सरकारी स्कूली बच्चों को दिया जायेगा व्यक्तित्व विकास का प्रशिक्षण

सरकारी स्कूली बच्चों को दिया जायेगा व्यक्तित्व विकास का प्रशिक्षण

रोटरी क्लब मीरा का अभिनव प्रयोग ”सरल“ के रूप में धानमण्डी स्कूल से शुरू

 
rotary meera

उदयपुर। रोटरी क्लब मींरा ने सरकारी स्कूल के कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों को जीवन में स्वयं के व्यक्ति को विकसित करने एवं आत्मनिभर बनानें हेतु व्यक्तित्व विकास का प्रशिक्षण देने वाले सर्टिफिकेशन प्रोग्राम ”सरल“ का आज धानमण्डी स्थित महात्मा गांधी सी.सै. अग्रेजी माध्यम स्कूल में लॉन्च कर इसकी आज से शुरूआत की।  

इस अवसर पर क्लब अध्यक्ष संगीता मूंदड़ा ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के तहत क्लब की 9 ट्रेनर स्वयं संगीता मूंदड़ा, अंजली हिंगड़, अर्चना शक्तावत, आस्था मुर्डिया, हर्षा कुमावत, नवनीत कौर, सोनिया केसवानी, सिद्दीका हुसैन प्रत्येक शनिवार को सरकारी विद्यालय के कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों को 8 सेशन में प्रशिक्षण देकर उसे इस तरह से काबिल बना दिया जायेगा कि वह अपने भीतर छिपी प्रतिभा को बाहर निकाला जायेगा। यदि कोई बालक इन 8 सप्ताह में भी पूर्णतया प्रशिक्षित नहीं हो पाता है तो उसे अलग से सेशन लेकर उसे पूर्ण किया जायेगा लेकिन उसे अलग नहीं छोड़ा जायेगा।    

मूंदड़ा ने बताया कि वर्ष के दौरान विभिन्न सरकारी स्कूलों के 1500 बच्चों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा है। इस प्रशिक्षण काल के दौरान बालक का ऑल राउण्ड व्यक्तित्व विकास किया जायेगा ताकि वह बोलने, तर्क करनें, उसकी सोच, उसमें नेतृत्व क्षमता का विकास किया जायेगा ताकि वह जीवन में किसी भी क्षेत्र वकालात, राजनीति, शिक्षा सहित अन्य में जायें तो अन्य बच्चों से पिछड़ें नहीं। यह प्रशिक्षण उस बालक में इतना आत्मविश्वास भर देगा कि उसके जीवन को एक नई दिशा मिलेगी। इसमें प्रशिक्षण देने वाले सभी सर्टिफाईड ट्रेनर है। बच्चों में मानिसक स्वास्थ्य को ले कर भी उसे प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रत्येक शनिवार को ढाई घंटे की क्लास लगेगी और प्रशिक्षण समाप्ति पर बाद में बच्चें को सर्टिफिकेट भी प्रदान किये जायेंगे।  

सरल एक व्यक्तित्व विकास कार्यक्रम है जो युवाओं को कौशल प्रदान करने और समग्र विकास लाने के दृष्टिकोण और मिशन के साथ युवाओं के लिए तैयार किया गया है। युवा पीढ़ी हर देश, संगठन या सभ्यता का भविष्य है। उनका विकास अंततः एक विकसित समाज और देश का निर्माण करेगा।

इस उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए हमने इंटरैक्टिव प्रशिक्षण और करके सीखने पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक कार्यक्रम विकसित किया है। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम बच्चों में तनाव, दबाव, क्रोध को संभालने और ध्यान केंद्रित करने और स्मरण शक्ति और एकाग्रता बढ़ाने के लिए मार्गदर्शन देगा।  

समारोह में महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के जिला संयोजक पंकज शर्मा, स्थानीय मनोनीत पार्षद फिरोज अहमद शेख, चिंतामणी कोचिंग क्लासेस के निदेशक एन.के.नागर, विधायक प्रतिनिधि दीपक वसीटा, विद्यालय की प्राचार्या रिचा रूपल व्यास, रोटरी मींरा की टीच डायरेक्टर अमृतासिंह राव के अलावा प्रीति सोगानी, राजकुमारी गांधी, अर्चना व्यास, सीमा गुप्ता ,डॅा. विमला धाकड़, मंजू सिंघवी, प्रियंका कोठारी, सााधना कोठारी सहित विद्यालय के शिक्षक मौजूद थे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal