उदयपुर की लाइफ स्टाइल पर बन रही है डॉक्यूमेंट्री

उदयपुर की लाइफ स्टाइल पर बन रही है डॉक्यूमेंट्री 

वैश्विक भाषाओं में तैयार ये डॉक्यूमेंट्रियां उन देशों के पर्यटकों को भी उदयपुर की तरफ आकर्षित करेंगी, जिनकी पहुंच नहीं बन पाई है

 
udaipur  travel

उदयपुर, 7 अकटूबर।  दाे साल पहले मानसून में उदयपुर, राजसमंद और बांसवाड़ा जिले में पर्यटन काे बढ़ावा देने के लिए विभाग ने देशभर से 5 ट्रैवल ब्लाॅगर्स काे बुलाया था। इन्हाेंने साेशल मीडिया प्लेटफाॅर्म पर मेवाड़ के पर्यटक स्थलों के वीडियाे, फाेटाे अपलाेड किए थे। नतीजा ये हुआ कि तब से जुलाई-अगस्त में पर्यटकों की संख्या 1 लाख पार रहने लगी है। हाल ही यूनाइटेड स्टेट्स (यूएस) का पर्यटक 6 महीने उदयपुर में ठहरा। उसने सिटी पैलेस में तलवार और चाकू बनाने का हमारा प्राचीन हुनर सीखा। इस पर शोध भी किया, जिसे सोशल मीडिया तक पहुंचाया। इसके बाद पर्यटन विभाग के पास जानकारी लेने 2-3 पर्यटक ऐसे भी पहुंचे, जो ट्रेवल डॉक्यूमेंट्री बनाते हैं।

विभाग इसे लेकसिटी के टूरिज्म में नए ट्रेंड की तरह देख रहा है, क्योंकि ये कंटेंट राइटर-क्रिएटर न सिर्फ कई हफ्ते-महीने शहर में रुकते हैं, बल्कि यहां के खान-पान, हैंडीक्राफ्ट, संस्कृति, हेरिटेज, टूरिस्ट प्लेस, लाइफ स्टाइल, इकाे टूरिज्म, साहित्य आदि विषयाें को अपने ढंग से देश-दुनिया के सामने पेश भी करते हैं।

ऐसी ही डॉक्यूमेंट्री के जरिए विभाग उदयपुर की मार्केटिंग की तैयारी में है। अधिकारियों का मानना है कि वैश्विक भाषाओं में तैयार ये डॉक्यूमेंट्रियां उन देशों के पर्यटकों को भी उदयपुर की तरफ आकर्षित करेंगी, जिनकी पहुंच नहीं बन पाई है। इसलिए इन यात्रा वृत्तचित्रों को आंकड़ों के साथ सामने लाएंगे।

विदेशाें में ट्रेवल डॉक्यूमेंट्री का ट्रेंड, पर्यटक इन्हीं से तय करते हैं सैर की जगह

विशेषज्ञ बताते हैं कि विदेशाें में लोग ट्रैवल डॉक्यूमेंट्री काे सबसे ज्यादा पढ़ना पसंद करते हैं। किसी भी देश या शहर में घूमने का प्लान इन डॉक्यूमेंट्री काे देखकर बनाते हैं। इस निर्णय का आधार सुरक्षा, बजट, सैर की जगहों के विकल्प होते हैं। अभी शहर में ट्रैवल डाॅक्यूमेेंट्री लिखने वालों ने बतौर पर्यटक आना शुरू किया है।

ये विभाग से यहां के इकाे टूरिज्म, लाइफ स्टाइल, कल्चर आदि के बारे में जानकारी ले रहे हैं। यह उस ट्रेंड की तरह है, जो विदेशों में काफी चलन में है। विभाग अब इन ट्रेवल डॉक्यूमेंट्री की मार्केटिंग करेगा। राजस्थान मिशन 2030 की बैठक में भी इसका सुझाव आया है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal