गिट्स में “रिइन्वेंटिंग एन्त्रेप्रेंयूरिअल माइंडसेट अमंग स्टूडेंट्स पोस्ट कोविड -19” पर वेबीनार का आयोजन


गिट्स में “रिइन्वेंटिंग एन्त्रेप्रेंयूरिअल माइंडसेट अमंग स्टूडेंट्स पोस्ट कोविड -19” पर वेबीनार का आयोजन
 

गिट्स में “रिइन्वेंटिंग एन्त्रेप्रेंयूरिअल माइंडसेट अमंग स्टूडेंट्स पोस्ट कोविड -19” पर ऑनलाइन एक्सपर्ट वेबीनार का आयोजन
 
गिट्स में “रिइन्वेंटिंग एन्त्रेप्रेंयूरिअल माइंडसेट अमंग स्टूडेंट्स पोस्ट कोविड -19” पर वेबीनार का आयोजन
UT WhatsApp Channel Join Now

गीतांजलि इंस्टीट्यूट आफ टेक्निकल स्टडीज डबोक उदयपुर में “रिइन्वेंटिंग  एन्त्रेप्रेंयूरिअल माइंडसेट अमंग स्टूडेंट्स पोस्ट कोविड -19” पर एक दिवसीय एक बहुत ही आकर्षक और ज्ञानवर्धक ऑनलाइन एक्सपर्ट वेबिनार का आयोजन किया गया।

संस्थान के निदेशक डॉ विकास मिश्र ने बताया कि इस ऑनलाइन वेबिनार में मुख्य अतिथि के रूप में सोबरबायो  के फाउंडर और सीईओ डॉ  सुमित जी थे। डॉ अग्रवाल मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी- एमआईटी की एक टेक्नोलॉजी रिव्यू ग्लोबल पैनल मेंबर है, जिसने यूएसए, इजरायल और कनाडा से स्टार्टअप्स और मिड-साइज ऑर्गेनाइजेशन के लिए भारत में कई जनादेशों के लिए 65 मिलियन अमरीकी डॉलर जुटाने का काम किया है ।

20 से अधिक वर्षों के अनुभव के साथ डॉ सुमित अग्रवाल ग्लोबल मार्केटप्लेस में सेटअप, स्ट्रक्चर, ड्राइव और स्केल बिजनेस की क्षमताओं के साथ एक अनुभवी बिजनेस लीडर हैं और उन्होंने डेलॉयट, पाटनी कम्प्यूटर्स, एओन हेविट जैसी कई अग्रणी कंपनियों में काम किया है। बिक्री रणनीति विकास और तैनाती, मानव संसाधन परामर्श, संक्रमण, व्यवसाय निरंतरता प्रबंधन समाधान डिजाइन और कार्यान्वयन, परिवर्तन प्रबंधन, पेंशन फंड, डिजिटल परिवर्तन और 6 सिग्मा प्रोजेक्ट्स पर डॉ अग्रवाल जी की मजबूत पकड़ है। 

डॉ सुमित अग्रवाल ने अपनी प्रस्तुति में बताया कि उद्योगों और उद्यमियों के लिए कोविट को-पोस्टिड को "डिजिटलीकरण के काम से डिजिटल रूप से काम करने और हार्डवेयर की तुलना में हार्ट-वेयर पर थोड़ा और अधिक ध्यान केंद्रित करने" से आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि दुनिया और काम के माहौल के परिवर्तन में एकेडेमिया की बड़ी भूमिका है और यह उद्यमशील डीएनए को बढ़ावा देने में योगदान दे सकता है, एक ऐसे तंत्र को सक्षम कर सकता है जो टैलेंट टेक्नोलॉजी और कैपिटल को बढ़ाता है।  

कार्यक्रम के संयोजक अरविंद सिंह पेमावत ने अतिथियों का धन्यवाद करते हुए कहा कि अतिथियों ने अपना अमूल्य समय निकाल कर यूथ को एक सही दिशा दी है साथ ही बताया कि इस ऑनलाइन कार्यक्रम में 180 से ज्यादा लोग मौजूद थे।  इस वेबीनार के ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर वित्त नियंत्रक बी एल जांगिड़ सहित सभी विभागों विभागों के विभागाध्यक्ष व संपूर्ण गीतांजलि परिवार ने कार्यक्रम का लाभ उठाया ।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal