वेक्सिनेशन - 30 दिन में एक करोड़ डोज खरीदने की तैयारी कर रही राजस्थान सरकार


वेक्सिनेशन - 30 दिन में एक करोड़ डोज खरीदने की तैयारी कर रही राजस्थान सरकार

राज्य सरकार ने वैक्सीन के लिए निकाला ग्लोबल टेंडर 

 
vaccination
UT WhatsApp Channel Join Now

2 कंपनियों के वैक्सीन सप्लायरों ने दिखाई रूचि

प्रदेश में कोरोना महामारी के बीच चल रही वेक्सिनेशन प्रक्रिया के दौरान राजस्थान में 18 से 44 साल की उम्र 3.25 करोड़ लोगों को वैक्सीन लागाने के लिए प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने ग्लोबल एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट (ईओआई) जारी किया है। इस टेंडर में वैक्सीन सप्लाई की तीन कंपनियों ने रूचि दिखाई है। सरकार इस टेंडर के जरिए वैक्सीन की एक करोड़ डोज खरीदेगी, ताकि कम समय में ज्यादा से ज्यादा 18 वर्ष से अधिक और 44 वर्ष से कम आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन की प्रथम डोज लगाई जा सके।  
 
प्राप्त जानकारी के अनुसार इस टेंडर प्रक्रिया में दो कंपनियों की वैक्सीन सप्लाई करने वाले चार डिस्ट्रीब्यूटरो ने टेंडर संलग्न किए है। इसमें रूस की वैक्सीन स्पूतनिक और दूसरी ब्रिटेन में एस्ट्रोजेनेका और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा मिलकर बनाई वैक्सीन कम्पनी शामिल है। हलाकि टेंडर आज 21 मई को खोले जाएंगे और उसके बाद ही पूरी जानकारी मिल पाएगी की कितने डिस्ट्रीब्यूटर्स ने इसमें भाग लिया है और वह कितने रेट पर और कितने समय में वैक्सीन उपलब्ध करवा पाएंगे।  

सात लाख डोज प्रतिदिन लगाने की क्षमता  
 
राजस्थान टीकाकरण अभियान के निर्देशक डॉ. रघुराज सिंह के अनुसार अभी राज्य में एक दिन में 7 लाख लोगो को वैक्सीन लगाने जितना सिस्टम तैयार है। अगर समय पर वैक्सीन आ जाए तो 6 से लेकर 7 लाख डोज रोज़ाना लग सकते हैं। उन्होंने बताया की वर्तमान में भारत सरकार की ड्रग कंट्रोलिंग जनरल ऑफ़ इंडिया ने केवल 3 वैक्सीन के एमरजैंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है। इसमें दो वैक्सीन कोविशील्ड और कोवेक्सीन का उत्पादन तो भारत में हो रहा है जबकि तीसरी वैक्सीन रूस (स्पूतनिक) में बनकर भारत आ रही हे। 

उल्लेखनीय है की एस्ट्रा जेनेका की वैक्सीन ही भारत में कोविशील्ड के नाम से बन रही हे, जिसे सीरम इंस्टिट्यूट बना रहा है। उन्होंने बताया की इस EOIE में फ़िलहाल वही वैक्सीन मांगी है जो भारत सरकार द्वारा मंज़ूरी प्राप्त है तथा जिन्हे 2 से 8 डिग्री सेल्सियस के तापमान में रखी जा सके।  

30 दिन में मांगी है 1 करोड़ डोज 

सरकार ने इस टेंडर में 30 दिन के अंदर वेक्सीन उपलब्ध करवाने की शर्त रखी है। वहीँ यह वेक्सीन 5 चरणों में उपलब्ध करवानी होगी। वैक्सीन 5 या अधिकतम 10 डोज के वॉयल में मांगी है। शर्त के मुताबिक कम्पनियो को ही सरकार के वेक्सीन स्टोरेज के सेंटर तक वेक्सीन पहुंचानी होगी। राज्य सरकार ने वैक्सीन के स्टोरेज के लिए प्रदेश में तीन जगह जयपुर जोधपुर और उदयपुर में स्टोरेज सेंटर बनाये है। अब तक जयपुर और उदयपुर में ही हवाई मार्ग के जरिये वैक्सीन पहुँच रही है। जोधपुर में स्टोर के लिए वैक्सीन सड़क मार्ग से जयपुर से भेजी जाती है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal