्रेशन के लिए माता-पिता को परमिशन लेटर पर साइन करना होगा, जिससे मंत्रालय UIDAI के साथ रजिस्ट्रेशन के लिये स्टूडेंट के आधार नंबर का उपयोग कर सके।

इस आईडी से एक डिजीलॉकर इकोसिस्टम भी बन पाएगा जिसके जरिए बच्चे अपने रिपोर्ट कार्ड्स, हेल्थ कार्ड्स, ओलंपियाड या स्पोर्ट्स अचीवमेंट्स संबंधित सर्टिफिकेट, कल्चरल एक्टिविटीज से जुड़े सर्टिफिकेट या डेटा को एक जगह रख पाएंगे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal