चाइल्ड फ्रेंडली जोन बनेंगे सुखाड़िया सर्कल और सहेली मार्ग

चाइल्ड फ्रेंडली जोन बनेंगे सुखाड़िया सर्कल और सहेली मार्ग 

हनुमान पार्क व नीमच खेड़ा इलाका भी होगा विकसित

 
सुखाड़िया सर्किल व् सेहली मार्ग पर बनेगा चाइल्ड फ्रेंडली जोन

शहर के सुखाडिया सिर्कल व सेहली मार्ग को चाइल्ड फ्रेंडली बनाया जाएगा। इसमें बच्चों और अभिभावकों के लिए शहर को सरल, सुगम और सुरक्षित बनाने के लिए कई फैसले लिए गए। निगम आयुक्त वासुदेव मालावत की अध्यक्षता में गुरुवार को कई संस्थाओं की बैठक हुई। जिसमें सहेली मार्ग और सुखाड़िया सर्किल को चाइल्ड फ्रेंडली बनाने, गुलाब बाग में बर्ड पार्क के पास खाली पड़ी जमीन पर सेंसरी पार्क बनाने, अशोक नगर स्थित हनुमान पार्क और आसपास के क्षेत्र को चाइल्ड प्रायोरिटी जाेन के रूप में विकसित करने जैसे नवाचारों पर आगे बढ़ने पर सहमति बनी। 

सेंसरी पार्क में छोटे पहाड़, रोप क्लाइंबिंग, म्यूजिकल फाउंटेन सहित कई चीज़ें होंगी

  • सेंसरी पार्क में छोटे पहाड़, रोप क्लाइंबिंग, म्यूजिकल फाउंटेन, फ्लावर बैड, सेंड पिट, खेल एरिया सहित अन्य सुविधाएं होंगी।
  • इसके अलावा गोवर्धन सागर स्थित इंदिरा कॉलोनी आंगनबाड़ी केंद्र व सेक्टर-14 स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की परियोजना रिपोर्ट बनाने और इन्हें विकसित किए जाने संबंधी फैसलों पर आपसी सहमति बनी।
  • अधिशासी अभियंता शशिबाला ने सड़कों में सुधार के लिए यूआईटी से सहयोग का प्रस्ताव रखा। बैठक में सामने आया कि किसी भी शहरी क्षेत्र को 95 सेमी की लंबाई के बच्चे के नजरिए से विकसित करें तो उसे हर आयु वर्ग के लिए सुंदर सुरक्षित और सुगम बनाया जा सकता है

ऐसे होंगे विकसित

बैठक में बर्नार्ड वेन लीयर फाउंडेशन, इकली साउथ एशिया, इकोरस इंडिया तथा जतन संस्थान के सहयोग से संचालित अर्बन-95 परियोजना के पदाधिकारियों ने भाग लिया। समेकित बाल विकास उपनिदेशक कीर्ति राठौड़ ने मनोहरपुरा आंगनबाड़ी केंद्र और सेक्टर-11 स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को चाइल्ड फ्रेंडली बनाने संबंधी कार्यों की प्रशंसा करते हुए शहर के अन्य केंद्रों को भी विकसित करने का सुझाव दिया। बर्नार्ड वेन लीयर फाउंडेशन की प्रतिनिधि इप्शिता सिन्हा ने कहा कि अर्बन-95 प्रोग्राम का उद्देश्य 5 साल तक के बच्चों का समग्र विकास पर ध्यान केंद्रित करना है।

सेंसरी पार्क में छोटे पहाड़, रोप क्लाइंबिंग, म्यूजिकल फाउंंटेन सहित कई चीजें होंगी

  • निगम आयुक्त ने सेंसरी पार्क के प्रेजेंटेशन को देखने के बाद उसकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट और डिजाइन को सहमति दे दी। इसके बाद समिति ने इस पार्क को विकसित करने वाली फर्म के साथ 5 साल तक इसके संचालन और मेंटेनेंस संबंधी कार्यों के लिए अनुबंध किया।

  • सहेली मार्ग पर यूआईटी चौराहा से सहेलियों की बाड़ी तक और सोनी अस्पताल से सुखाड़िया सर्किल तक के मार्ग को चाइल्ड फ्रेंडली (सुगम और सुरक्षित) बनाने पर भी सहमति बनी। सिटी ट्रैफिक इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह ने इन दोनों मार्गों पर ट्रैफिक नियंत्रण और अभय कमांड के सहयोग से सीसीटीवी कैमरा लगाकर मॉनिटरिंग रखने पर सहमति दी। इन मार्गों पर बच्चों के लिए सुगम फुटपाथ, छायादार बैठक स्थान, वेंडर जाेन विकसित करने सहित कई कार्य होंगे।

  • आसपास के क्षेत्र को अशोक नगर स्थित हनुमान पार्क, नीमच खेड़ा गवरी चौक और बच्चों के लिए चाइल्ड प्रायोरिटी जाेन बनाने की डीपीआर पर भी विस्तृत चर्चा के बाद सहमति दी गई। सभी परियोजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए एक ऑनलाइन मॉनिटरिंग डेशबोर्ड बनाने और उसे निगम की वेबसाइट से लिंक करने का निर्णय लिया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal