दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सीरिल रामाफोसा ने किया वेदांता के गेम्सबर्ग खदान का उद्घाटन

दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सीरिल रामाफोसा ने किया वेदांता के गेम्सबर्ग खदान का उद्घाटन

एग्गेनीस, 28 फरवरी। दक्षिण अफ्रीकी गणतंत्र के राष्ट्रपति श्री सीरिल रामाफोसा ने आज वेदांता ज़िंक इंटरनेशनल के गेम्सबर्ग खदान का उद्घाटन वेदांत समूह के चेयरमैन अनिल अग्रवाल की उपस्थिति में किया। कार्यक्रम उत्तरी केप प्रोविंस के एग्गेनीस में आयोजित था। उद्घाटन अवसर पर दक्षिण अफ्रीका के खनिज संसाधन मंत्री ग्वेडे मनटाशे, उत्तरी केप प्रमुख श्रीमती सिल्विया लुकास, वेदांता समूह के सी.ई.ओ. श्रीनिवासन वेंकटाकृष्णन और वेदांता ज़िंक इंटरनेशनल के सी.ई.ओ. डेशनी नायडू मौजूद थे।

 

दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सीरिल रामाफोसा ने किया वेदांता के गेम्सबर्ग खदान का उद्घाटन

एग्गेनीस, 28 फरवरी। दक्षिण अफ्रीकी गणतंत्र के राष्ट्रपति श्री सीरिल रामाफोसा ने आज वेदांता ज़िंक इंटरनेशनल के गेम्सबर्ग खदान का उद्घाटन वेदांत समूह के चेयरमैन अनिल अग्रवाल की उपस्थिति में किया। कार्यक्रम उत्तरी केप प्रोविंस के एग्गेनीस में आयोजित था। उद्घाटन अवसर पर दक्षिण अफ्रीका के खनिज संसाधन मंत्री ग्वेडे मनटाशे, उत्तरी केप प्रमुख श्रीमती सिल्विया लुकास, वेदांता समूह के सी.ई.ओ. श्रीनिवासन वेंकटाकृष्णन और वेदांता ज़िंक इंटरनेशनल के सी.ई.ओ. डेशनी नायडू मौजूद थे।

गेम्सबर्ग ज़िंक रिसोर्सेज की खोज हालांकि 40 वर्ष पूर्व की गई थी परंतु विभिन्न दक्षिण अफ्रीकी खनन कंपनियों के नेतृत्व में इसका अपेक्षित विकास नहीं हो पाया। वेदांता समूह ने इस खदान का अधिग्रहण ब्लैक माउंटेन माइनिंग काॅम्प्लेक्स के हिस्से के रूप में वर्ष 2011 में किया। समूह की ओर से परियोजना को हरी झंडी वर्ष 2017 में मिली। ठीक आठ महीने बाद वर्ष 2015 के मध्य में पहला माइनिंग ब्लास्ट किया गया।

गेम्सबर्ग खदान में 214 मीलियन टन ज़िंक अयस्क का भंडार है। यहां 6 से 6.5 फीसदी ग्रेड का ज़िंक पाया जाता है। खदान की आयु 30 वर्ष से अधिक है। गेम्सबर्ग खनन परियोजना के पहले चरण में वेदांता समूह ने 400 मीलियन अमेरिकी डाॅलर का निवेश किया है। इस चरण का एल.ओ.एम. 13 वर्षों का है। इस दौरान खुली खदान से लगभग 4 मीलियन टन प्रति वर्ष अयस्क का उत्पादन होगा तथा 250000 टन प्रति वर्ष कंसंट्रेट का उत्पादन कंसंट्रेटर प्लांट से होगा।

परियोजना के दूसरे और तीसरे चरण का मूल्यांकन जारी है। आगे लगभग 350 से 400 मीलियन अमेरिकी डाॅलर का निवेश अनुमानित है। इनके क्रियान्वयन से अयस्क का उत्पादन प्रति वर्ष लगभग 8 मीलियन टन होगा वहीं कंसंट्रेट का उत्पादन बढ़कर 450000 टन प्रति वर्ष हो जाएगा जिसका 600000 टन प्रति वर्ष का आंकड़ा छूने का अनुमान है।

Download the UT Android App for more news and updates from Udaipur

वेदांता समूह स्मेल्टर रिफाइनरी काॅम्प्लेक्स स्थापित करने की दिशा में फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार कर रही है। इससे दक्षिण अफ्रीकी सरकार और वेदांता समूह की प्रतिबद्धताओं के अनुरूप धातु उत्पादन का लाभ स्थानीय नागरिकों को मिल सकेगा।

वेदांता समूह के चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने इस अवसर पर दक्षिण अफ्रीका के प्रति समूह की प्रतिबद्धताओं और देश में खनन उद्योग के विकास और भविष्य की संभावनाओं पर अपने विचार रखे। वेदांता समूह के सी.ई.ओ. श्रीनिवासन वेंकटाकृष्णन ने कहा कि राष्ट्रपति श्री रामाफोसा के हाथों खदान का उद्घाटन गौरव की बात है।

राष्ट्रपति श्री सीरिल रामाफोसा ने कहा कि हमारी साझा विकास यात्रा और खदानों को पुनर्जीवन देने की दिशा में वेदांता गेम्सबर्ग खनन परियोजना अत्यंत महत्वपूर्ण कदम है। प्रभावी नियामक ढांचा, सभी स्टेकहोल्डारों के बीच सुविकसित साझेदारी और निरंतर निवेश से देश का खनन उद्योग विकास का नया सूर्योदय साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि वेदांत समूह के ठोस निवेश का वे स्वागत करते हैं। इससे दक्षिण अफ्रीका और भारत के रिश्ते तो मजबूत होंगे ही यह दक्षिण अफ्रीकी खनन उद्योग में वेदांता समूह के बढ़ते विश्वास का भी प्रतीक है।

गेम्सबर्ग खनन परियोजना पर एक नजर: गेम्सबर्ग पारिस्थितकीय तंत्र की दृष्टि से संवेदनशील सक्यूलेंट कारू बायोम में स्थित है, जो कि जैव विविधता की दृष्टि से विश्व के 35 प्रमुख क्षेत्रों में शामिल है। वेदांता ज़िंक इंटरनेशनल की जैव विविधता कार्य योजना में खनन पश्चात वृक्षारोपण के अंतर्गत पौधों और बीजों का संरक्षण शामिल है। जैव विविधता ऑफसेट कार्यक्रम के अंतर्गत 12500 हेक्टेयर भूमि की खरीद की गई है।

गेम्सबर्ग दक्षिण अफ्रीका में अत्याधुनिक ग्रीनफील्ड परियोजना है जो डिजीटल तकनीकी क्षेत्र में भी अग्रणी है। स्मार्ट ओर मूवमेंट, स्पेशियल रिस्क माॅनिटरिंग एंड मैनेजमेंट और कोलाइजन अवाॅयडेंस सिस्टम डिजीटल तकनीक के अंग हैं।

खाई-मा और उत्तरी केप की अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए वेदांता समूह कटिबद्ध है। स्थानीय उद्यमिता के विकास के लिए वर्ष 2016-17 में वेदांता समूह ने 25 मीलियन रेंड का निवेश किया था जो वर्ष 2017-18 में बढ़कर 77.5 मीलियन रेंड हो गया। सामुदायिक विकास के अंतर्गत कौशल विकास, शिक्षा, स्वास्थ्य, उद्यमिता विकास तथा म्यूनिसिपल इंफ्रास्ट्रक्चर सपोर्ट के क्षेत्र में वर्ष 2017-18 में 44.6 मीलियन का निवेश किया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal