इसरो, डीआरडीओं द्वारा अर्जित की गई उपलब्धियों से रूबरू हुए आमजन

इसरो, डीआरडीओं द्वारा अर्जित की गई उपलब्धियों से रूबरू हुए आमजन

दो दिवसीय आत्मनिर्भर भारत-2021 सेमिनार एवं प्रदर्शनी का शुभारम्भ

 
इसरो, डीआरडीओं द्वारा अर्जित की गई उपलब्धियों से रूबरू हुए आमजन
यह अपनी तरह का पहला अवसर है जब इसमें भारत सरकार के इतने विभाग एक साथ भाग ले कर आत्मनिर्भर भारत के स्वरूप को और अधिक मजबूत और सक्रिय बनाने के लिये अहम भूमिका निभा रहे है 

उदयपुर। इसरो, डीआरडीओ,जीएसआई द्वारा हाल ही में अर्जित की गई उपलब्धियों से आमजन रूबरू हो कर अचम्भित हुए क्योंकि अब तक समाचार पत्रों या चैनलों के माध्यम से इन विभागों की कुछ ही जानकारियां हमें मिल पाती थी लेकिन इन विभागों द्वारा अर्जित की गई उपलब्धियों के बारें में जब बारीकी से जानकारी मिली तो हर कोई गर्व महसूस करने लगा। 

अवसर था होटल इन्दर रेजीडेन्सी में फ्रेन्ड्स एक्जीबिशन एण्ड प्रमोशन द्वारा आयोजित की गई दो दिवसीय आत्मनिर्भर भारत-2021 सेमिनार एवं प्रदर्शनी का। जिसका उद्घाटन जिला प्रमुख ममता कुंवर एवं यूसीसीआई चेयरमेन कोमल कोठारी ने किया। उद्घाटन के पश्चात दोनों अतिथियों ने प्रदर्शनी का अवलोकन कर उनके बारें में जानकारी हासिल की। इस प्रदर्शनी में भारत सरकार के महत्वपूर्ण उपक्रमों द्वारा देशहित में अर्जित की गई उपलब्धियों से आमजन अवगत हो रहे है।

इस अवसर पर आयोजित सेमिनार में भारत के अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण के यातायात और रसद सदस्य शशि भूषण शुक्ला ने आत्मानिभर भारत के अंतर्गत राष्ट्रीय जलमार्गों का सामाजिक और पर्यावरणीय सतत विकास पर, तारिका भानुप्रताप धायभाई ने स्किल विकास और उद्यमिता पर, मानव मधवानी ने उद्यमिता पर, जीएसआई के निदेशक सुरेश चंदर, राजस्थान के आत्म निर्भर भारत के अवसर और चुनौतियां विषय पर तथा उदयपुर डिवीजन के कृषि अधिकारी डॉ डीपी सिंह ने विकासशील व्यवसाय और देश के विकास में कृषि की भूमिका विषय पर अपने विचार रखें। 

एम. एम. भाास्कर ने बताया कि इस सेनिमार एवं प्रदर्शनी में डीआरडीओ, जीएसआई, इसरो, एनआरडीसी, इनलेण्ड वाटरवेज़ सहित अनेक विभाग एवं उपक्रम भाग ले रहे है। यह अपनी तरह का पहला अवसर है जब इसमें भारत सरकार के इतने विभाग एक साथ भाग ले कर आत्मनिर्भर भारत के स्वरूप को और अधिक मजबूत और सक्रिय बनाने के लिये अहम भूमिका निभा रहे है। 

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा प्रारम्भ किये गये आत्मनिर्भर कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य यही है कि हम सभी मिलकर शहर हीं नहीं वरन् ग्रामीण लोगों को भी आत्मनिर्भर के लिये जागरूक कर सकें, ताकि प्रत्येक व्यक्ति को आत्मनिर्भर बनने की प्रेरणा मिल सकें। प्रधानमंत्री का यहीं उद्देश्य है कि आमजन देश में बनी वस्तु के महत्व को समझकर इसकी भावना को पूरे देश में फैलायें। प्रदर्शनी मंगलवार को भी दिन प्रातः साढ़े दस बजे से शाम 5 बजे तक चलेगी। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal