गीतांजली यूनिवर्सिटी कोन्वोकेशन- 2023 का आयोजन 11 जुलाई को

गीतांजली यूनिवर्सिटी कोन्वोकेशन- 2023 का आयोजन 11 जुलाई को

मुख्य अतिथि लोकसभा स्पीकर ओम बिरला, विशिष्ट अतिथि एम्स  निदेशक पदम्श्री डॉ रणदीप गुलेरिया होंगे 

 
Geetanjali University

उदयपुर 8 जुलाई 2023। गीतांजली यूनिवर्सिटी कोन्वोकेशन – 2023 के सम्बन्ध में आज गीतांजली हॉस्पिटल में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डायस पर एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री अंकित अग्रवाल, गीतांजली यूनिवर्सिटी के  वाईस चांसलर डॉ ऍफ़.एस मेहता, रजिस्ट्रार श्री मयूर रावल, डीन डॉ डी.सी. कुमावत, व पी.जी डीन डॉ संगीता गुप्ता की उपस्तिथि गणमान्य रही। 

रजिस्ट्रार मयूर रावल ने प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए बताया कि गीतांजली यूनिवर्सिटी द्वारा कोन्वोकेशन-2023 का आयोजन दिनांक 11-07-2023 को गीतांजली यूनिवर्सिटी के स्व. नर्मदा देवी अग्रवाल ऑडिटोरियम में किया जायेगा। कोन्वोकेशन-2023 के मुख्य अतिथि भारतीय लोकसभा स्पीकर श्री ओम बिरला, विशिष्ट अतिथि पूर्व एम्स(AIMS), New Delhi, Director पदम् श्री डॉ रणदीप गुलेरिया जी, गीतांजली ग्रुप के चेयरमैन व गीतांजली यूनिवर्सिटी के चांसलर श्री जे.पी अग्रवाल की उपस्तिथि में स्नातकों, स्नातकोत्तरों व डॉक्टरेट विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक व डिग्री प्रदान की जाएगी। 

साथ ही Honoris Causa की उपाधि से Emeritus Professors को उनके चिकित्सा क्षेत्र में अविस्मरणीय योगदान के लिए सम्मानित किया जायेगा। इस अवसर पर गीतांजली यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर डॉ ऍफ़.एस मेहता, गीतांजली ग्रुप के वाईस चेयरमैन श्री कपिल अग्रवाल, एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री अंकित अग्रवाल एवं गीतांजली यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार श्री मयूर रावल की उपस्तिथि गणमान्य रहेगी। 

गीतांजली यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर डॉ ऍफ़.एस. मेहता ने गीतांजली यूनिवर्सिटी के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गीतांजली ग्रुप के चेयरमैन श्री जे.पी अग्रवाल का सपना था कि उदयपुर में ऐसी अत्याधुनिक सेवाएं शुरू की जाएँ जिससे की लोगों को बाहर ना जाना पड़े। साथ ही नये डॉक्टर्स, फार्मासिस्ट, नर्सेज, डेंटिस्ट, फिजियोथेरेपी को शिक्षा व सुविधाएँ दोनों प्रदान कर सकें। इसी सोच के साथ गीतांजली हॉस्पिटल (est. 2006) व गीतांजली यूनिवर्सिटी (est. 2011) की शुरुआत की गयी। 

उन्होंने यह भी बताया कि एम.बी.बी.एस 250 सीटों का कीर्तिमान होने का श्रेय यहाँ कि मजबूत फैकल्टी को जाता है। 2014 से पोस्ट ग्रेजुएट की सीटें, आज 152 सीटें एम.डी.एम.एस, 17 डी.एम एम.सी.एच जो कि सुपर स्पेशलिटी कोर्सेज भी शुरू हो चुके हैं। गीतांजली यूनिवर्सिटी में फार्मेसी कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज, नर्सिंग स्कूल, फिजियोथेरेपी स्कूल व डेंटल कॉलेज प्रमुख हैं। यहाँ से शिक्षा लेने के पश्चात् यहाँ से निकल के विद्यार्थी देश- विदेश में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। 

डॉ ऍफ़.एस. मेहता ने यह भी बताया कि अभी तक गीतांजली यूनिवर्सिटी में लगभग 8000 विद्यार्थी प्रवेश ले चुके हैं। जिसमें से लगभग 4000 विद्यार्थी अपनी डिग्री प्राप्त कर चुके हैं। 

गीतांजली ग्रुप के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री अंकित अग्रवाल ने कहा कि जिस गीतांजली यूनिवर्सिटी को आज हम देख रहे हैं इसका पूरा श्रेय गीतांजली ग्रुप के चेयरमैन श्री जे.पी. अग्रवाल व पूरी टीम को जाता है। उन्होंने यह भी बताया कि इस भव्य कोन्वोकेशन के लिए सभी विद्यार्थी व सम्पूर्ण गीतांजली परिवार बहुत उत्साहित है। 

श्री अंकित अग्रवाल ने गीतांजली हॉस्पिटल की 2024 में जयपुर में शुरुआत होने की जानकारी भी साझा कि जिसमें उन्होंने बताया कि जयपुर का कैंपस लगभग 30 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ होगा जिसमें हाई-एंड सुपर स्पेशलिटी की सुविधाएँ मौजूद रहेंगी। आने वाले अगले 5 सालों में उदयपुर व जयपुर में रिसर्च एंड डेवलपमेंट व स्टेट ऑफ़ दी आर्ट रोबोटिक सर्जरी सेंटर भी विकसित करेंगे। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal