शहर में शीघ्र चलेंगे ई रिक्शा, शत प्रतिशत महिला चालकों के पास होगी कमान


शहर में शीघ्र चलेंगे ई रिक्शा, शत प्रतिशत महिला चालकों के पास होगी कमान

महिला सशक्तिकरण का जाएगा संदेश, मिलेगा ग्रीन मोबिलिटी को प्रोत्साहन

 
E-Rickshaw
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 29.05.23-  जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार शाम आयोजित हुई। बैठक में जिले में सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने हेतु ब्लैक स्पॉट के सुधार को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। इसके अलावा जेके पारस हॉस्पिटल से होटल झंकार ओल्ड आरटीओ रोड मार्ग पर गरीब नवाज कॉलोनी के बाहर बोटल नेक की समस्या पर भी विचार विमर्श हुआ।

बैठक में हाईवे पर आवारा पशुओं के कारण दुर्घटनाओं को रोकने हेतु टोल नाकों को पाबंद करने, हेलमेट के उपयोग हेतु प्रचार प्रसार में एनजीओ एवं निजी कंपनियों की भागीदारी सुनिश्चित करने, गुड सेमेरिटन मुख्यमंत्री जीवन रक्षा योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। पुलिस विभाग द्वारा ब्लेक स्टॉप की सूची प्रशासन को उपलब्ध कराई गई है जिसके अनुसार कलेक्टर ने उचित समाधान करने के निर्देश दिए।

इन विषयों पर भी हुई चर्चाः

विभिन्न चौराहों पर ट्रैफिक लाइट स्थापित करने, विभिन्न स्थानों पर ऑटो स्टैंड स्थापित करने, वॉल सिटी के लिए नगर निगम द्वारा प्रस्तावित ग्रीन मोबिलिटी जोन प्रोग्राम आदि पर विस्तार से चर्चा हुई।

बैठक में वॉल सिटी के अंदर एवं महत्वपूर्ण सड़कों पर दोपहिया एवं चार पहिया वाहनों की पार्किंग के लिए पीले रंग की मार्किंग करवाने, बड़ी तालाब की पाल के सौंदर्यीकरण एवं सुरक्षा, मुख्यमंत्री बजट घोषणा के कार्यों की स्थिति कलेक्टर ने समीक्षा की।  कलेक्टर ने हेरिटेज वॉक विकसित करने, ग्रीन मोबिलिटी को प्रोत्साहित करने, बरसात से पहले अंडर पासों को साफ करने आदि को लेकर दिशा निर्देश दिए। कलेक्टर ने नाइट टूरिज्म को लेकर भी अधिकारियों से चर्चा की।

ई-रिक्शा का संचालन, चालक सिर्फ महिलाएं होंगी

बैठक में कलेक्टर ने फॉसिल फ्यूल आधारित ट्रांसपोर्ट वाहनों को इलेक्ट्रॉनिक वाहनों में शिफ्ट करने को लेकर दिशा निर्देश दिए एवं कहा कि आगामी समय में शहर में ई-रिक्शा का संचालन किया जाएगा जिसमें नवाचार करते हुए शत प्रतिशत महिला चालकों को सम्मिलित किया जाएगा। इससे ना सिर्फ महिला सशक्तिकरण का संदेश जाएगा बल्कि शहर को प्रदूषण रहित करने में भी मदद मिलेगी। कलेक्टर ने कहा है कि जो भी कंपनियां सीएसआर के तहत ई रिक्शा संचालन में प्रशासन का सहयोग करना चाहें, वे डीटीओ कल्पना शर्मा से संपर्क कर सकते हैं।

बैठक में स्मार्ट सिटी सीईओ अपर्णा गुप्ता, डीएफओ मुकेश सैनी, जिला परिवहन अधिकारी कल्पना शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक यातायात कुशल चोरड़िया, एडिशनल सीएमएचओ डॉ रागिनी डामोर सहित यूआईटी, नगर निगम, शिक्षा विभाग एवं अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थितउदयपुर 29 मई। जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार शाम आयोजित हुई। बैठक में जिले में सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने हेतु ब्लैक स्पॉट के सुधार को लेकर विस्तार से चर्चा हुई।

इसके अलावा जेके पारस हॉस्पिटल से होटल झंकार ओल्ड आरटीओ रोड मार्ग पर गरीब नवाज कॉलोनी के बाहर बोटल नेक की समस्या पर भी विचार विमर्श हुआ।

बैठक में हाईवे पर आवारा पशुओं के कारण दुर्घटनाओं को रोकने हेतु टोल नाकों को पाबंद करने, हेलमेट के उपयोग हेतु प्रचार प्रसार में एनजीओ एवं निजी कंपनियों की भागीदारी सुनिश्चित करने, गुड सेमेरिटन मुख्यमंत्री जीवन रक्षा योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। पुलिस विभाग द्वारा ब्लेक स्टॉप की सूची प्रशासन को उपलब्ध कराई गई है जिसके अनुसार कलेक्टर ने उचित समाधान करने के निर्देश दिए।

इन विषयों पर भी हुई चर्चाः

विभिन्न चौराहों पर ट्रैफिक लाइट स्थापित करने, विभिन्न स्थानों पर ऑटो स्टैंड स्थापित करने, वॉल सिटी के लिए नगर निगम द्वारा प्रस्तावित ग्रीन मोबिलिटी जोन प्रोग्राम आदि पर विस्तार से चर्चा हुई।
बैठक में वॉल सिटी के अंदर एवं महत्वपूर्ण सड़कों पर दोपहिया एवं चार पहिया वाहनों की पार्किंग के लिए पीले रंग की मार्किंग करवाने, बड़ी तालाब की पाल के सौंदर्यीकरण एवं सुरक्षा, मुख्यमंत्री बजट घोषणा के कार्यों की स्थिति कलेक्टर ने समीक्षा की।  कलेक्टर ने हेरिटेज वॉक विकसित करने, ग्रीन मोबिलिटी को प्रोत्साहित करने, बरसात से पहले अंडर पासों को साफ करने आदि को लेकर दिशा निर्देश दिए। कलेक्टर ने नाइट टूरिज्म को लेकर भी अधिकारियों से चर्चा की।

ई-रिक्शा का संचालन, चालक सिर्फ महिलाएं होंगी

बैठक में कलेक्टर ने फॉसिल फ्यूल आधारित ट्रांसपोर्ट वाहनों को इलेक्ट्रॉनिक वाहनों में शिफ्ट करने को लेकर दिशा निर्देश दिए एवं कहा कि आगामी समय में शहर में ई-रिक्शा का संचालन किया जाएगा जिसमें नवाचार करते हुए शत प्रतिशत महिला चालकों को सम्मिलित किया जाएगा। इससे ना सिर्फ महिला सशक्तिकरण का संदेश जाएगा बल्कि शहर को प्रदूषण रहित करने में भी मदद मिलेगी। कलेक्टर ने कहा है कि जो भी कंपनियां सीएसआर के तहत ई रिक्शा संचालन में प्रशासन का सहयोग करना चाहें, वे डीटीओ कल्पना शर्मा से संपर्क कर सकते हैं।

बैठक में स्मार्ट सिटी सीईओ अपर्णा गुप्ता, डीएफओ मुकेश सैनी, जिला परिवहन अधिकारी कल्पना शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक यातायात कुशल चोरड़िया, एडिशनल सीएमएचओ डॉ रागिनी डामोर सहित यूआईटी, नगर निगम, शिक्षा विभाग एवं अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal