जीएसटी का एक वर्ष हुआ पूर्ण-क्या खोया क्या पाया


जीएसटी का एक वर्ष हुआ पूर्ण-क्या खोया क्या पाया

आज देश मे जीएसटी लागू हुए पूरा एक साल हो गया है एवं आज ही के दिन 1 जुलाई 2017 को जीएसटी ’एक देश एक कर’ के उद्देश्य के साथ सम्पूर्ण भारत मे लागू किया गया था। इस संदर्भ में शहर के प्रतिष्ठित सीए एवं जीएसटी विशेषज्ञ देवेंद्र कुमार सोमानी ने बताया कि पिछले एक वर्ष में जीएसटी लागू होने के बाद करदाताओं, कर सलाहकारों, सीए एव आम जन को कई खट्टे मीठे अनुभव रहे है।

 
UT WhatsApp Channel Join Now
जीएसटी का एक वर्ष हुआ पूर्ण-क्या खोया क्या पाया

आज देश मे जीएसटी लागू हुए पूरा एक साल हो गया है एवं आज ही के दिन 1 जुलाई 2017 को जीएसटी ’एक देश एक कर’ के उद्देश्य के साथ सम्पूर्ण भारत मे लागू किया गया था। इस संदर्भ में शहर के प्रतिष्ठित सीए एवं जीएसटी विशेषज्ञ देवेंद्र कुमार सोमानी ने बताया कि पिछले एक वर्ष में जीएसटी लागू होने के बाद करदाताओं, कर सलाहकारों, सीए एव आम जन को कई खट्टे मीठे अनुभव रहे है।

यद्यपि इसे लागू करने में कई व्यावहारिक कठिनाईया आयी एव इसे दूर कएने के लिए सरकार ने करीब 200 से अधिक संशोधन कर सरकार ने जीएसटी कानून को व्यावहारिक बनाने का प्रयास किया है। लेकिन पूर्णतया नया कानून होने की वजह से करदाता, कर सलाहकारों एव चार्टर्ड अकाउंटेंट के द्वारा भी कुछ गलती होना स्वाभाविक है जिसे सुधारने का एक अवसर सरकार को प्रदान करना चाहिए।

रिटर्न एव रिफंड की प्रक्रिया काफी मुश्किल एव वांछनीय स्तर पर उपलब्ध नहीं है। अतः उम्मीद है कि जीएसटी लागू होने के द्वितीय वर्ष में सरकार इसके सरलीकरण पर ध्यान देगी। सरकार का उदेश्य केवल राजस्व संग्रहण करना ही नही होकर शुरुआती वर्षो में थोड़ा लचीला रुख अपनाकर कानून को लागू किया जाना चाहिए। सामान्यतः कर कानूनों में विलंब शुल्क अथवा शास्ति देय कर से अधिक नही होती है परंतु जीएसटी कानून इसका अपवाद है। ई वे बिल एव कर व्यवस्था में सरलीकरण की आवश्यकता है।

कुल मिलाकर जीएसटी पूर्णतया सफल तो नही कहा जा सकता है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal