बांसवाड़ा-1 जनवरी 2024 की प्रमुख खबरे

बांसवाड़ा-1 जनवरी 2024 की प्रमुख खबरे 

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर

 
banswara

News-नये जल कनेक्शन शिविर का 3 से 5 जनवरी को

बांसवाड़ा, 1 जनवरी । जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकीएवं आरयूआईडीपी विभाग बांसवाड़ा के संयुक्त तत्वाधान में राजतालाब, आजाद चौक, गोरख इमली, पृथ्वी गंज , औदिच्यवाडा, मालीवाडा, कालिका माता,  पैलेस रोड, अम्बावाडी, सूरजपोल, रामद्वारा नागरवाडा, खाटवाडा, सरगरावाडा, हुसैनी चौक, महालक्ष्मी चौक, तलहटी महल,यादव बस्ती, काली कल्याणी धाम (मंडिया) और भागाकोट क्षेत्र के लिए दिनांक 03 जनवरी से 05 जनवरी-2024 तक षिविर का आयोजन भागाकोट स्कूल के पास आंगनवाडी केन्द्र , बांसवाड़ा में प्रातः 10.30 बजे से दोपहर 3.00 बजे तक किया जायेगा।

आरयूआईडीपी विभाग के अधीक्षण अभियन्ता हंसराम मीणा ने बताया कि जिन उपभोक्ताओ के पास पुराने वैध कनेक्षन है, उन उपभोक्ता को नए कनेक्शन निशुल्क मीटर बॉक्स तक कनेक्शन आरयूआईडीपी विभाग द्वारा किया जा रहा है। सहायक अभियन्ता जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, नगर खण्ड बांसवाड़ा ने इन क्षेत्रो के लोगो सेे अपील की है कि शिविर में अधिक से अधिक संख्या में आकर शिविर का लाभ उठावे, सहायक अभियन्ता जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, नगर खण्ड बांसवाड़ा ने बताया कि नये कनेक्शन की स्वीकृति हेतु निम्न दस्तावेज की ज़रूरत होगी, जलदाय विभाग के आवेदन पत्र, आवेदनपत्र के साथ मालिकाना हक सम्बंधित दस्तावेज (पट्टा/रजिस्ट्री/एग्रीमेन्ट/आवंटन पत्र अथवा बेचान पत्र) की स्वयं प्रमाणित छायाप्रति,जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के नियमानुसार निर्धारित शुल्क तथा राशन कार्ड व आधार/जन आधार कार्ड की छाया प्रति। 

साथ ही साथ उन्होंने बताया कि जल्द ही पुराने नेटवर्क से नये नेटवर्क में जलापूर्ति शिफ्ट कर दी जायेगी। उन्होने बताया कि जो जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, नगर खण्ड बांसवाड़ा के उपभोक्ता नहीं है तथा जिन्होंने नये कनेक्षन की स्वीकृति प्राप्त नही की हैं उनके नये कनेक्शन काट दिये  जायेगे। अतः उन्होंने अपील करते हुए कहा कि जिन्होंने इन क्षेत्रो मे स्वीकृति प्राप्त नहीं की हैं वे शिविर में उपस्थित होकर स्वीकृति प्राप्त कर लें ।

News-धातु निर्मित मांझे के थोक एवं खुदरा बिक्री तथा उपयोग पर प्रतिबंध

कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट प्रकाशचंद्र शर्मा ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अन्तर्गत निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए मकर संक्रांति त्यौहार पर पतंगबाजी के दौरान लोक स्वास्थ्य व विद्युत संचालन बनाए रखने एवं पक्षियों के लिए बड़े पैमाने पर खतरा बन चुके ’’ धातु निर्मित मांझा यथा पंतग उड़ाने के लिए पक्का धागा, नायलोन, प्लास्टिक मांझा, चाईनिज मांझा सिंथेटिक/टोक्सीक मटेरियल यथा आयरन पाउडर, ग्लास पाउडर ने बने मांझे की थोक एवं खुदरा बिक्री तथा उपयोग पर बांसवाड़ा जिले की राजस्व सीमा/क्षेत्राधिकारिता में निषेध/प्रतिबंधित करने के आदेश दिये है। इसके तहत पक्षियों की विचरण गतिविधियां प्रातः 6 बजे से 8 बजे एवं सायं 5 बजे से 7 बजे के मध्य होने से इस समय में पतंग उड़ाना प्रतिबंधित रहेगा।

यह आदेश आदिनांक की मध्यरात्रि से लागू होकर आगामी 20 जनवरी-2024 की मध्यरात्रि तक प्रभावी रहेगा और सभी नागरिकों को इस आदेश की पालना करने को कहा गया है। जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि आदेश की अवहेलना या उल्लंघन किये जाने पर भारतीय दण्ड सेहिता की धारा 188 के तहत दण्डित करवाया जाएगा।

कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि इस संबंध में माननीय उच्च न्यायालय राजस्थान खण्डपीठ द्वारा डी.बी. रिट पिटीशन (पी.आई.टी.)नं. 15793/2011 महेश अग्रवाल बनाम राज्य एवं अन्य में जारी दिशा-निर्देश में पतंग उड़ाने के लिए उक्त हानिकारक सामग्री से बने धागे के उपयोग को परमिट नहीं किया है। 

जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट पी.सी.शर्मा ने बताया कि बांसवाड़ा में मकर संक्रांति के त्यौहार पर पतंगबाजी हेतु धातुओं के मिश्रण से निर्मित मांझा प्रयुक्त किया जाने लगा है। यह मांझा विभिन्न धातुओं के मिश्रण के प्रयोग से तैयार किया जाता है, जोे पतंग के पेच लड़ाने में अधिक कारगर होता है। इस कारण इसका प्रयोग अधिक किया जाने लगा है। उक्त मांझा विभिन्न धातुओं के प्रयोग से तैयार किया जाता है। उक्त मांझा विभिन्न धातुओं के मिश्रण से निर्मित होने से धारदार तथा विद्युत का सुचालक होता है, जिसके उपयोग के दौरान दोपहिया वाहन चालकों तथा पक्षियों को अत्यधिक जान-माल का नुकसान होना संभाव्य है, साथ ही विद्युत सुचालक होने के कारण विद्युत तारों से सम्पर्क में आने पर विद्युत प्रवाह होने से पतंग उड़ाने वाले को भी नुकसान पहुंचना एवं विद्युत सप्लाई में बाधा उत्पन्न होना संभाव्य है। इस समस्या व खतरे के निवारण हेतु आवश्यक है कि ’’धातु निर्मित मांझा (पतंग उड़ाने के लिए पक्का धागा, नायलोन/प्लास्टिक मांझा, चाईनिज मांझा जो सिंथेटिक/टोक्सीक मटेरियल यथा आयरन पाउडर, ग्लास पाउडर का बना हो) के उपयोग एवं विक्रय को निषेध किया गया है।

News-टंकण गति परीक्षा 13 जनवरी को

बांसवाड़ा, 1 जनवरी। जिले में स्थित समस्त कार्यालयों में मृत आश्रित राज्य कर्मचारियों को अनुकम्पात्मक नियुक्ति नियमों के तहत कनिष्ठ सहायक केे पद पर नियुक्त कार्मिक, जिन्होंने कम्प्युटर टंकेण गति परीक्षा में भाग लेने के लिए जिला कलक्टर कार्यालय में आवेदन प्रस्तुत किये हैं, उनकी गु्रप वाईज टंकण गति परीक्षा 13 जनवरी-2024 शनिवार को प्रातः 10.00 बजे से राजकीय अभियांत्रिकी महाविद्यालय, मयूर मील के पीछे लोधा में आयोजित की जाएगी।

अतिरिक्त जिला कलक्टर डॉ. दिनेश राय सापेला ने समस्त आवेदकों को सूचित किया है कि वे अपने प्रवेश पत्र जिला कार्यालय में दिनांक 9 जनवरी से 11 जनवरी-2024 तक कार्यालय समय में आकर प्राप्त कर लें। प्रवेश पत्र जारी करने के संबंध में पृथक से कोई सूचना पत्र, आदेश जारी नहीं किये जाएंगे। प्रवेश पत्र प्राप्त करना आवेदक की स्वयं की जिम्मेदारी रहेगी। उन्होंने समस्त आवेदकों को परीक्षा केन्द्र में मास्क लगाकर उपस्थित होने एवं सामाजिक दूरी की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।

News-शिक्षा विभागीय प्रशासनिक बैठक

बांसवाड़ा, 1 जनवरी । स्टार्स परियोजना की वार्षिक कार्ययोजना एवं बजट 2023-24 में अनुमोदित गतिविधि के अन्तर्गत कक्षा 6-10 तक शिक्षकों (वरिष्ठ अध्यापक एवं लेवन-2) के 10 दिवसीय (5 दिन ऑलाइन एवं 5 दिन ऑनलाइन) प्रशिक्षण आयोजित किये जाने हेतु सोमवार को बैठक जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय) माध्यमिक के सभागार में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी स्कूल शिक्षा शम्भुलाल नायक की अध्यक्षता में हुई।

बैठक में अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक सुशील कुमार जैन ने उपस्थित अधिकारियों को विद्यालय आधारित आकलन शिक्ष प्रशिक्षण के दिशा-निर्देश 2023-24 की विस्तृत प्रशिक्षण की चरणवार जानकारी प्रदान की। सामुदायिक गतिशीलता, बालिका शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा, ट्रांसपोर्ट वाउचर, जेण्डर इक्विटी सहित सभी कम्पोनेन्ट्स पर विस्तृत चर्चा करते हुए विद्यालयों को आवंटित बजट का समुचित सदुवयोग करवाने निर्देशित किया। यू-डाइस फीडिंग में ब्लॉकवार प्रगति का विवरण प्रस्तुत करते हुए शीघ्र ही पोर्टल पर प्रविष्टियां पूर्ण करने संबंधी चर्चा की।

जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय) मावजी खांअ द्वारा कद्वाा 9 एवं 10 के शिक्षकों को प्राथमिकता से प्रशिक्षण करवाने एवं अलग-अलग विषय को ध्यान में रखते हुए प्रशिक्षण आयोजित करवाने के निर्देश प्रदान किये गये। बैठक में उपस्थित सदस्यों को राजकीय विद्यालयों का औचक निरीक्षण करने एवं विद्यार्थियों को अध्यापन के कार्य को गंभीरता से लिये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

डाईट प्रधानाचार्य गढ़ी के शैलेन्द्र भट्ट द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के मापदण्ड अनुरूप विद्यालयों के विद्यार्थियों का आंकलन किया जाएगा।
बैठक में महेश पानेरी कार्यक्रम अधिकारी ने विभिन्न गतिविधियों के विद्यालयों में सुचारू संचालन हेतु विस्तृत कार्ययोजना प्रस्तुत की।
बैठक में सभी ब्लॉक से गायत्री स्वर्णकार, रेखा रोत, जयदीप पुरोहित, महेनद्र समाधिया, बसन्त सोनी, भीमजी सुरावत, धनजी डामोर, सुरेख पाटीदार, जितेन्द्र जैन, संदीप त्रिवेदी सहित शिक्षा अधिकारियों एवं ब्लॉक के प्रशिक्षण प्रभारियों ने भाग लिया। 

बैठक के अन्त में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी स्कूल शिक्षा शम्भुलाल नायक द्वारा शिक्षा विभागीय कार्य एवं गतिविधियों को निर्धारित समय पर पूर्ण पादरर्शिता के साथ करवाने जाने हेतु निर्देशित किया गया। बैठक का संचालन धमेन्द्र सिंह चारण सहायक परियोजना समन्वयक ने किया जबकि आभार कार्यक्रम अधिकारी साधना जैन ने माना।

18 शिविरों में 23821 ग्रामीणों ने लिया भाग

जिले में भारत सरकार की फ्लेगशिप योजनाओं (ग्रामीण) के तहत आयोजित विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत सोमवार को जिले की 18 ग्राम पंचायतों में शिविरों का आयोजन किया गया।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद् डॉ. वृद्धिचंद गर्ग ने बताया कि पंचायत समिति गढ़ी क्षेत्र की नवागांव,खेरन का पारड़ा, साकरिया व सेमलिया, बांसवाड़ा की वीरपुर, निचला घंटाला, झरनिया व बड़वी, पंचायत समिति आनंदपुरी की भवानपुरा, नाहरपुरा, कुशलगढ़ की टिमेड़ा बड़ा बड़ी सरवा, टिमेड़ा छोटा व दरोबडिया, पंचायत समिति घाटोल की देलवाड़ा लोकिया, घाटोल, देलवाड़ा रावणा व सवनिया में शिविर आयोजित किये गये। 

उन्होंने बताया कि गढ़ी पंचायत पंचायत समिति की नवागांव ग्राम पंचायत के शिविर में 1475, खेरन का पारडा में 1175, साकरिया में 1325 व सेमलिया में 1250, बांसवाड़ा की वीरपुर में 1283, निचला घंटाला में 1266, झारनिया में 1376 व बड़वी में 1340, पंचायत समिति आनंदपुरी की भवानपुरा में 1127 व नाहरपुरा में 1133, कुशलगढ़ पं.स. की टिमेड़ा बड़ा में 1220, बड़ी सरवा में 1200, टिमेड़ा छोटा में 1290 व दरोबडिया में 1120, तथा घाटोल पं.स. की देलवाड़ा लोकिया में 1760, घाटोल में 1769, देलवाड़ा रावणा में 1062 व सवनिया ग्राम पंचायत में 1650 ग्रामीणों सहित समस्त 18 ग्राम पंचायतों में सम्पन्न शिविरों में कुल 23821 ग्रामीणों ने भाग लिया।

उन्होंने बताया कि कुशलगढ़ क्षेत्र के शिविरों में पूर्व संसदीय सचिव भीमा भाई, प्रधान कानहिंग रावत, बांसवाड़ा शिविर में पूर्व राज्यमंत्री धनसिंह रावत, प्रधान बलवीर सिंह, हकरू मईड़ा, बड़वी सरपंच राकेश मईड़ा, मनोहर व्यास,सरदार पारगी, पंचायत समिति सदस्य इन्दिरा देवी, पिन्टु देवी चरपोटा व पूर्व सरपंच सत्यनारायण मीणा, गढ़ी क्षेत्र के शिविर में गोविन्द सिंह राव, भूपेन्द्र सिंह चारण, पंचायत समिति क्षेत्र आनंदपुरी के शिविरों में जिला परिषद् सदस्य श्रीमती कृष्णा कटारा, विनोद डामोर तथा घाटोल क्षेत्र के शिविर में पूर्व सांसद मानशंकर निनामा, प्रधान हरकू देवी ने भाग लिया। इन शिविरों मंे संबंधित क्षेत्र के एसडीएम, विकास अधिकारी, ब्लॉक स्तरीय अधिकारीगण, प्रिन्सिपल आदि मौजूद रहे।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी.सी. गर्ग ने बताया कि शिविरों में पहुंचेगी वैनों का समस्त ग्राम पंचायतों में भव्य स्वागत किया गया, साथ ही वैन द्वारा प्रधानमंत्री का संबोधन एवं विडिया फिल्म प्रदर्शन किया गया। शिविरों में’’ धरती कहे पुकार के’’ गतिविधि अन्तर्गत सांस्कृतिक कार्यक्रम किये गये तथा फ्लेगशिप योजनाओं से संबंधित समस्त अधिकारियों द्वारा योजनाओं की जानकारी आमजन को दी गई। 

उन्होंने बताया कि आदिनांक तक जिले में कुल 173 ग्राम पंचायतों में शिविर आयोजित किये जा चुके हैं, जिनमें 170239 ग्रामीणों की उपस्थिति रही। शिविरों के दौरान किसानों को सतत कृषि योजनान्तर्गत नैनो फर्टिलाईजर्स तकनीक की जानकारी के साथ 75372 लाभार्थियों की हैल्थ स्क्रिनिंग, 3941 लाभार्थियों को सुरक्षा बीमा योजना, 1555 लाभार्थियों को जीवन ज्योति योजना, 6562 को पी.एम. किसान सम्मान निधि योजना, 1973 लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड, उत्कृष्ट खिलाडि़यों एवं कलाकारों को पुरस्कार वितरण कर लाभान्वित किया गया।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद डॉ. वी.सी. गर्ग द्वारा पंचायत समिति बांसवाडा की निचला घंटाला एवं बड़वी में विकसित भारत संकल्प यात्रा के शिविरों का निरीक्षण किया गया, जिसमें अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

आज यहां लगंगे शिविर

मंगलवार को पंचायत समिति गढ़ी क्षेत्र की भीमसौर, बोरी, खेड़ा व चौपासाग ग्राम पंचायत, बांसवाड़ा की उपला घंटाला, बोरिया व पलासवानी, आनंदपुरी की चांदरवाड़ा व पाटिया, कुशलगढ़ की घाटा, महुड़ा, सब्बलपुरा व वरसाला तथा घाटोल क्षेत्र की कानजी का गड़ा, गोलियावाड़ा, बड़ी पडाल व उदाजी का गढ़ा ग्राम पंचायत में शिविर आयोजित होंगे।


 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal