उदयपुर बर्ड फेस्टिवल आयोजन को लेकर बैठक


उदयपुर बर्ड फेस्टिवल आयोजन को लेकर बैठक

उप वन संरक्षक हरिणी वी. ने बताया कि आगामी उदयपुर बर्ड फेस्टीवल 10 से 13 जनवरी 2019 तक आयोजित करने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया। इस दौरान आयोजित होने वाली फोटो वर्कशॉप में देशभर से अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने, बर्ड रेस व प्रदर्शनी, ऑन द स्पॉट फोटोग्राफी प्रतियोगिता के आयोजन हेतु पक्षी विशेषज्ञ निर्णायक मण्डल का पैनल तैयार करने, देशभर में आयोजित होने वाले पक्षी मेलों के आयोजन से संबंधित नामी व्यक्तियों को बुलवाने, आयोजन स्थलों पर ब

 
UT WhatsApp Channel Join Now
उदयपुर बर्ड फेस्टिवल आयोजन को लेकर बैठक

उदयपुर में आयोजित होने वाले बर्ड फेस्टिवल के सफल आयोजन को लेकर सोमवार को वन भवन सभागार में वृहद स्तरीय बैठक आयोजित हुई। बैठक में मुख्य वन संरक्षक राहुल भटनागर, आईपीएस मथारू, सेवानिवृत आईएएस एवं पर्यावरणविद् विक्रम सिंह चौहान, उप वन संरक्षक हरिणी वी., आर.के.जैन, सोहेल मजबूर, शैतानसिंह देवड़ा, पक्षी विशेषज्ञ विनय दवे, प्रदीप सुखवाल, मेजर दुर्गादास, श्रीमती भारती शर्मा, छाया भटनागर, चमन सिंह, शरद अग्रवाल, श्री सरदारिया, यूनिसेफ की सिंधु बिनुजीत, श्रीमती पुष्पा खमेसरा, पर्यावरणविद् डॉ. सतीश शर्मा, वी.एस.राणा, पी.एस.चूण्डावत, सुजान सिंह सोनी सहित अन्य पर्यावरण प्रेमी मौजूद रहे।

बैठक में हुए महत्वपूर्ण निर्णय

उप वन संरक्षक हरिणी वी. ने बताया कि आगामी उदयपुर बर्ड फेस्टीवल 10 से 13 जनवरी 2019 तक आयोजित करने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया। इस दौरान आयोजित होने वाली फोटो वर्कशॉप में देशभर से अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने, बर्ड रेस व प्रदर्शनी, ऑन द स्पॉट फोटोग्राफी प्रतियोगिता के आयोजन हेतु पक्षी विशेषज्ञ निर्णायक मण्डल का पैनल तैयार करने, देशभर में आयोजित होने वाले पक्षी मेलों के आयोजन से संबंधित नामी व्यक्तियों को बुलवाने, आयोजन स्थलों पर बर्ड टैटू विशेषज्ञों की टीम लगाने, विभिन्न विद्यालयों में गठित ईको क्लब प्रभारी शिक्षकों एवं विद्यार्थियों को फेस्टीवल से जोड़ने, कार्यक्रमों का चार्ट रूपी ब्रोशर तैयार कर समय पर विद्यालयों में बंटवाने, फेस्टीवल का व्यापक प्रचार-प्रसार करने, प्रतिभागी विद्यार्थियों के विद्यालयों के प्राचार्यों की सम्पर्क कर अधिकाधिक विद्यार्थियों को इस आयोजन से जोड़ने जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

इसी प्रकार फेस्टीवल के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए पक्षी पहचान बुक प्रिन्ट करवाने, आइकॉनिक बर्ड्स स्टीकर्स बनाने, पक्षी संरक्षण पर कार्य करने वाली संस्थाएं जैसे बीएनएचएस, आईयूसीएन, डब्ल्यूडब्ल्यूएफ आदि की भागीदारी हेतु पत्राचार करने, पुराने पक्षी मित्रों के साथ नये पक्षी मित्र तैयार कर उन्हें प्रशिक्षण दिलाने, वॉटर बॉडी के नजदीक के विद्यालयों के बच्चों को पक्षी मेले में भाग लेने हेतु प्रोत्साहित करने संबंधी निर्णय लिए गए। बैठक का संचालन क्षेत्रीय वन अधिकारी शैतान सिंह देवड़ा ने किया।

उदयपुर बर्ड फेस्टिवल आयोजन को लेकर बैठक

वर्ष पर्यन्त होंगे आयोजन

प्रकृति एवं पक्षी प्रेमियों को सतत तौर पर पर्यावरण एवं पक्षी संरक्षण गतिविधियों से जुड़ा रखने के लिए वन विभाग वर्ष पर्यन्त साप्ताहिक अथवा पाक्षिक तौर पर भ्रमण गतिविधियां आयोजित करेगा। इसके लिए आरंभिक तौर पर आगामी 17 जून से यह कार्यक्रम रखा गया है। इसके लिए जिले में महत्वपूर्ण स्थल तय करते हुए उनके प्रभारी नियुक्त करने का निर्णय किया गया।

पक्षी गाइड्स के लिए बनेगा पाठ्यक्रम

बैठक में पर्यावरण एवं पक्षियों की बारीकी से जानकारी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इस क्षेत्र में कार्य कर रहे गाइड्स के लिए सर्टिफिकेट कोर्स आयोजित करने का भी प्रस्ताव रखा गया। इस पाठ्यक्रम में समय समय पर जारी लेसन्स के आधार पर परीक्षाएं भी आयोजित करते हुए प्रमाण पत्र जारी करने का विचार विमर्श हुआ। विक्रम सिंह ने कोर्स के लिए मॉड्यूल स्टडी का सुझाव रखा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal