साक्षरता दर को बढ़ाने में जुटी रोटरीः बीना देसाई

साक्षरता दर को बढ़ाने में जुटी रोटरीः बीना देसाई
 

निर्धन बच्चों के बीच समय बिताया प्रांतपाल ने  
 
 
साक्षरता दर को बढ़ाने में जुटी रोटरीः बीना देसाई
उन्होंने बताया कि रोटरी 200 देशों में 12 लाख सदस्यों के साथ काम कर रहा है। देश में 100 वर्ष रोटरी को हो चुके हैं देश में 12 से 14 करोड़ के काम हो रहे हैं। पोलियो उन्मूलन में रोटरी की महत्ता को भुलाया नही जा सकता। 

उदयपुर 28 फरवरी 2020 । रोटरी क्लब 3054 की प्रान्तपाल बीना देसाई ने कहा कि देश की साक्षरता दर को 70 से बढ़ाकर 100 प्रतिशत करना हमारा लक्ष्य है। जिसे रोटरी सदस्यों के माध्यम से विभिन्न कार्यक्रमों के जरिये इस लक्ष्य को शीघ्र ही प्राप्त किया जायेगा। 

वे आज होटल स्वरूपविला में वे शुक्रवार को रोटरी उदयपुर रॉयल (3054) की आधिकारिक यात्रा पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थी। उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान में भी राष्ट्रीय स्तर पर रोटरी ने सरकार को कमिटमेंट दिया हुआ है कि देश को स्वच्छ बनाने में रोटरी कंधे से कंधा मिलाकर साथ कार्य करेगी। रेनवाटर हार्वेस्टिंग, डायबिटीज, किडनी को लेकर भी रोटरी काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि रोटरी ने भारत में सेवा के 100 वर्ष पूरे कर लिये है और इस दौरान रोटरी ने देश में 20 हजार बच्चों की हार्ट सर्जरी करा उन्हें नया जीवन देने का प्रयास किया। भारत में 3098 स्कूलों को हैप्पी स्कूलों में परिवर्तित किया। ब्लैक बोर्ड को डिजिटल बोर्ड बन कर ई-लर्निंग के जरिये 15 हजार सरकारी स्कूलो के 50 लाख बच्चों को लाभान्वित किया। 90 नेत्र चिकित्सालय में 20 लाख नेत्र रोगियों को के ऑपरेशन कराये गये। रोटरी ने स्वच्छता अभियान के तहत देश के ग्रामीण इलाकों में 25 हजार से अधिक टाॅयलेट बनावाए।  

उन्होंने बताया कि रोटरी 200 देशों में 12 लाख सदस्यों के साथ काम कर रहा है। देश में 100 वर्ष रोटरी को हो चुके हैं देश में 12 से 14 करोड़ के काम हो रहे हैं। पोलियो उन्मूलन में रोटरी की महत्ता को भुलाया नही जा सकता। दो देशों में अब भी पोलियो बाकी है। पाकिस्तान और अफगानिस्तान में भी काम चल रहा है।

रोटरी उदयपुर रॉयल के अध्यक्ष प्रतीक हिंगड़ के बताया कि क्लब ने हैप्पी स्कूल के माध्यम से शिक्षा में नवाचार लाने का प्रयास किया है। इस वर्ष गार्गी, प्रियदर्शिनी अवार्ड भी शुरू किए हैं। इस क्लब में यंग रोटेरियन्स हैं। शिक्षा, पानी, मेडिकल में उल्लेखनीय कार्य कर रहे हैं। अपने वर्क प्लेस के आसपास जो रोटरी क्लब हो उसमें जॉइन करने का मकसद रहता है इसलिये इतने सारे रोटरी क्लब उदयपुर में हैं। रोटरी ने अब तक पोलियो के लिए 6000 करोड़ डॉलर दिए हैं। इस अवसर पर सहायक प्रांतपाल यशवंत मंडावरा,सचिव मुकेश शर्मा, पूर्व अध्यक्ष मुकेश जनवा सहित अनेक सदस्य मौजूद थे। 

निर्धन बच्चों के बीच समय बिताया प्रांतपाल ने  

रोटरी इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट गवर्नर बीना देसाई अपने तीन दिवसीय दौरे पर उदयपुर पहुंची, जहाँ क्लब अध्यक्ष चेतन प्रकाश जैन के नेतृत्व में काया स्थित सेवा मंदिर पर भव्य स्वागत किया गया। 

क्लब मेवाड़ के सचिव दिनमय ने बताया कि रोटरी शताब्दी वर्ष साप्ताहिक कार्यक्रम के उदयपुर संभाग के विभिन्न क्लबो की आधिकारिक यात्रा करेंगी। यहां पर रह रहे स्कूली बच्चों को प्रांतपाल द्वारा क्लब की ओर से निर्धन बच्चों को जूते वितरित किए गए। 

क्लब संरक्षक हंसराज चौधरी के मार्गदर्शन में क्लब द्वारा संचालित वाटर ए टी एम मशीन, हॉस्पिटल स्थित नेफ्रोलॉजी आई सी यू यूनिट का निरक्षण किया। सायंकालीन मीटिंग में संबोधित करते हुए श्रीमती देसाई ने कहा कि रोटरी अंतरराष्ट्रीय पोलियों मुक्त भारत मिशन के बाद सम्पूर्ण भारत देश साक्षरता मिशन की ओर अग्रसर हो है जिसके लिए रोटरी अंतरराष्ट्रीय के निर्वाचित अध्यक्ष शेखर मेहता दिनांक 1 मार्च को उदयपुर आ रहे हैं। 

इस अवसर पर अध्यक्ष चेतन प्रकाश ने कहा कि इस वर्ष रोटरी मेवाड़ सेवा कार्यो के समस्त विभागों पर कार्य करते हुए एक करोड़ से भी अधिक के सेवा कार्य सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में किया है। रोटरी शताब्दी सप्ताह के तहत 14 वर्षीय बालक यथार्थ जैन द्वारा उदयपुर से राजसमंद तक साइकिल यात्रा करने पर, डॉ लीना दवे मोतियाबिंद के पंद्रह हजार आपरेशन करने पर  श्रीमती देसाई द्वारा समानित किया गया। कार्यक्रम में सह प्रान्त पाल माणिक नाहर, पूर्व प्रांतपाल यशवंत कोठारी, निर्मल सिंघवी, रमेश चैधरी सहित शहर के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ लोकेश जैन ने किया। धन्यवाद की रस्म दिनमय चौधरी ने अदा की।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal