नेस्ले इंडिया ने सीडीएफएसटी में साॅफ्टस्किल एन्हैंसमेंट वर्कशॉप का आयोजन किया


नेस्ले इंडिया ने सीडीएफएसटी में साॅफ्टस्किल एन्हैंसमेंट वर्कशॉप का आयोजन किया

युवा टैलेंट को प्रोत्साहित करने की अपनी प्रतिबद्धता पर काम करते हुये, नेस्ले इंडिया ने काॅलेज आॅफ डेयरी एंड फूड साइंस टेक्नोलाॅजी, सीडीएफएसटी, महाराणा प्रताप कृृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर में विद्यार्थियों के लिए कौशल बढ़ाने वाले अद्वितीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

 
UT WhatsApp Channel Join Now
नेस्ले इंडिया ने सीडीएफएसटी में साॅफ्टस्किल एन्हैंसमेंट वर्कशॉप का आयोजन किया

युवा टैलेंट को प्रोत्साहित करने की अपनी प्रतिबद्धता पर काम करते हुये, नेस्ले इंडिया ने काॅलेज आॅफ डेयरी एंड फूड साइंस टेक्नोलाॅजी, सीडीएफएसटी, महाराणा प्रताप कृृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर में विद्यार्थियों के लिए कौशल बढ़ाने वाले अद्वितीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

एन-रिच कार्यक्रम डेयरी एंड फूड साइंस टेक्नोलाॅजी, सीडीएफएसटी, उदयपुर में संचालित एक माह के साॅफ्टस्किल ट्रेनिंग प्रोग्राम के अन्त मे एक चार-दिवसीय वर्कशॉप आयोजित की गई थी, जिसे दो हिस्सों में बांटा गया और यह नेतृत्व विकास, भावनात्मक समझ, जवाबदेही और जनप्रबंधनपर केंद्रित थी।इसमें हिस्सा लेने वाले विद्यार्थियों को वर्कशॉप के अंत में एक केस स्टडी दी गई और उन्हें प्रशिक्षण पूरा करने पर प्रमाण पत्र भी प्रदान किये गये।

समापन समारोह के दौरान श्री सुरेश नारायणन, चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, नेस्ले इंडिया ने कहा, ‘‘मैं जब भी युवाओं को देखता हूं तो खुद को बेहद ऊर्जावान महसूस करता हूं और माननीय कुलपति प्रोफेसर उमा शंकर शर्मा एवं यूनिवर्सिटी के समूची फैकल्टी से मिले सहयोग का आभारी हूं। उन्होंने कहा की मुझे आज काफी सकरात्मक एवं समृद्ध अनुभव मिला। सीडीएफएसटी के स्टूडेंट्स में जो टैलेंट है, वह काफी प्रभावी है और मैं सभीको उनके भविष्य के लिए शुभकामनायें देता हूं।‘‘

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि श्री फूल सिंह मीणा, विधायक (उदयपुर ग्रामीण) ने महाविद्यालय व नेस्ले जैसे काॅर्पाेरेट हाउस के गठबन्धन को अनोखा बताते हुए विद्यार्थियों को शुभकाॅमनाएॅ दी। उन्होंने विद्यार्थियों को विभिन्न प्रशिक्षणो व शिक्षा का पूरा लाभ उठाने व राष्ट्र के लिए अपने योगदान देने की बात कह कर विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया।

नेस्ले इंडिया ने सीडीएफएसटी में साॅफ्टस्किल एन्हैंसमेंट वर्कशॉप का आयोजन किया

प्रोफेसर उमाशंकर शर्मा, कुलपति, एमपीयूएटी, उदयपुर ने कहा, ‘‘साॅफ्ट स्किल्स हमेशा से सफलता का अभिन्न हिस्सा रहा है और हमें ख़ुशी है कि एन-रिच प्रोग्राम में महत्व को समझते हुए साॅफ्ट स्किल जैसे व्यवहारिक कौशल के सभी आयामों पर ध्यान दिया गया। उन्होनें आशा व्यक्त की कि हमारे स्टूडेंट्स को निकट भविष्य में ऐसे और अवसर मिलेंगे।‘‘

प्रोफेसर डा. ललित कुमार मुर्डिया, अधिष्ठाता, सीडीएफएसटी ने कहा कि एन-रीच कार्यक्रम सीडीएफएसटी के अंतिम वर्ष के सभी स्टूडेंट्स के लिए एक प्रेरणादायक अनुभव रहा है। उन्होंने बताया की मुझे पूरा भरोसा है कि नेस्ले इंडिया एवं सीडीएफएसटी के संबंध आने वाले सालों में और मजबूत होंगे।डाॅ मुर्डिया ने बताया की इस अवसरपर एमपीयूएटी व नेस्ले इंण्डिया के बीच दो एमओयू भी साइन किए गए जिसके तहत नेस्ले के प्रशिक्षको द्वारा डेयरी विज्ञान के छात्रों को साॅफटस्किल पर प्रशिक्षण व प्लेसमेंट में सहयोग दिया जाएगा।

Click here to Download the UT App

इस अवसर पर नेस्ले अध्यक्ष, विश्वविद्यालय के कुलपति एवं अधिष्ठाता द्वारा सत्र 2018-19 के प्लेसमेन्ट ब्राॅशर का विमोचन भी किया गया। दुसरा करार डेयरी विज्ञान परिसर में एक नेस्ले ‘‘हाॅटस्पाॅट‘‘ नामक क्यिोस्क के सम्बन्ध में था जिसका उद्घाटन श्री सुरेश नारायणन व कुलपति प्रौ. उमाशंकर शर्मा ने किया। इस आउटलेट पर नेस्ले के मैगी नूडल्स, पास्ता व चाॅकलेट सहित 42 प्रकार के गुणवत्तापूर्ण नेस्ले उत्पाद उपलब्ध रहेगें।

प्रौ. मुर्डिया ने बताया कि एन-रिच का लक्ष्य फूड टेक्नोलाॅजी कोर्स कर रहे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स को उन चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करना है जिन का सामना वे पेशेवर दुनिया में कदम रखने के बाद रोजाना देखेंगे। यह विशेष तौर पर स्टूडेंट्स की साॅफ्ट स्किल को बढ़ाने पर केंन्द्रित था उन्हें सफलता के करीब लाया जा सके। नेस्ले इंडिया ने हाल में करनाल में नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीट्यूट के साथ भी इस कार्यक्रम का संचालन किया था।

नेस्ले इंडिया ने सीडीएफएसटी में साॅफ्टस्किल एन्हैंसमेंट वर्कशॉप का आयोजन किया

नेस्ले के वाइस प्रसीडेन्ट (सेल्स-नार्थ इंण्डिया) श्री संजय कौल ने कार्यक्रम में अपने उदबोधन में कहा कि इस करार से नेस्ले जैसे बडें खाद्य प्रसंस्करण उद्योग व एमपीयूटी के साथ अकादमिक रिश्तो में सुदृृढता आएगी और विद्यार्थियों को सीखने के अवसर प्राप्त होंगे।

नेस्ले की प्रोग्राम एक्जीक्यूटीव हर्षिता ने बताया कि प्रोग्राम को अनुभवी प्रशिक्षको द्वारा चलाया गया जिसमें ऐसे विभिन्न सत्र शामिल किये गये थें जिसमें इंस्टीट्यूट के पूर्व छात्रों और बाहरी प्रशिक्षको की एक टीम द्वारा निरंतरता बनाए रखते हुए संचालित किया गया।

कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के सभी वरिष्ठ अधिकारी, कुल सचिव प्रियंका जोधावत, वित्त नियंत्रक डाॅ कुमुदीनी चांवरिया, विभिन्न निदेशक, अधिष्ठाता, सरस डेयरी के प्रबन्ध निदेशक, प्राध्यापक, विद्यार्थी तथा अन्य अतिथि उपस्थिति थें।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal