डूंगरपुर-11 सितंबर 2023 की प्रमुख खबरे

डूंगरपुर-11 सितंबर 2023 की प्रमुख खबरे 

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर

 
dungarpur

डूंगरपुर 11 सितंबर 2023। बांसवाड़ा संभाग के डूंगरपुर ज़िले से संबंधित   

News - राजस्थान मिशन-2030 को लेकर कृषि विभाग द्वारा जिला स्तरीय हितधारक परामर्श कार्यक्रम सम्पन्न

राजस्थान मिशन 2030 के अन्तर्गत कृषि विभाग, डूंगरपुर द्वारा जिला स्तरीय हितधारक परामर्श कार्यक्रम का आयोजन सोमवार को आत्मा सभागार में कुलदीप भारद्वाज, उप निदेशक आरकेवीवाय कृषि आयुक्तालय जयपुर, के मुख्य आतिथ्य एवं जी.एस. कटारा, संयुक्त निदेशक कृषि (वि.) की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। कार्यक्रम में भूरालाल पाटीदार अतिरिक्त निदेशक कृषि (विस्तार) खण्ड, उदयपुर, डॉ. आर.पी.मीणा, अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय डूंगरपुर, संजीव पण्ड्या संयुक्त निदेषक कृषि विपणन विभाग, उदयपुर, डॉ सी.एम.बलाई मुख्य वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र, फलोज बतौर विषिष्ट अतिथि उपस्थित रहे।

गौरीशंकर कटारा संयुक्त निदेशक कृषि (वि.) डूंगरपुर द्वारा परामर्श कार्यक्रम में उपस्थिति सभी अतिथिगण, प्रगतिशील कृषक, विद्यार्थियों, का स्वागत कर जिले में कृषि संबंधी गतिविधियों पर प्रकाश डाला एवं वर्तमान कृषि में प्रगति को बताते हुए 2030 तक जिले को कृषि में अग्रणी बनाने हेतु हितधारकों से सुझाव प्राप्त किए। परेश पण्ड्या, उप निदेशक उद्यान, डूंगरपुर द्वारा पावर पाइंट प्रजेन्टेशन के माध्यम से कृषि विभाग एवं उद्यान विभाग की समस्त योजनाओं की प्रगति कीं जानकारी दी।

कार्यक्रम में किसानो को सुझाव प्रपत्र दिये गये। संजीव पण्ड्या, संयुक्त निदेशक कृषि विपणन बोर्ड उदयपुर ने कृषि निर्यति प्रोत्साहन नीति एवं राजीव गांधी कृषक साथी योजना की विस्तृत जानकारी दी। मुख्य अतिथि कुलदीप भारद्वाज द्वारा उपस्थित कृषको को अधिक से अधिक सुझाव देने हेतु प्रेरित किया गया। भुरालाल पाटीदार, अतिरिक्त निदेशक ने बताया कि छोटे धान्य जैसे रागी, कुरी, कोदरा, बावटो, हामली का प्रयोग को बढावा दिया जाये ताकि आने वाले वर्षो में इसकी खेती कि जा सके।

कार्यक्रम में 45 हितकारक, 45 अधिकारी एवं 5 जनप्रतिनिधियों ने भाग लिया। तत्पश्चात् प्रगतिशील कृषक सुन्दरलाल पाटीदार जसेला, भारतीय किसान संघ के जिलाध्यक्ष नाथजी भाई, योगेश कोटडिया बीज उत्पादक कृषक, प्रगतिशील कृषक अभयसिंह, कालूसिंह डामोर, कांति भाई पटेल माण्डली, भंवरलाल मीणा सुण्डेलखेडा, मनोज पाटीदार डेंचा, कृषि यंत्र निर्माता एवं विक्रेता सद्दाम हुसैन, सीमलवाडा, डेयरी उद्योग सुरेश जैन मेवाडा, प्रगतिशील महिला कृषक शांता बाई पटेल माडा, मछलीपालक हुका गडमाला, जीवण, कोदर करौली, दुग्ध उत्पादक एवं अन्य किसानों ने विभाग की योजनाओ की क्रियान्विति में आने वाली समस्याएं बताते हुए निवारण के सुझाव दिए।

कार्यक्रम में सहायक निदेशक कृषि (विस्तार) डूंगरपुर छिद्दासिंह, सहायक निदेशक कृषि (विस्तार) सागवाडा जीवराम ताबियाड, कृषि अधिकारी गीता रोत, विनोद कुमार पटेल, भगवती बरण्डा, सोनू काला एवं कृषि अनुसंधान अधिकारी बलवंत सिंह लबाना एवं मुकेश कुमार बरण्डा उपस्थित रहे।

News - राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक 15 सितम्बर को

राजस्व अधिकारियों की समीक्षा एवं अवैध खनन संबंधी बैठक 15 सितम्बर को प्रातः 11 बजे ईडीपी हॉल जिला कलेक्ट्रेट में आयोजित की जाएगी।
जिला कलक्टर लक्ष्मी नारायण मंत्री ने बताया कि बैठक में मुख्य रूप से चुनाव संबंधी विस्तृत चर्चा की जाएगी, जिसका एजेण्डा पृथक से भिजवा दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने संबंधित विभागीय अधिकारियों को बैठक में नियत तिथि एवं समय पर आवश्यक रूप से उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं।

News - राजस्थान मिशन-2030 के तहत ऑनलाइन सेंसेटाइजेशन कार्यक्रम

राजस्थान मिशन-2030 के तहत डूंगरपुर जिले में सोमवार को ऑनलाइन सेंसेटाइजेशन कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिला मुख्यालय पर सुबह 11 बजे डीओआईटी के वीसी कक्ष से जिला कलक्टर लक्ष्मी नारायण मंत्री, जिला परिषद सीईओ गितेश श्री मालवीय सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों की मौजूदगी में वर्ष 2030 तक डूंगरपुर जिले में विकास के विविध पहलुओं की जानकारी दी गई।

 

कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान राजस्थान मिशन-2030 पर आधारित उद्बोधन का प्रसारण किया गया। इसके बाद वीडियो फिल्म के माध्यम से राजस्थान मिशन-2030 की संकल्पना, उद्देश्य, क्रियान्वयन, आशाओं और अपेक्षाओं आदि के बारे में जानकारी दी गई। पीपीटी के माध्यम से राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं की प्रगति की जानकारी दी गई। वहीं, डूंगरपुर जिले में वर्ष 2019 से लेकर वर्ष 2023 तक की बजट घोषणाओं की प्रगति पर आधारित प्रस्तुतीकरण में जिले में चहुंमुखी विकास की यात्रा की सुनहरी तस्वीर दिखाई दी।
 

जिला कलक्टर लक्ष्मी नारायण मंत्री ने ऑनलाइन सेंसेटाइजेशन कार्यक्रम के आयोजन के उद्देश्य की जानकारी देते हुए कहा कि वर्ष 2030 तक हमारे सपनों का राजस्थान कैसा हो, फ्लैगशिप योजनाओं और बजट घोषणाओं की प्रगति के बारे में आमजन को जागरूक करते हुए भविष्य के लिए उनके सुझाव आमंत्रित करने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। उन्होंने चिकित्सा, शिक्षा और स्वास्थ्य सहित विभिन्न विभागों से जुड़ी फ्लैगशिप योजनाओं से जुड़ी बारीकियों की भी जानकारी दी।
 

डूंगरपुर जिले में वर्ष 2019-20 से लेकर 2023-24 तक की विभागवार बजट घोषणाओं की प्रगति की जानकारी देते हुए कहा कि रीको के चार इंडस्ट्रियल एरिया को छोड़कर बाकी सभी घोषणाओं के लिए भूमि आवंटन और विभिन्न स्वीकृतियां जारी कर दी गई है।
 

विजन दस्तावेज-2030 भविष्य के लिए पथ प्रदर्शक
 

जिला कलक्टर ने कहा कि राजस्थान मिशन-2030 के तहत विभागीय दस्तावेज-2030 तैयार किया जा रहा है और इसमें सभी को अपनी सहभागिता निभानी चाहिए। इसके लिए फेस-टु-फेस सर्वे भी करवाया जा रहा है। आईवीआर के माध्यम से भी राज्य सरकार लोगों से सुझाव मांग रही है। राज्य स्तर पर विभागवार प्रोजेक्ट मॉनीटरिंग यूनिट बनी हुई है, जो सभी विभागों से प्राप्त सुझावों को प्रतिदिन संकलित कर रही है। इन सुझावों पर चिंतन करने के बाद राज्य सरकार की योजनाओं को जन आकांक्षाओं से परिपूर्ण और समग्र विकास में मदद मिलेगी। अधिक से अधिक संख्या में सार्थक और गुणात्मक सुझाव आएं, ताकि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप विभागवार दस्तावेज बन सके। यह दस्तावेज हम सबके लिए पथ प्रदर्शक साबित होगा। राज्य का हर नागरिक इसमें अपनी भागीदारी निभाएं और राजस्थान को अपने सपनों का राजस्थान बना सकें।
 

जिले की सभी ग्राम पंचायतों पर जनप्रतिनिधि, अधिकारी-कर्मचारी और बड़ी संख्या में आमजन ऑनलाइन माध्यम से कार्यक्रम से जुड़े। जिला प्रशासन के फेसबुक पेज पर लाइव प्रसारण किया गया, जिसे सैकड़ों की संख्या में लोगों ने देखा।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal