Bhilwara-2 जुलाई 2024 की प्रमुख खबरे


Bhilwara-2 जुलाई 2024 की प्रमुख खबरे

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े Udaipur Times पर 

 
News from Bhillwara 31 August, Latest News from Bhilwara
UT WhatsApp Channel Join Now

News-सिविल रजिस्ट्रेशन प्रणाली की जिला स्तरीय अंतर्विभागीय समन्वय समिति की बैठक आयोजित

भीलवाड़ा, 2 जुलाई। जिले में घटित होने वाली जन्म-मृत्यु, मृत जन्म एवं विवाह की सभी घटनाओं का नियमित एवं शत प्रतिशत पंजीयन सुनिश्चित करने हेतु जिले में रजिस्ट्रीकरण से जुड़े सभी संबंधित विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर पंजीयन कार्य के मूल्यांकन करने एवं सुधार करने हेतु जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर श्री नमित मेहता की अध्यक्षता में आयोजित की गई।

जिला रजिस्ट्रार (जन्म-मृत्यु) एवं उप निदेशक डॉ सोनल राज कोठारी ने जून 2024 तक की पेंडेंसी रिपोर्ट प्रस्तुत की। जिला कलक्टर नमित मेहता ने सभी घटनाओं का शत प्रतिशत पंजीयन करने एवं लम्बित प्रमाण पत्रों पर ई-साईन करने हेतु संबंधित को पाबंद करने हेतु निर्देश दिये ताकि आमजन को प्रमाण पत्र समय पर उपलब्ध हो सके।

सतत् विकास लक्ष्य 2030 की जिला स्तरीय क्रियान्वयन एवं मॉनिटरिंग समिति की बैठक आयोजित

इसके पश्चात सतत् विकास लक्ष्यों की वर्ष 2030 तक प्राप्ति हेतु जिला स्तरीय क्रियान्वयन एवं मॉनिटरिंग समिति की बैठक मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में आयोजित की गई।

सदस्य सचिव एवं उप निदेशक डॉ सोनल राज कोठारी ने राजस्थान इंडेक्स 5.0 की रिपोर्ट दर्शा कर बताया कि भीलवाडा जिला 62.25 स्कोर के साथ राज्य में चौथे स्थान पर है एवं लैंगिक समानता एवं थलीय जीवन की सुरक्षा में सुधार की आवश्यकता हैं। इस संबंध में जिला कलक्टर नमित मेहता ने महिलाओं के खिलाफ अपराध एवं दहेज के प्रकरणों में सुधार हेतु संबंधित को निर्देश दिये एवं आमजन में जागरूकता फैलाने को कहा।

News-बिजली के ढीले तारों को कसने, विद्युत-पेयजल व्यवस्था दुरूस्त रखने, जर्जर भवनों के सर्वे के दिये निर्देश

भीलवाड़ा, 2 जुलाई। जिला स्तरीय साप्ताहिक समीक्षा बैठक मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला कलक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस दौरान जिला कलक्टर ने समय से समस्त नालों-नालियों की समुचित सफाई करने के सख्त निर्देश देते हुए कहा कि बरसाती पानी की निकासी को लेकर समस्या नहीं आनी चाहिए।

जिला कलक्टर ने कहा कि नगर निकाय क्षेत्र में समय से नालों-नालियों की सफाई पूर्ण करवाई जाये ताकि बरसाती पानी की निकासी हो सके। साथ ही उन्होंने नगरपरिषद आयुक्त व यूआईटी के अधिकारियों के साथ-साथ समस्त नगरपालिकाओं के अधिशाषी अधिकारियों को नालों की सफाई कार्यवाही गंभीरतापूर्वक समय से करने के लिए निर्देशित किया। जिला कलक्टर ने नगर परिषद और यूआईटी को नालों की सफाई के कार्य में तेजी लाने तथा निकाले गए मलबे के निस्तारण सही से करने के निर्देश दिए। उन्होंने किसी भी संभावित दुर्घटना से बचाव के लिए सफाई के बाद नालों को वापस सही से ढकने की बात भी कही। जलभराव की समस्या ना हो, इसके लिए आवश्यक तैयारी करने, खुले चैंबर ढकने, गड्ढे भरवाने के निर्देश दिए। 

जिला कलक्टर नमित मेहता ने मानसून के मद्देनजर संभावित मौसमी बीमारियों की रोकथाम और जलभराव वाले क्षेत्रों को चिन्हित कर यहां विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए।

जिला कलक्टर ने कहा कि मानसून के दृष्टिगत मौसमी बीमारियों पर नियंत्रण के लिए बरसाती जल का ठहराव नहीं हो, इसके मद्देनजर सीएमएचओ डॉ सीपी गोस्वामी को जिले भर में एंटी लार्वा गतिविधियां करवाने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि आवश्यकता अनुसार फॉगिंग की जाए। ठहरे हुए पानी में गम्बूसिया मछलियां डाली जाए। अस्पतालों में आवश्यक दवाइयों की उपलब्धता, इंटीग्रेटेड वार्ड बनाने व स्वास्थ्य कार्मिकों को अलर्ट मोड पर रखने के निर्देश दिए।

उन्होंने  चिकित्सा विभाग और शिक्षा विभाग द्वारा संयुक्त अभियान चलाकर डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया व मौसमी बीमारियों के प्रति जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए। चिकित्सा संस्थानों में सुरक्षात्मक उपाय अपनाने, मौसमी बीमारियों की रोकथाम, आपातकालीन स्थितियों से निपटने सहित विभिन्न तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश निचले स्तर तक दिए।

बिजली के ढीले तारों को कसने, रख-रखाव के कार्यों की प्रभावी मॉनिटरिंग के दिए निर्देश

उन्होंने विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान मानसून को देखते हुए विभाग के द्वारा किए जाने वाले रख-रखाव के कार्यों की प्रभावी मॉनिटरिंग करते हुए पूर्व से ही उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए। पीएचईडी के अधिकारी से पेयजल सप्लाई दुरुस्त रखने की बात कही। साथ ही डिस्कॉम के अधिकारी को पानी की सप्लाई वाले फीडर की विद्युत सप्लाई निर्बाध रखने ले लिए निर्देशित किया।

जिला कलक्टर ने डिस्कॉम के अधिकारियों को ढीले तारों को कसने, विद्युत व्यवस्था सुचारू बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में ट्रांसफार्मर, पोल, कंडक्टर एवं अन्य उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

टीमें बनाकर जर्जर भवनों के सर्वे करवाने के निर्देश

उन्होंने नगर परिषद आयुक्त कों टीमे भेजकर जर्जर भवनों के सर्वे करवाने और किसी भी दुर्घटना से बचाव के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में सभी स्वीकृत श्री अन्नपूर्णा रसोइयों का संचालन सुनिश्चित करने के लिए सीईओ जिला परिषद व नगर परिषद आयुक्त को निर्देश दिए। 

इस अवसर पर एडीएम प्रशासन रतन कुमार, सीईओ जिला परिषद शिवपाल जाट, एसडीएम आव्हाद नि सोमनाथ, नगर परिषद आयुक्त हेमाराम चौधरी, यूआईटी ओएसडी मोहम्मद ताहिर सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

News-पौधारोपण जन जन का आंदोलन बनें: जिला कलक्टर

भीलवाड़ा 1 जुलाई। मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा के विजन हरित राजस्थान को साकार करने के उद्देश्य से भीलवाड़ा में सघन पौधारोपण को सफल बनाने के लिए जिले के गैर सरकारी संगठनों की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए जिला कलेक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिले के विभिन्न एनजीओ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित की। 

जिला कलेक्टर मेहता ने कहा कि अभियान की सफलता के लिए एनजीओ जिला प्रशासन के साथ मिलकर समन्वय कर एक एक साइट गोद लें । उन्होंने कहा कि जो भी पेड़ लगाएं जाए वे मात्र ओपचारिकता नहीं होकर सच्चे मन से यह कार्य करेंगे तो उन्हें एक सुकून का एहसास होगा। उन्होंने कहा की पौधरोपण के बाद पौधो की देखभाल भी की जाए। l

जिसमें जिले के समस्त गैर सरकारी संगठन सघन वृक्षारोपण अभियान में अपनी अहम भूमिका सुनिश्चित करेंगे तो जिले को हरित भीलवाड़ा बनाने में सफलता मिलेगी। इसलिए मेरी सभी एनजीओ प्रतिनिधियों से अपील है कि वे संबन्धित स्थानों एवं परिसरों में सघन वृक्षारोपण कर अभियान को सफल बनाएँ।

जिला कलेक्टर मेहता ने मार्मिक अपील करते हुए कहा कि जिले में प्रत्येक व्यक्ति माननीय मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा की इस करुणामई पहल में अपना योगदान देकर स्वयं के एवं आने वाली पीढ़ी के हित में अपनी अहम भूमिका अदा करें। मानवीय जीवन की इसी आवश्यकता के मर्म को संवेदनशीलता से समझते हुए मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य सरकार ने इस अभियान की शुरूआत की है। 

बैठक में लघु उद्योग भारती, अपना संस्था, एफईएस संस्था, मुस्कान फाउंडेशन, संकल्प पर्यावरण संस्था सहित विभिन्न एनजीओ के प्रतिनिधि के प्रतिनिधि, सीईओ जिला परिषद शिवपाल जाट, नगर परिषद आयुक्त हेमाराम चौधरी, जिला शिक्षा अधिकारी योगेश पारीक एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहें। 

News-गरीब अनुसूचित जाति वर्ग के आशार्थियों के लिए 50 हजार रूपये तक का ऋण
पीएम अजय योजना के अन्तर्गत होंगे लाभान्वित

भीलवाड़ा, 02 जुलाई। राजस्थान अनुसूचित जाति जनजाति वित्त एवं विकास सहकारी निगम लि0, भीलवाडा द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के तहत स्वरोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री अनुसूचित जाति अभ्युदय (पीएम-अजय) योजना अन्तर्गत गरीब अनुसूचित जाति के आशार्थियों को बैंको के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराये जायेंगे। 

अनुजा निगम की परियोजना प्रबंधक ने बताया कि आशार्थी ग्रामीण क्षेत्र में सम्बन्धित पंचायत समिति एवं शहरी क्षेत्र में नगरपरिषद् या नगरपालिका एवं अनुजा निगम कार्यालय, कलेक्ट्रेट परिसर (दूरभाष संख्या-01482-232625) में सम्पर्क कर सकतें है। योजना की ईकाई लागत का 50 प्रतिशत या रूपये 50,000/- जो भी कम हों अनुदान स्वरूप दिया जाता है।

उन्होंने बताया कि यह ऋण किसी भी व्यवसाय जैसे कृषि एवं मृदा संरक्षण में बीज/पौधे/उर्वरक/कीटनाशक आदि का वितरण, शहद मधुमक्खी पालन और प्रसंस्करण, फल और सब्जियां उगाने, छोटी नर्सरी, बीज फार्म, दुधारू मवेशियों और डेयरी फार्मिंग के लिए सहायता, मुर्गी पालन के लिए सहायता, बकरी/भेड़ के लिए सहायता, मछली पालन, हथकरघा और कपड़ा उद्योग, विनिर्माण ईकाईयां, चमड़ा ईकाईयां, फर्नीचर ईकाईयां, मुद्रण, ईंट बनाने की ईकाईयां, रबर ईकाईयां, पेंट और कोटिंग ईकाईयां, रेडीमेड वस्त्र ईकाईयां, खुदरा दुकानें, किराना एवं शोरूम, रत्न एवं आभूषण ईकाईयां, इलेक्ट्रानिक्स ईकाईयां, बेकरी ईकाईयां, बूटीक, ब्यूटी पार्लर, नलसाजी ईकाईयां, ऑटो, ऑटोमोबाईल मरम्मत ईकाईयां, मीडिया और मनोरंजन, स्वास्थ्य देखभाल, कपडे धोने के साबुन व पाउडर बनाना, स्टेशनरी की दुकान, फोटोग्राफी, होजरी की दुकान, ऑटो मेकेनिक, बिजली के सामान, कम्प्यूटर कार्य, मोबाइल दुकान इत्यादि किसी भी कार्य हेतु दिया जा सकता है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal