इंदिरा गांधी स्मार्टफोन योजना-मोबाईल मिलते ही चेहरे खिले

इंदिरा गांधी स्मार्टफोन योजना-मोबाईल मिलते ही चेहरे खिले

मावली नगर पालिका क्षेत्र में आयोजन

 
mobile

उदयपुर 12 अगस्त 2023 । ज़िले के मावली नगर पालिका क्षेत्र में राजस्थान सरकार द्वारा इंदिरा गांधी स्मार्टफोन योजना का शुभारंभ शनिवार को किया। जिसमे पूर्व विधायक व प्रधान पुष्कर लाल डांगी द्वारा नगर पालिका कार्यालय पर आयोजन किया गया।

मोबाईल मिलने से महिलाएं, लड़कियां बहुत ही खुश दिखी। कुछ महिलाओं ने राजस्थान सरकार की सभी योजनाओं की तारीफ करी। इस दौरान उपखंड अधिकारी श्रीकांत व्यास, तहसीलदार रमेश चन्द्र वढ़ेरा, नगर पालिका अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह गुर्जर, पार्षद प्रकाश, मनीष विजयवर्गीय, सहित अनेक कांग्रेस कार्यकर्ता व प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अभिनव पहल के तहत महिलाओं को डिजिटल क्रांति से जोड़ने के लिए शुरू की गई इंदिरा गांधी स्मार्टफोन वितरण योजना के प्रति महिलाओं में अपार उत्साह है। इस बीच शनिवार को तीन और स्मार्टफोन वितरण कैम्प शुरू कर दिए गए हैं। उदयपुर एवं सलूम्बर जिलों में अब तक सात कैम्प प्रारंभ कर दिए गए हैं। इनमें शनिवार शाम 5 बजे तक कुल 825 महिलाओं को स्मार्टफोन वितरित किए जा चुके थे। वहीं सोमवार से 12 और स्थानों पर कैम्प शुरू कर दिए जाएंगे।

सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग की संयुक्त निदेशक सुश्री शीतल अग्रवाल ने बताया कि जिला कलक्टर अरविन्द पोसवाल के निर्देशन में योजना की सफल क्रियान्विति के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। पहले दिन उदयपुर में दीनदयाल उपाध्याय सभागार नगर निगम व कृषि मंडी बलीचा तथा सलूम्बर जिले में दीनदयाल उपाध्याय पार्क सलूम्बर व पंचायत समिति झल्लारा में कैम्प शुरू किए गए थे। शनिवार को उदयपुर जिला अंतर्गत शहर के अटल सभागार सेक्टर-4  तथा अंबेडकर भवन मावली और सलूम्बर जिले के सेमारी में भी कैम्प प्रारंभ कर दिए गए हैं। मावली में प्रधान पुष्कर डांगी, नगरपालिका अध्यक्ष भुपेंद्र गुर्जर व समाजसेवी राजेंद्र गोखरू के आतिथ्य में शिविर का शुभारंभ हुआ।
सोमवार से यहां भी शुरू होंगे कैम्प

संयुक्त निदेशक सुश्री अग्रवाल ने बताया कि उदयपुर और सलूम्बर जिलों में कुल 24 कैम्प आयोजित होने हैं। इनमें से 7 प्रारंभ हो चुके हैं। सोमवार से कॉलेज परिसर गोगुन्दा, राजकीय बालिका विद्यालय भटेवर वल्लभनगर, राजकीय विद्यालय खेरवाड़ा, कन्या छात्रावास सराड़ा, महात्मा गांधी विद्यालय बड़गांव, मीरा कला मंदिर पारस उदयपुर, पंचायत समिति भीण्डर, पंचायत समिति जयसमंद, पंचायत समिति कुराबड़, पंचायत समिति लसाड़िया, पंचायत समिति ऋषभदेव तथा पंचायत समिति सायरा मेें कैम्प शुरू किए जाएंगे। शेष 5 कैम्प झाडोल, फलासिया, नयागांव, कोटड़ा तथा गांधी ग्राउण्ड उदयपुर में भी आगामी 2-3 दिनों में शिविर शुरू किए जाएंगे।
पहले चरण में डेढ़ लाख महिलाएं होनी हैं लाभान्वित

संयुक्त निदेशक सुश्री अग्रवाल ने बताया कि योजना के प्रथम चरण में उदयपुर एवं सलूम्बर जिले मेें डेढ़ लाख महिलाओं को स्मार्ट फोन वितरित किए जाने हैं। इसमें चयनित चिरंजीवी परिवारों की सरकारी विद्यालय में कक्षा 9 से 12 में अध्ययनरत बालिकाएं, विधवा/ एकल नारी पेंशन प्राप्त कर रही महिलाएं, सरकारी उच्च शिक्षण संस्थाओं (महाविधालय/आईटीआई/पॉलिटेक्निक) में अध्ययनरत छात्राएं, महानरेगा के तहत 100 कार्य दिवस (वर्ष 2022-23) पूर्ण करने वाली महिला मुखिया तथा इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना के तहत 50 कार्य दिवस (वर्ष 2022 - 23 ) पूर्ण करने वाले परिवारों की महिला मुखियाओं को लाभान्वित किया जाएगा।
यह दस्तावेज लाने होंगे

योजना के तहत पूर्व चयनित लाभार्थी को तिथिवार शिविर में आमंत्रित करने हेतु शिविर दिवस से पूर्व मोबाईल मैसेज के माध्यम से सूचना प्रेषित की जाएगी। निर्देशों के क्रम में लाभार्थी शिविर दिवस को जन आधार कार्ड, आधार कार्ड, पेन कार्ड, पासपोर्ट साईज फोटो, पात्रता से संबन्धित दस्तावेज़ (अध्ययनरत छात्राओं के आईडी कार्ड एवं एनरॉलमेंट नंबर का कार्ड, विधवा महिलाओं को पेंशन का पीपीओ नंबर इत्यादि) की मूल प्रति एवं जन आधार में दर्ज मोबाईल संख्या वाला मोबाईल लेकर शिविर में उपस्थित होंगें। 18 वर्ष से कम उम्र की लाभार्थी होने पर जन आधार महिला मुखिया को उनके साथ आना आवश्यक रहेगा।
यह रहेगी प्रक्रिया

शिविर में आईजीएसवाई पोर्टल पर लाभार्थी महिला का ई-केवायसी के लिए जनआधार नंबर दर्ज कर सत्यापन किया जाएगा। इसके पश्चात जनआधार कार्ड में दर्ज मोबाइल फोन पर जनाधार ई-वॉलेट इंस्टॉल किया जाएगा। महिला के पैन कार्ड का विवरण आईजीएसवाय पोर्टल पर दर्ज किया जाएगा। तीन प्रकार के फार्म प्रिंट कर महिला को दिए जाएंगे। लाभार्थी महिला इन फॉर्म को लेकर मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी के काउंटर पर जाएगी। वहां मोबाइल कंपनी की सिम और डाटा प्लान का चयन होगा। अगले काउंटर पर मोबाइल फोन चयन करेगी। इस प्रक्रिया के बाद भरे हुए फॉर्म में अंकित सूचनाओं को स्कैन कर पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। यह प्रक्रिया पूरी होते ही लाभार्थी महिला द्वारा लाए गए फोन में इंस्टॉल ई-वॉलेट में राज्य सरकार द्वारा 6800 रूपए ट्रांसफर किए जाएंगे। इस राशि से महिला चयन किए गए मोबाइल फोन व सिम खरीद सकेगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal