अनीमिया मुक्त राजस्थान के लिये अब मनाया जायेगा शक्ति दिवस

अनीमिया मुक्त राजस्थान के लिये अब मनाया जायेगा शक्ति दिवस

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास द्वारा माह के प्रथम मंगलवार को किया जायेगा आयोजन 

 
anmeaz free rajasthan

उदयपुर, 16 मई 2022। अनीमिया मुक्त राजस्थान कार्यक्रम के तहत अब बच्चो, किशोर-किशोरीयों, प्रजनन उम्र की महिलाओं, गर्भवती महिलाओं तथा धात्री माताओं में अनीमिया की दर कम करने के लिये प्रत्येक माह के पहले मंगलवार को शक्ति दिवस के रूप आयोजित किया जायेगा।

कार्यक्रम के तहत प्रत्येक आंगनबाड़ी केंद्रों, राजकीय विद्यालयों, उपस्वास्थ्य केंद्रों एवं सभी राजकीय चिकित्सा संस्थानो पर शक्ति दिवस का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रम के प्रभावी संचालन के लिये चिकित्सा विभाग द्वारा महिला एवं बाल विकास विभाग एवम् शिक्षा विभाग के समन्वय से शक्ति दिवस के दिन एनीमिया को लेकर गतिविधियां आयोजित की जाएगी जिसकी संपूर्ण मोनिटरिंग एवं क्रियान्वयन के लिये विभाग के मुखियाओं को जिम्मेदारी दी गई है। 

मुख्य चिकित्सा एवम स्वास्थ्य अधिकारी डॉ दिनेश खराड़ी ने बताया की शक्ति दिवस का मुख्य उदे्श्य समुदाय व लाभार्थियों में अनीमिया नियंत्रण के लिये स्क्रीनिंग, हिमोग्लोबीन की जांच, उपचार तथा अनीमिया के प्रति जागरूकता बढ़ाना है।

आंगनबाड़ी में ऐसे मनेगा शक्ति दिवस

डॉ खराड़ी ने बताया की आंगनबाड़ी केन्द्र में 6 माह से 59 माह तक के बच्चो, 5 से 9 वर्ष तक के स्कूल नही जाने वाले बच्चो, 10 से 19 वर्ष की स्कूल नही जाने वाली किशोरी बालिकाओं, 20 से 24 वर्ष की विवाहित महिलाओं, गर्भवती महिलाओं एवं धात्री महिलाओं को आशा द्वारा मोबिलाईज कर शक्ति दिवस के दिन केन्द्र पर ले जाया जायेगा।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा महिलाओ एवम् बच्चो को थकान, भुख ना लगना, नाखुनो का सफेद होना, जीभ पर सफेद परत का होना जैसे कूछ सामान्य लक्षणो के आधार पर एएनएम से माध्यम से अनिमिया की जांच करवाना सुनिश्चित करेगी। साथ ही आवश्यकता होने पर स्वास्थ्य केन्द्रो पर रेफर करेगी जिससे अनिमिया का तुरंत उपचार किया जा सके। शक्ति दिवस के दिन आंगनबाड़ी केन्द्रो पर स्थानिय स्तर पर उपलब्ध आयरन, विटामिन सी एवं पोषण से भरपूर खाद्य पदार्थो का प्रदर्शन कर उनके लाभ के बारे में बताया जाएगा।

स्कूलो में प्रत्येक कक्षा में बनायें जायेंगे अनीमिया मुक्त मॉनिटर

सभी स्कूलो की प्रत्येक कक्षा में अनिमिया मुक्त मॉनिटर बनायें जायेंगे जो अनीमिया रोग से बचाव के लिये प्रोत्साहित करेंगे। शक्ति दिवस पर कक्षा 1 से 5 तक के बालक-बालिकाओं को साप्ताहिक गुलाबी गोली खिलाई जायेगी। शिक्षको द्वारा अनिमिया के लक्षणो के आधार पर बच्चो की स्क्रीनिंग की जायेगी। कक्षा 6 से 12 के सभी किशोर-किशोरीयों को साप्ताहिक आईएफए की नीली गोली खिलाई जायेगी।

एएनएम द्वारा अपने क्षैत्र में स्थित प्रत्येक स्कूल का भ्रमण कर स्क्रीनिंग में पाये गये अनीमिक विद्यार्थियों की हिमोग्लोबिन की जांच की जाएगी तथा अनीमिक बच्चो की सूची अपने प्रभारी चिकित्सा अधिकारी प्रभारी से साझा करेगी। विद्यार्थियो के साथ प्रत्येक शक्ति दिवस पर एक घंटे का अनीमिया पर सत्र आयोजित किया जायेगा तथा अनीमिया रोग से बचाव के उपायो पर गतिविधियां आयोजित की जायेगी।

उपस्वास्थ्य केन्द्र एवं चिकित्सा संस्थानो इस तरह मनाए मनाएगे शक्ति दिवस

सीएमएचओ डॉ खराड़ी ने बताया की उपस्वास्थ्य केन्द्रो पर एएनएम द्वारा समस्त लक्षित लाभार्थियो की अनीमिया की स्क्रीनिंग करेगी तथा अनीमिक पाये गये लोगो की लाईन लिस्ट तैयार कर चिकित्सा अधिकारी प्रभारी को देगी साथ ही अनीमिक पाई गई महिलाओ/बच्चो का उपचार करवा लगातार फॉलोअप करेगी।

जिले के सभी जिला चिकित्सालयों, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रो एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो, हैल्थ वेलनेस सेंटर पर नियमित ओपीडी के अलावा मरीजों के हिमोग्लोबीन की जांच और उपचार किया जायेगा। गर्भवती महिलाओं एवं धात्री माताओं को आवश्यकता अनुसार आयरन की गोलियो का वितरण भी किया जायेगा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal