डूंगरपुर-24 जनवरी 2024 की प्रमुख खबरे

डूंगरपुर-24 जनवरी 2024 की प्रमुख खबरे

ज़िले से सबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर

 
news from dungarpur, dungarpur  news, latest news from dungarpur

News-राष्ट्रीय बालिका दिवस पर महिला अधिकारिता विभाग, डूंगरपुर का नवाचार- कॉफी विद् कलक्टर

डूंगरपुर, 24 जनवरी। जिला स्तरीय उत्कृष्ट बालिका प्रतिभा सम्मान समारोह एवं कॉफी विथ कलक्टर कार्यक्रम जिला प्रशासन एवं महिला बाल अधिकारिता विभाग के तत्वावधान में बुधवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय मैरिज हॉल डूंगरपुर में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में जिला कलक्टर अंकित कुमार सिंह ने डूंगरपुर के सभी 10 ब्लॉक की राजकीय विद्यालयों की छात्राओं के साथ संवाद किया। उपवन संरक्षक रंगास्वामी और मुख्य कार्यकारी अधिकारी गितेश श्री मालवीय ने भी छात्राओं की जिज्ञासा और शंकाओं का समाधान किया। कार्यक्रम में जिला कलक्टर अंकित कुमार सिंह ने कहा कि बालिकाओं को प्रोत्साहित करने के लिए कई जिलों में इस प्रकार का कार्यक्रम हो रहे हैं। इस तरह के कायक्रमों से बेटियों के आत्मविश्वास में वृद्धि होती है।  

छात्राओं के सवाल, जिला कलक्टर के जवाब

कॉफी विथ कलक्टर कार्यक्रम में लगभग दो घंटे तक जिला कलक्टर ने छात्राओं के कॅरियर निर्माण, पढ़ाई, आईएएस बनने की तैयारी, स्पोर्ट्स, मानसिक तनाव, आत्मविश्वास, जीवन में सफलता, असफलता का सामना कैसे करें, चुनौतियों से कैसे निपटें, सामाजिक परिवर्तन सहित अन्य महत्त्वपूर्ण बिंदुओं पर सवालों और जिज्ञासाओं को आत्मीयता पूर्वक सुनकर समाधान किया।  कक्षा 11वीं की छात्रा यशस्वी गोस्वामी ने जिला कलक्टर से पूछा कि हमारे पास कोई प्लान बी भी होना चाहिए या जो लक्ष्य निर्धारित किया है, उसी की प्राप्ति के लिए डटे रहना चाहिए। 

इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि सही समय पर सही मार्गदर्शन प्राप्त करते हुए एक लक्ष्य निर्धारित करना चाहिए। इसके साथ ही प्लान-बी भी तैयार रखें। मान लो, कोई आईएएस बनना चाहता है, लेकिन पहले अपने आस-पास या माता-पिता को यह भरोसा दिलवाना होगा कि आप अपने लक्ष्य के प्रति कितने गंभीर हैं। यदि आप अपने लक्ष्य के प्रति गंभीर हैं और उसी के अनुरूप तैयारी कर रहे हैं, तो हर माता-पिता अपने बच्चे का साथ देते हैं। 

कक्षा-9वीं की छात्रा तनीषा लबाना ने पढ़ाई के दौरान डिप्रेशन से बचने का उपाय पूछा। इस पर जिला कलक्टर ने कहा कि आपको कोई भी परेशानी आती है तो घर पर अपने माता-पिता और विद्यालय में अध्यापक को खुलकर अपनी परेशानी बताएं, अपने सहपाठी से वार्तालाप करें। हर समस्या का समाधान मिल ही जाएगा। उन्होंने कहा कि स्कूल और प्रशासन के माध्यम से स्कूलों में डिप्रेशन दूर करने और काउंसलिंग के लिए इस प्रकार के आयोजन होने चाहिए। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित अधिकारी और कार्मिकों को इस प्रकार छात्र जीवन में आने वाली समस्याओं का समाधान करने के निर्देश दिए। 

कार्यक्रम में राउमावि ठाकरड़ा की छात्रा सुजान खान ने भारतीय प्रशासनिक अधिकारी (आईएएस/आईपीएस) की तैयारी के लिए सुझाव मांगने पर जिला कलक्टर ने कहा कि लक्ष्य निर्धारित होना अच्छी बात है, परन्तु लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने के लिए आपको स्टेप बाए स्टेप आगे बढ़ना चाहिए। जैसे कक्षा-10वीं, 12वीं एवं स्नातक होना आवश्यक हैं। छात्राओं ने विषय के अनुरूप सिविल सर्विस की तैयारी के लिए सर्वाधिक तैयारियों को लेकर प्रश्न किए। 

उपवन संरक्षक रंगास्वामी ई. ने सिविल सेवाओं में आर्ट्स के मुकाबले साइंस को ज्यादा वरीयता देने को लेकर सवाल के जवाब में कहा कि सिविल सेवा परीक्षा में सर्वाधिक प्रश्न भूगोल, इतिहास, पॉलिटिकल (आर्ट्स) से आते हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए स्नातक की डिग्री होना आवश्यक हैं। जिला परिषद सीईओ गितेश श्री मालवीय ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि पढ़ाई करके सिर्फ सरकारी नौकरी करना उद्देश्य नहीं हैं। अपने अच्छे बिजनेस, फार्मर और एक अच्छे वक्ता के रूप में अपनी प्रतिभाएं निखार सकते हैं। उन्होंने कहा कि अपनी रूचि अनुरूप अपने विषय का चयन करें। पढ़ाई का अंतिम लक्ष्य नौकरी पाना नहीं होना चाहिए। कार्यक्रम में डूंगरपुर जिले के 10 ब्लॉकों की लगभग 100 बालिकाओं को सम्मानित भी किया। छात्राओं ने जिला कलक्टर के साथ सेल्फी ली और गु्रप फोटो भी खिंचवाए।

कार्यक्रम में महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक मोतीलाल मीणा ने बताया कि कार्यक्रम का उद्देश्य बेटियों में आत्मविश्वास का संचार कर उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करना है। इससे बेटियों की झिझक दूर करने, उन्हें जीवन में बडे़ लक्ष्य निर्धारित करने और किसी भी प्रकार के उत्पीड़न के विरोध में आवाज उठाने तथा समाज में महिलाओं के प्रति सकारात्मक सोच और आत्मविश्वास के साथ गरीमामय जीवन जीने का वातावरण तैयार करने में मदद मिलेगी। इस अवसर पर जिला युवा अधिकारी प्रदीप कुमार मीणा सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। मंच संचालन वैभव पाठक ने किया।

News-वाहन रैली निकाल कर दिया सड़क सुरक्षा जागरूकता का सन्देश

राष्ट्रीय सडक सुरक्षा माह, परिवहन मुख्यालय जयपुर एवं राष्ट्रीय राजमार्ग एव परिवहन विभाग से प्राप्त निर्देशों के क्रम में पूरे देश में 15 जनवरी से 14 फरवरी तक राष्ट्रीय सडक सुरक्षा माह का आयोजन किया जा रहा है। जिला परिवहन अधिकारी अनिल माथुर ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट के अनुसार सडक दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यु दर में भारत पहले स्थान पर है। देश में सडक दुर्घटनाओं एवं सडक दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यु दर में कमी लाने के लिए सघन जन जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। 

कार्यालय के परिवहन निरीक्षकों ने 23 जनवरी को वाहनों की सघन जांच करते हुए 84 चालान बनाकर 2.85 लाख रूपये जुर्माना वसुल किया गया। 24 जनवरी बुधवार को जिला प्रशासन, जिला पुलिस तथा जिला परिवहन एवं सडक सुरक्षा विभाग के संयुक्त तत्वावधान में सड़क सुरक्षा जन जागरूकता के लिए राजकीय देवेन्द्र उच्च माध्यमिक विद्यालय, घाटी डूंगरपुर स्कुल में विधार्थियों को सडक सुरक्षा की जानकारी प्रदान की जिसमें यातायात शाखा प्रभारी भुपेन्द्र सिंह, विपिन जोशी, गजराज सिंह परिहवन विभाग के किशनलाल परिवहन निरीक्षक, प्रवीण कलाल, हिमांशुराज सिंह, भरत मीणा ने विधार्थियों से विचार साझा किए। चोलामण्डलम फाईनेंस गु्रप एवं जिला प्रशासन के सयुक्त तत्वावधान में डूंगरपुर शहर में बाईक रैली निकाली गई। बाईक रैली को परिवहन निरीक्षक किशनलाल, यातायात शाखा प्रभारी भुपेन्द्रसिंह चोलामण्डलम गु्रप के ब्रांच इंचार्ज नागेन्द्र सिंह, प्रवीण कलाल, हिमांशुराज सिंह, समाज सेवी नरेन्द्र आर्य ने रैली को मशाल जलाकर रवाना किया। 

रैली रतनपुर मार्ग से प्रारम्भ हो तहसील चौराहा होते हुए शहर में रोडवेज बस स्टेण्ड, हॉस्पीटल चौराहा होते हुए लक्ष्मण ग्राउण्ड में आकर समाप्त हुई। बाईकर्स ने रैली के माध्यम से सड़क सुरक्षा से संबंधित नियमों के पालना हेतु लोगो मे जागरूक होने के लिए आह्वान किया गया।  
परिवहन निरीक्षक विनय सिंह, किशनलाल, जुहारमल मीणा ने बिछीवाडा राजमार्ग पर वाहन चालकों को यातायत नियमों के बारे में जानकारी दी एवं दुर्घटना में घायलों के मदद के गुड सेमेरिटन के बारे में जानकारी देते हुए पेम्पलेट वितरित किए। वाहनों के जिनके कागजातों की वेलिडीटी समाप्त हो गई उनमें बिना चालान अपने वाहन के कागजात पूर्ण करने के लिए परिवहन विभाग, जिला प्रशासन एवं पुलिस विभाग द्वारा जन जागृती अभियान के द्वारा दुपहिया वाहनों के डिक्की पर यातायात नियमों की पालना एवं दस्तावेजों के नवीनीकरण से संबंधित स्टीकर चस्पा किए गए, जिससे वाहन स्वामी को हमेशा वाहनों के दस्तावेज नवीनीकरण एवं यातायात नियमों की पालना करने के लिए सजग करें। 

स्टीकर लगाने में परिवहन निरीक्षक जुहारमल मीणा, विनय सिंह, किशनलाल तेली, नागेन्द्र रोत सहायक लेखाधिकारी प्रथम, प्रवीण कलाल सहायक प्रोग्रामर, हिमांशुराज सिंह सूचना सहायक, मयंक गमेती सुचना सहायक, करमचंद बामणीया वरिष्ठ सहायक, भरत मीणा कनिष्ठ सहायक, शैलेन्द्र सिंह कनिष्ठ सहायक, द्वारा किया गया। कार्यक्रम में रफिक मोहम्मद, लक्ष्मण सिंह, अरविन्दसिंह, हसुमुद्दीन, पोपट लाल, कमलेश साद, दिनकर, लक्ष्मण, बंटी तम्बोली, शैलेन्द्र जोशी, अंकित टेलर, अमित अहारी, एमएमबी ग्रुप एवं नेहरू युवा केंन्द्र के स्वयंसेवकों द्वारा जन जागरूकता का कार्य जिला युवा अधिकारी प्रदीप के नेतृत्व में किया गया।

News-राष्ट्रीय बालिका दिवस सम्पन्न

अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक, समग्र शिक्षा अभियान जिला डूंगरपुर के तत्वावधान में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस बुधवार को अम्बेडकर सामुदायिक भवन, शिवाजी नगर में किया गया। अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक समग्र शिक्षा ने बताया कि कार्यक्रम की थीम नई उड़ान-नए सपने शिक्षा से समता तक पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि समाजसेवी प्रभू पण्ड्या, रणछोड़लाल डामोर, विशिष्ट अतिथि लोकेश चौबीसा, एपीसी समग्र शिक्षा डूंगरपुर प्रधानाचार्य रेणुका शर्मा तथा आज के रोल मॉडल के रूप में भारती पण्ड्या, उप प्रधानाचार्य राजकीय देवेन्द्र बालिका उमावि डूंगरपुर एवं अंतर्राष्ट्रीय सूर्य नमस्कार प्रतियोगिता गोल्ड मैडल विजेता मोली भट्ट एवं राज्य स्तरीय योगा ओलम्पियाड में सिल्वर मेडल सुश्री मनस्वी चौहान मंचाशीन अतिथि थे। कार्यक्रम प्रभारी समसया पीओ राजेश राठौड़ रहे। 

कार्यक्रम के शुभारंभ में पीओ राजेश राठौड़ द्वारा स्वागत उद्बोधन किया गया। कार्यक्रम में सभी ब्लॉकों से श्रेष्ठ प्रतिभावन 130 व 30 जेण्डर चौम्पियन शिक्षक, शिक्षिकाओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में डूंगरपुर जिले के सभी ब्लॉकों से तथा जिले की सभी केजीबीवी से आई बालिकाओं द्वारा बहुत सुंदर प्रस्तुतियां एवं अन्य गतिविधियां प्रस्तुत की गई। उमेश त्रिवेदी, राहुल पटेल, ख्याति शर्मा, प्रतिक्षा भावसार, गीतांजली रावल की महत्वपूर्ण भूमिका रही। आभार कार्यक्रम अधिकारी राजेश राठौड़ द्वारा व्यक्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन लता पण्ड्या एवं दत्तेश पण्ड्या द्वारा किया गया।

News-उपखण्ड अधिकारी ने किया सीएचसी व तहसील पाल देवल का औचक निरीक्षण

डूंगरपुर, 24 जनवरी। उपखण्ड अधिकारी डूंगरपुर नीरज मिश्र ने बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पाल देवल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डॉ. मुकेश कटारा व अन्य स्टाफ उपस्थित मिला। साथ ही पूरे अस्पताल परिसर का निरीक्षण किया और समय-समय पर साफ-सफाई करने के निर्देश दिए। इसके पश्चात् उपखण्ड अधिकारी नीरज मिश्र ने तहसील पाल देवल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान तहसीलदार पाल देवल ईश्वर पण्डवाल व अन्य स्टाफ से कार्य प्रगति की समीक्षा कर समयबद्व कार्य निपटाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

News-अवैध खनन पर अंकुश के लिए संयुक्त सघन अभियान  जारी

डूंगरपुर, 24 जनवरी। राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिले में अवैध खनन, निर्गमन, भण्डारण के विरूद्व प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिए खान विभाग, राजस्व, वन विभाग, पुलिस एवं जिला कलक्टर की निगरानी में लगातार कार्रवाई की जा रही है।

खनिज अभियंता नरेन्द्र खटीक ने बताया कि पिछले 24 घंटे में खान विभाग डूंगरपुर द्वारा एक वाहन बजरी, एक मेसेनरी स्टोन एवं एक वाहन फेल्सपार का जब्त किया जाकर शास्ति आरोपित करते हुए संबंधित थाना में सुपुर्द किया गया एवं पिछले 24 घंटे में राशि 5 लाख 8 हजार 100 रूपए वसूली की गई तथा 2 लाख 50 हजार रूपए और वसूली की जाएगी।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal