गांव-गांव, ढाणी-ढाणी पहुंचा कोरोना जागरूकता अभियान

गांव-गांव, ढाणी-ढाणी पहुंचा कोरोना जागरूकता अभियान

मुख्यमंत्री की अनूठी पहल को उदयपुरवासियों ने दिया पूरा सम्मान
 
गांव-गांव, ढाणी-ढाणी पहुंचा कोरोना जागरूकता अभियान
स्वास्थ्य के प्रति जागरूक दिखे लोग, अन्य लोगों को कर रहे प्रेरित

उदयपुर, 24 जून 2020। प्रदेश को कोरोना से बचाने एवं इसके लिए जनजागरूकता लाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पहल पर चलाए जा रहे कोविड-19 विशेष जागरूकता अभियान को उदयपुर जिले में पूरा सम्मान दिया गया है। गांव-गांव तक पहुंचे मुख्यमंत्री के संदेश से प्रेरित होकर जनजाति बहुल इस अंचल में लोग खुद स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होकर अन्य लोगों को भी प्रेरित कर रहे है।

जिला कलक्टर श्रीमती आनन्दी के निर्देशानुसार उदयपुर जिले के गांव-गांव, ढाणी-ढाणी तक प्रचार सामग्री के रूप में मुख्यमंत्री का संदेश और कोरोना जागरूकता का अभियान पहुंच चुका है। स्थानीय अधिकारियों-कार्मिकों सहित वहां के लोग भी कोरोना से बचने के लिए इस जागरूकता अभियान में अपनी पूर्ण भागीदारी निभा रहे है। सम्पूर्ण नगर निगम एवं नगर निकाय क्षेत्र, समस्त पंचायत समिति मुख्यालय व ग्राम पंचायत कार्यालय, राजस्व गांव, भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र, किसान सेवा केन्द्र, अन्नपूर्णा भण्डार, आंगनबाड़ी केन्द्र, सीएससी-पीएचसी, पुलिस चौकी, राजकीय विद्यालय सहित जिला, ब्लॉक एवं पंचायत स्तरीय समस्त राजकीय विभागों-कार्यालयों व अन्य संस्थाओं में यह प्रचार सामग्री चस्पा की गई है। इसका एक ही मुख्य उद्देश्य है लोग जागरूक हो, अपनी दिनचर्या में परिवर्तन लाए और कोरोना से बचे।

लोगों को आकर्षित कर रही बहुरंगी सामग्री

सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा जिले की समस्त ग्राम पंचायतों एवं नगर निकायों के लिए विशेष बहुरंगी प्रचार साहित्य तैयार कर भिजवाया गया है। आकर्षक स्लोगन के साथ कम शब्दों में तैयार किया गया प्रचार साहित्य ग्राम्यांचल में लोगों को आकर्षित कर रहा है। इस प्रचार साहित्य के तहत सनबोर्ड, सन पैक, 2 तरह के पोस्टर, स्टीकर तथा मुख्यमंत्री महोदय की विशेष अपील शामिल है। पेम्पलेट व अपील का वितरण एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व आशा सहयोगिनियों के द्वारा किया जा रहा है वहीं सन बोर्ड, सन पैक, पोस्टर व स्टीकर्स इत्यादि अन्य सामग्री प्रमुख सार्वजनिक स्थानों और सरकारी कार्यालयों में प्रदर्शित किए गई है।

ग्रामीणों क्षेत्रों में खासा उत्साह

गांव की चौपल, सार्वजनिक स्थान, मंदिर, अधिक जनभागीदारी वाले क्षेत्र, चाय की थड़ी, सब्जी की स्टॉल, राशन वितरण केन्द्र आदि प्रमुख स्थान जहां ग्रामीणों की आवाजाही अधिक रहती है, वहां प्रचार-प्रसार सामग्री के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इस विशेष अभियान में ग्रामीण जन भी पूर्ण भागीदारी निभा रहे है। यहां तक की ग्रामीणों ने अपने घर की दीवारों पर ये पोस्टर्स लगवाए है ताकि वे अपने पड़ोसियों एवं अन्य ग्रामीणों को जागरूक कर सके।

नरेगा श्रमिकों ने निभाई विशेष भूमिका

जिले की विभिन्न ग्राम पंचायतों में चल रहे मनरेगा कार्यों में भी कोरोना जागरूकता अभियान की विशेष छाप दिखाई दी। यहां कार्य कर रहे श्रमिकों ने प्रचार सामग्री को हाथों में पकड़कर एकजुटता के साथ इस बीमारी से बचने के लिए जागरूक रहने का संदेश दिया। सभी श्रमिकों ने इस अभियान में निहित संदेश को अपने घर, गांव एव समाजजनों तक पहुंचाने का बीड़ा भी उठाया।

जागरूकता रथ ने जमाया रंग

मुख्यमंत्री के इस अभियान के व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ ही जागरूकता संदेश को सम्पूर्ण क्षेत्र में प्रसारित करने के लिए जिले के विभिन्न ब्लॉक्स में जागरूकता रथ का संचालन भी किया जा रहा है। इस रथ के माध्यम से संबंधित ब्लॉक की समस्त ग्राम पंचायतों में पहुंचकर पेम्फलेट व अन्य प्रचार सामग्री वितरित की जा रही है तथा रथ के चारों तरफ पोस्टर्स, स्टीकर्स, बैनर आदि के माध्यम से भी जागरूकता संदेश को लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। रथ के उपर माइक सिस्टम के माध्यम से भी आमजन को जागरूक किया जा रहा है।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal