कोरोना की तीसरी लहर से बचनें बुजुर्ग व बच्चें सतर्क रहें

कोरोना की तीसरी लहर से बचनें बुजुर्ग व बच्चें सतर्क रहें

इनरव्हील क्लब उदयपुर द्वारा डाॅक्टर्स डे के अवसर पर आयोजित वार्ता

 
Innerwheel Club

इस अवसर पर क्लब द्वारा शहरी सामुदायिक केंद्र में फलदार पौधे भी लगाए गए

उदयपुर। इनरव्हील क्लब उदयपुर द्वारा डाॅक्टर्स डे के अवसर पर भुवाणा स्थित शहर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर कोविड-19 की तीसरी लहर से कैसे बचें विषय पर एक वार्ता आयोजित की गयी। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त डॉ जुल्फिकार काजी, विशिष्ट अतिथि के रूप में सीएमएचओ डॉ दिनेश खराड़ी भाग लिया।  

इस अवसर पर डाॅ. जुल्फिकार काजी ने कहा कि तीसरी लहर से बचने के लिए हर व्यक्ति खासकर बुजुर्ग व बच्चें सकर्त रहे। बुजुर्ग युवा खास तौर से बच्चों इस बात का ध्यान रखें सोशल डिस्टेंन्सिग, मास्क, सैनिटाइजर के साथ हो सकें तो ही आवश्यक होने पर घर से बाहर निकलें। इसके अलावा नियमित रूप से हेल्दी डाइट लें, योगा प्राणायाम एक्सरसाइज करें। मन में किसी प्रकार का भय ना रखें। नींबू पानी, हेल्दी ड्रिंक, विटामिन सी, जिंक का उपयोग करें और सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि कोविड-19 टेस्ट करवाएं, कॉवीशील्ड और कॉ-वैक्सीन दोनों ही टीके उपलब्ध है।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को टीके की दोनों डोज लेनी है। जिससे आपकी इम्यूनिटी बढ़ेगी और कोरोना महामारी से बचा जा सकेगा। डॉ. काजी ने कहा कि कुछ देशों में जहा वैक्सीनेशन पूर्ण हो गया है वहां तीसरी लहर आने की गुंजाइश नहीं के बराबर है। इसके साथ ही समाज में डॉक्टर्स के प्रति और सहिष्णुता के भाव रखें क्योंकि डॉक्टर चाहकर भी किसी मरीज के साथ अभद्र व्यवहार नहीं कर सकता। वर्तमान में परिजन दूर से ही मरीज को छोड़कर जा रहे हैं तब हॉस्पिटल में नर्सिंग स्टाफ की उनकी सेवा में कार्यरत है। डॉक्टर डे पर अभी डॉक्टर कोरोना वाॅरियर को सम्मानित कर इनरव्हील क्लब उदयपुर गौरव की अनुभूति कर रहा है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.दिनेश खराड़ी ने कहा कि वैक्सीनेशन से हम तीसरी लहर की आसानी से ब्रेक कर सकते हैं। नाक ,हाथ  कान को सैनिटाइज करते रहें तथा  मास्क को बार-बार मुख के पास से हटाए नहीं।

क्लब अध्यक्ष रश्मि पगारिया ने बताया कि इस अवसर पर कोरोना वारियर्स के रूप में इसी स्वास्थ्य केन्द्र पर चिकित्सकों स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ सोनल गुप्ता,डॉ आशा जैन, डॉ महेंद्र लौहार, डॉ अनिल जैन, मितुषी टांक का उपरना ओढ़ाकर एवं स्मृति चिन्ह प्रदान का सम्मान किया गया। क्लब की सचिव श्रीमती चंद्रकला कोठारी ने बताया कि कार्यक्रम के प्रारंभ में क्लब के प्रेजिडेंट रश्मि पगारिया ने स्वागत उद्बोधन दिया।

इस अवसर पर क्लब द्वारा शहरी सामुदायिक केंद्र में फलदार पौधे लगाए गए। क्लब के उपाध्यक्ष मंजू बोर्दिया ने अतिथियों ने हाथों नींम, पीपल, अमरूद, जामुन, पपीता आदि के पौधे लगवायें। इनके संरक्षण की जिम्मेदारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सोनल गुप्ता ने ली। 

क्लब की संरक्षिका श्रीमती शीला तलेसरा, आशा कुमावत ने बताया कि रश्मि पगारिया की नई टीम में पर्यावरण संरक्षण व स्वस्थ भारत अभियान से अपनी शुरुआत की कार्यक्रम में निवर्तमान अध्यक्ष अंजू माहेश्वरी, आशा तलेसरा, बेला जैन, मधु सूद, सीता पारीख, निराली जैन, कमला जैन आदि सदस्याएं मौजूद थी। कार्यक्रम का संचालन बेला जैन ने किया और धन्यवाद चंद्रकला कोठारी ने दिया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal