राजसमंद-12 मार्च 2024 की प्रमुख खबरे


राजसमंद-12 मार्च 2024 की प्रमुख खबरे 

राजसमंद ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर 

 
News from Rajsamand
UT WhatsApp Channel Join Now

News-महिलाएं ले रही ड्राइविंग का नि:शुल्क प्रशिक्षण, बनेंगी आत्मनिर्भर

परिवहन विभाग की 100 दिवसीय कार्य योजना के अंतर्गत 91 महिलाओं को निःशुल्क हल्के मोटर वाहन प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के पांचवें दिन महिलाओं को सिम्युलेटर एवं सड़क के नियम अधिनियम की जानकारी दी गई। 

जिला परिवहन अधिकारी डॉ कल्पना शर्मा ने बताया आगामी दिनों में महिलाओं के लर्निंग लाइसेंस जारी किये जाएंगे। संस्थान में रहने की सुविधा भी दी गई है और रोजाना महिलाओं को योग व्यायाम भी कराया जायेगा। संस्थान निदेशक ने बताया सिम्युलेटर प्रशिक्षण में महिलाओं को पेडल और मोटर व्हीकल एक्ट 1998 की जानकारी दी गई। पिछले 5 दिनों से यहाँ थ्योरी कक्षा चल रही आगामी दिनों में ग्राउंड प्रशिक्षण एवं वाहन का रख रखाव शुरू किया जाएगा।

Newsविधिक जागरूकता स्टॉल में महिलाओं को दी विधिक जानकारी

राजसमंद जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष  राघवेन्द्र काछवाल के आदेशानुसार दिनांक 12.03.2024 को जतन संस्थान, राजसमंद द्वारा महिला दिवस पखवाड़े के तहत आयोजित किशोरी फाल्गुन मेले में विधिक जागरूकता स्टॉल लगाकर आमजन को जागरूक किया गया। 

अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मनीष कुमार वैष्णव ने बताया कि जतन संस्थान द्वारा महिला दिवस पखवाड़े के तहत आयोजित किशोरी मेले में विधिक जागरूकता स्टॉल लगाई गई। इस स्टॉल पर प्राधिकरण के कार्मिकगण व पैनल अधिवक्ता द्वारा महिलाओं को महिलाओं से संबंधित कानून व योजनाओं की जानकारी प्रदान की गई। जागरूकता स्टॉल पर महिलाओं की भीड़ रही और महिलाओं को भरण-पोषण से संबंधित कानून, लैंगिक अपराध से बालकों का संरक्षण अधिनियम, महिलाओं को प्राप्त सम्पति का अधिकार, प्रतिकर प्राप्त करने के अधिकार, वन स्टॉप सेंटर, नारी निकेतन, निःशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने के अधिकार, पीसीपीएनडीटी एक्ट, एमटीपी एक्ट, दहेज प्रतिषेध अधिनियम, गिरफ्तारी पर महिलाओं को प्राप्त अधिकार, कार्यस्थल पर महिलाओं के उत्पीड़न से संबंधित कानूनों की जानकारी प्रदान की गई। साथ ही वरिष्ठ नागरिको के लिए तैयार अवैरनेस मॉड्यूल फॉर सीनियर सिटीजन्स तथा महिलाओं के लिये लागू पोष एक्ट के संबंध में जानकारी दी गई।

इस स्टॉल पर प्राधिकरण की गतिविधियों व सेवाओं यथा राजस्थान पीड़ित प्रतिकर स्कीम, निःशुल्क विधिक सहायता, मध्यस्थता कार्यक्रम, स्थाई लोक अदालत, राष्ट्रीय लोक अदालत आदि योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की गई। महिलाओं को यह भी जानकारी प्रदान की गई कि वे किसी भी प्रकार की कानूनी सहायता प्राप्त करने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय के फ्रंट ऑफिस पर सम्पर्क कर सकते हैं तथा प्राधिकरण के हेल्पलाईन नंबर 8306002135 पर सम्पर्क कर वांछित सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

इस कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्मिकगण सुश्री अक्षिता खाण्डल, सुश्री प्रिंस गोदारा व पैनल अधिवक्ता श्रीमती ऋतु शर्मा उपस्थित रहीं।
 

News-संवाद के बाद स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने राजसमंद की लखपति दीदियों को किया सम्मानित

राजसमंद । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को देशभर की लखपति दीदियों से संवाद किया। जिले की राजीविका स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं ने भाग लेकर वर्चुअल कार्यक्रम को सुना। इस दौरान राजसमंद जिला प्रमुख रतनी देवी जाट, समाज सेवी माधव चौधरी, कृषि विभाग संयुक्त निदेशक कैलाश चंद्र मेघवंशी, समाज कल्याण विभाग उप निदेशक जय प्रकाश एवं राजीविका की जिला परियोजना प्रबंधक डॉ. सुमन अजमेरा ने जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय स्थित एनआईसी से प्रधानमंत्री का संबोधन समूह की महिलाओं के साथ सुना।

डॉ. अजमेरा ने बताया कि प्रधानमंत्री के इस संबोधन कार्यक्रम में 214 ग्राम पंचायतों के स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं ने बढचढ कर हिस्सा लिया एवं संबोधन को सुना एवं इसी क्रम में वित्तीय वर्ष 2023-24 में राजीविका राजसमंद के द्वारा कुल 5,072 समूह सदस्यों को विभिन्न आर्थिक व तकनीकी सहयोग प्रदान करके लखपति दीदी बनाया गया लखपति दीदी संवाद कार्यक्रम में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

प्रधानमंत्री के वर्चुअल संवाद का नई दिल्ली से सीधा प्रसारण किया। प्रधानमंत्री ने महिलाओं से सशक्त होकर आगे बढ़ने की अपील की। उन्होंने कहा कि देशभर में आजीविका मिशन के तहत लाखों-करोड़ों बहनें जुड़कर आजीविका संवर्धन गतिविधियों में हिस्सा ले रही हैं। भाजपा की केंद्र सरकार एवं प्रदेश की सरकारें प्रत्येक देशवासी के जीवन स्तर को उन्नत बनाने हेतु ठोस प्रयास कर रही हैं। विगत 10 वर्षों में केंद्र सरकार ने इन स्वयं सहायता समूहों की बहनों के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं के माध्यम से आर्थिक रूप से मदद करते हुए आजीविका संवर्धन गतिविधियों से जोड़ने, उनकी मार्केटिंग आदि विषयों पर बहुत सराहनीय कार्य किए हैं।

वर्तमान केंद्रीय बजट में भी देशभर की 3 करोड़ बहनों को लखपति बनाने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में बताया कि आज नारी न केवल अपने घर से बाहर निकली है वरन आज पूरे देश में व्यावसायिक वायुयानों में पायलट के रूप में भी अपनी सेवाएं दे रही हैं। इसी वर्ष प्रधानमंत्री ड्रोन योजना का भी शुभारंभ किया गया है जिसमें ड्रोन पायलट के रूप में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को प्रशिक्षण दिया गया है, जहां भविष्य में अधिकतम महिलाएं ड्रोन दीदी बनकर एक उन्नत रोजगार मिलने के साथ ही उनकी कृषि गतिविधियों में नवाचार को बढ़ावा दे पाएंगी।

उन्होंने कहा, 'ये कार्यक्रम महिला सशक्तिकरण के लिहाज से बहुत ऐतिहासिक है। मुझे नमो ड्रोन दीदी अभियान के तहत, 1000 आधुनिक ड्रोन, महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों को सौंपने का अवसर मिला है। देश में जो 1 करोड़ से ज्यादा बहनें, पिछले दिनों अलग-अलग योजनाओं और लाख प्रयासों के कारण, 1 करोड़ बहनें लखपति दीदी बन चुकी हैं। ये आंकड़ा छोटा नहीं है। कोई भी देश हो, कोई भी समाज हो, वो नारी शक्ति की गरिमा बढ़ाते हुए, उनके लिए नए अवसर बनाते हुए ही आगे बढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि मोदी की संवेदनाएं और मोदी की योजनाएं, ये जमीन से जुड़े जीवन के अनुभवों से निकली हैं। बचपन में जो अपने घर में देखा, अपने आस-पास, पड़ोस में देखा, फिर देश के गांव-गांव में अनेक परिवारों के साथ रहकर के अनुभव किया, वही आज मोदी की संवेदनाओं और योजनाओं में झलकता है। इसलिए ये योजनाएं मेरी माताओं-बहनों-बेटियों के जीवन को आसान बनाती हैं, उनकी मुश्किलें कम करती हैं।'

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal