भीलवाड़ा-24 फ़रवरी 2024 की प्रमुख खबरे

भीलवाड़ा-24 फ़रवरी 2024 की प्रमुख खबरे

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर 

 
News from Bhillwara 31 August, Latest News from Bhilwara

News-संयुक्त निदेशक जोन उदयपुर डॉ प्रकाश शर्मा ने किया भीलवाडा का दौरा                             

भीलवाडा, 24 फरवरी। हाल ही में डॉ. प्रकाश शर्मा को संयुक्त निदेशक, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाऐं जोन उदयपर नियुक्त किया गया है। शनिवार को संयुक्त निदेशक, जोन उदयपुर डॉ प्रकाश शर्मा ने भीलवाडा का दौरा कर जिले में आमजन को उपलब्ध करवाई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं की प्रगति की जानकारी ली। 

इस दौरान सीएमएचओ कार्यालय भीलवाडा में नवनियुक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सीपी गोस्वामी सहित स्टाफ ने संयुक्त निदेशक डॉ शर्मा का पुष्प गुच्छ भेंट कर फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया और बधाई प्रेषित की।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सीपी गोस्वामी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि संयुक्त निदेशक डॉ प्रकाश शर्मा ने चिकित्सालय, माण्डल में भ्रमण कर स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी ली तथा माण्डल में बन रहे नये निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण भी किया।

News-122.03 करोड़ रुपए की लागत से 6229 कार्य होंगे, किया जाएगा जल संरक्षण 

भीलवाड़ा, 24 फरवरी। मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान 2.0 की विस्तृत कार्य योजना (डीपीआर) के अनुमोदन को लेकर शनिवार को जिला कलक्टर श्री नमित मेहता की अध्यक्षता में जिला कलक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित हुई। बैठक में जिला स्तर से मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान 2.0 अन्तर्गत 14 पंचायत समितियों की डीपीआर का जिला स्तरीय समिति से अनुमोदन किया गया। 

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन रतन कुमार, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद मोहनलाल खटनावलिया, अधीक्षण अभियंता वाटरशेड जितेन्द्र कोठारी , एसई पीडब्ल्यूडी पीआर मीणा सहित कनिष्ठ अभियंता, सहायक अभियंता आदि मौजूद रहे। अधीक्षण अभियंता वाटरशेड जितेन्द्र कोठारी ने कार्ययोजना की विस्तृत जानकारी दी। 

बैठक में जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि योजना के अंतर्गत किए जाने वाले कार्यों की महत्वपूर्ण उपयोगिता है। भावी पीढ़ी के लिए यह उपयोगी साबित होंगे। इसलिए अधिकारी व संबंधित विभाग पूरी रुचि के साथ फील्ड पर जाकर कार्यों की देखरेख करें। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि योजना के अंतर्गत अनुमोदित डीपीआर के कार्यों को निर्धारित समय पर पूर्ण करें, टाइमलाइन का विशेष ध्यान रखें। 

14 पंचायत समिति के 101 ग्राम पंचायतों का चयन

बैठक में योजना के अंतर्गत जिले की 14 पंचायत समितियों के 101 ग्राम पंचायतों की 238 गांवों का चयन किया गया है। जिनका 78 हजार 488 हेक्टेयर क्षेत्र योजना से लाभान्वित होगा। 

किस पंचायत समिति में कितना खर्च

मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना 2.0 के तहत पंचायत समितियों में कुल 6229 कार्यों के लिए 122.034 करोड़ रुपए के जल संरक्षण कार्य करवाए जायेंगे। जिसमें 9.03 करोड़ के 28 कार्य कन्वर्जेंस से तथा विभागीय योजना से 41.06 करोड़ के 1694 कार्य तथा मनरेगा से 38.20 करोड़ के 2906 कार्य तथा राज्य निधि से 33.73 करोड़ के 1601 कार्य शामिल है। 

पंचायत समिति आसींद में 456 कार्यों के लिए 11.56 करोड़, पंचायत समिति बदनोर में 240 कार्यों पर 430.57 लाख, पंचायत समिति बनेड़ा में 695 कार्यों पर 1141.05 लाख, पंचायत समिति बिजोलिया में 506 कार्यों पर 971.78 लाख, पंचायत समिति हुरड़ा में 318 कार्यों पर 995 लाख, पंचायत समिति जहाजपुर में 397 कार्यों पर 850.16 लाख, पंचायत समिति करेड़ा में 441 कार्यों पर 839.17 लाख, पंचायत समिति कोटडी में 294 कार्यों पर 840.11 लाख, पंचायत समिति मांडल में 501 कार्यों पर 825.68 लाख, पंचायत समिति मांडलगढ़ में 840 कार्यों पर 1109.03 लाख, पंचायत समिति रायपुर में 423 कार्यों पर 796.16 लाख, पंचायत समिति सहाड़ा में 338 कार्यों पर 738.22 लाख, शाहपुरा पंचायत समिति में 325 कार्यों पर 795.69 लाख, पंचायत समिति सुवाणा में 455 कार्यों पर 714.81 लाख रुपए से जल संरक्षण के काम होंगे।

योजना के यह है उद्देश्य: 

आम जनता से चर्चा कर प्राथमिकता से पक्के एनीकट, डब्ल्यूएचएस का निर्माण कराना, जिससे कृषि उत्पादन में वृद्धि एवं बंजर  भूमि को उपजाऊ बनाया जाकर कृषकों की सामाजिक एवं आर्थिक स्थिति को करना उद्देश्य है। विभिन्न वित्तीय संसाधनों का कन्वर्जेन्स कर परम्परागत पेयजल / जल स्त्रोंतों को पुनर्जीवित करना, नवीन जल स्रोतों का निर्माण, जल एवं मृदा संरक्षण के कार्य एवं वर्षा जल संरक्षण संरचनाओं की गतिविधियों का प्रभावी कियान्वयन किया जाएगा। गांवों में पेयजल की कमी को दूर करने हेतु पीने के पानी गांवों के नजदीक उपलब्ध कराने के प्रयास किया जाएगा। भू-जल स्तर में वृद्धि एवं गिरते भू-जल स्तर को रोकना, वर्षा जल संग्रहण एवं संरक्षण कर सिंचित एवं कृषि योग्य क्षेत्रफल को बढाना, जल एवं मृदा संरक्षण के प्रति जागरूकता पैदा करना तथा सघन वृक्षारोपण कर राज्य में हरित क्षेत्र को बढाना उद्देश्य है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal