राजसमंद - 5 सितंबर की प्रमुख खबरे


राजसमंद - 5 सितंबर की प्रमुख खबरे

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर

 
rajsamand
UT WhatsApp Channel Join Now

राजसमंद 5 सितंबर 2023 । उदयपुर संभाग के राजसमंद ज़िले की प्रशासनिक, राजनैतिक, खेल और अपराध से जुडी खबरे

News- जन्माष्टमी एवं नन्द महोत्सव की तैयारियॉं जोरो पर

नाथद्वारा 5 सितम्बर। पुज्यपाद तिलकायत महाराजश्री एवं चि. गो. विशाल बावा सा. के शुभ आशीर्वाद से पुष्टिमार्गीय वल्लभ सम्प्रदाय की प्रधानपीठ श्रीनाथद्वारा में 7 सितम्बर को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव एवं 8 सितम्बर को नन्द महोत्सव मनाया जायेगा। मन्दिर परिसर में परम्परानुसार जन्माष्टमी के दिन मन्दिर के राजपुरोहित द्वारा प्रातःकाल श्रृंगार के दर्शन में कृष्णावतार के विवरण के साथ श्रीकृृष्ण की जन्मकुण्डली मन्दिर खास में स्थित मणिकोठे से सुनाई जावेगी। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के दूसरे दिन नन्द महोत्सव के अवसर पर सम्पूर्ण मन्दिर में श्रीजी के बड़े मुखियाजी द्वारा नन्द स्वरूप धारण केसर-युक्त दही/छाछ का छिड़काव ग्वाल-बालों के संग मिलकर किया जाता है। इस हेतु मन्दिर मण्डल द्वारा भारी मात्रा में दही/छाछ की व्यवस्था की जाती है। इस दौरान श्रीकृष्ण के बाल स्वरूप को श्रीजी के सन्मुख पलने में झुलाये जायेंगे एवं छठी पूजन की रस्म परम्परानुसार की जाकर मन्दिर के द्वारों पर कुमकुम, दूध-दही के छापे लगाये जायेंगे।

श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की खुशी में रात्रि के 12.00 बजे रिसालाचौक में 21 तोपों की सलामी दी जावेगी तथा मन्दिर मुख्यद्वार पर नक्कारखाने से ढ़ोल, नक्कारे, बिगुल, शहनाई, थाली-मादल आदि की मधुर ध्वनी से पूरा नाथद्वारा नगर गॅुजायमान होगा।

जन्माष्टमी पर्व की व्यवस्थाओं हेतु ली गई बैठक में  लिये गये निर्णय

परिक्रमा मार्ग में जनरेेटर की व्यवस्था मन्दिर मण्डल द्वारा की जायेगी। मन्दिर मण्डल के विद्युतकर्मी की 24 घंटे मन्दिर परिसर में उपलब्धता रहेगी। समस्त ड्यूटीरत कार्मिकों को परिचय पत्र गले में लगे होंगे।

नगरपालिका द्वारा दुकानों के बाहर एवं अन्य आवश्यक स्थलों पर बड़े ‘बाल्टीनुमा’ कचरा-पात्र आवश्यक रूप से रखवाये जावेंगे, ताकि व्यापारी कचरा सड़कों पर नहीं फेंके। साथ ही वहॉ से कचरा रात्रि में ही ट्रेक्टर से भरकर नियत स्थान पर डलवायेंगे ताकि गंदगी नहीं फैलने पावे। सफाई व्यवस्था सुचारू रहे इस हेतु नगरपालिका पर्याप्त संख्या में सुपरवाईजरी अधिकारी लगावे जावेंगे। इस अवसर पर नगरपालिका द्वारा विशेष-सफाई कार्य कराया जायेगा।

नगरपालिका के सफाई कर्मियों की विशेष ड्रेस होगी, ताकि उन्है पहचाना जा सके। गांधी पार्क में स्थित सुलभ कॉम्पलेक्स का उपयोग सुनिश्चित किया जावेगा एवं सफाईकर्मी मौजूद रहेंगे। नगरपालिका का कचरा उठाने वाला वाहन/टेम्पो दर्शन समय के अलावा लगातार चलता रहेगा, ताकि गंदगी बाजारों में न फैलने पावे।

विद्युत विभाग को बॉस उदरथ मन्दिर मण्डल से उपलब्ध कराये जावेंगे। साथ ही पानी, बिजली, नगरपालिका व अन्य विभागों के कार्मिकों को मन्दिर मण्डल द्वारा 5-5 बेजेज तैयार करा उपलब्ध कराये जावेंगे, ताकि मन्दिर परिसर व अन्य सेवा के स्थानों पर उन्हैं जाने में परेशानी न हो।

बाजारों में गाये/पशु विचरण न करने पावें व वहॉ पर गोबर व कीचड़ न हो, ऐसी व्यवस्था नगरपालिका द्वारा की जावेगी। वैष्णवों की आवक अभी से बढ़ गई है, अतः न्यॅू कोटेज से प्रीतमपोली तक रोड़ के दोनों तरफ खड़े होेने वाले ठेलो, खोमचे वालों आदि को हटाया जावेगा। आवारा पशु एवं सूअरों का प्रवेश दर्शन एवं शोभायात्रा मार्ग में न हो, इसकी समुचित व्यवस्था नगरपालिका द्वारा की जावेगी।

अस्थाई तौर पर माणक चौक, रिसाला चौक, बैंक ऑफ बड़ोदा, न्यॅू कोटेज की तरफ केमेरे लगाये जाकर माणक चौक पर कंट्रोल रूम बनाया जावेगा। हेण्डी-माईक 5 अतिरिक्त क्रय कर पुलिस विभाग को उदरथ उपलब्ध कराये जावेंगे जो जन्माष्टमी पर्व पश्चात् पुनः जमा होंगे। उपलब्ध हेण्डीमाईक का उपयोग मन्दिर में किया जावेगा।

अद्भुत झॉकियों के साथ घोड़े, नक्कारे, श्रीनाथ बैण्ड, स्थानीय बैण्ड्स, भजन मण्डलियॉ एवं परम्परागत नक्कारा-निशान के साथ सुखपाल में श्रीकृष्ण की बाल स्वरूप की छवि पधराई जाकर विशाल शोभायात्रा का आयोजन किया जावेगा।

शोभायात्रा मार्ग में जहॉ कहीं गड्ढे हो रहे हैं अथवा झॉकियों के छोटे वाहनों को निकलने में दिक्कत प्रतित हो, वहां पेच-वर्क नगरपालिका द्वारा तत्काल करवाया जावेगा। माणक चौक एवं मोतीमहल चौक में कंट्रोल रूम बनाये जाकर वहॉ पर पानी, कुर्सी-टेबल, माईक सैट की व्यवस्था होगी। टेक्सी स्टेण्ड, सब्जी मण्डी, गोविन्द चौक, लालबाजार एवं महादेवजी की घाटी से दो-पहिया वाहन प्रवेश नहीं होगा। दर्शनों के समय, मन्दिर में, आपातकाल में वैष्णवों के लिये पानी व चिकित्सा की व्यवस्था रहेगी।

जन्माष्टमी एवं नन्द महोत्सव के दिन दर्शन हेतु महिलाओं एवं पुरूषों का प्रवेश नक्कार खाना से होगा व निकासी मोतीमहल व नक्कारखाना के तीसरे गेट से रहेगी। नन्द महोत्सव के दिन प्रातः 7.30 से 11 बजे के दही-छाछ छिड़काव के दर्शन में पुरूषों का प्रवेश प्रीतमपोली से एवं महिलाओं का प्रवेश नक्कारखाना से होगा व सभी की निकासी मोतीमहल व नक्कारखाना के तीसरे गेट से रहेगी। दर्शनों के समय की जानकारी हेतु विभिन्न स्थानों पर फ्लेक्स लगाये जावेंगे। दर्शनार्थी मोतीमहल से प्रवेश नहीं करें, इसकी माकूल व्यवस्था की जावेगी।

नाथूवास की तरफ से आने वाले वाहनों को नगर में प्रवेश नहीं देकर 120 फीट रोड़ पर पार्किंग की तरफ भेजा जावेगा। बस स्टेण्ड से आने वाले वाहनों को बेण्ड लाईन पार्किंग में पार्क कराया जावेगा। हायर सैकण्डरी स्कूल व मोडर्न स्कूल में दो पहिया व छोटे वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था रहेगी। शोभायात्रा के समय, शोभायात्रा के मार्ग में दो पहिया वाहनों को पुलिस प्रशासन द्वारा रोका जावेगा।

शोभायात्रा रिसाला चौक से प्रारंभ होकर गॉधी रोड़, देहलीबाजार, गुर्जरपुरा, बड़ा बाजार, मन्दिर परिक्रमा, प्रीतमपोली, नया बाजार एवं चोपाटी से होकर रिसालाचौक में विसर्जित होगी। जन्माष्टमी के दिन पंचामृत स्नान के दर्शन हेतु प्रातः 3 बजे से भीड़ इकट्ठा हो जाती है, अतः वहॉ पर पर्याप्त पुलिस जाप्ता लगाया जावेगा। इसी प्रकार रिसाला चौक में रात्रि 11 से 12 बजे तक भारी भीड़ रहेगी, अतः वहॉ भी पर्याप्त पुलिस जाप्ता लगाया जावेगा।

मन्दिर मण्डल का चिकित्सालय दोनों दिन 24 घंटे (दिन-रात) खुला रहेगा। मन्दिर मण्डल की एम्बूलेन्स मोतीमहल में रहेगी। राजकीय चिकित्सालय की एक एम्बूलेन्स पूर्ण साजो-सामान व चालक सहित, राजकीय चिकित्सालय में तैयार रहेगी, इस हेतु प्रमुख चिकित्साधिकारी को आवश्यक निर्देश दिये गये। एक राजकीय चिकित्सा टीम (दवा सहित) जन्माष्टमी को प्रातः 3 बजे से रात्रि 12 बजे तक एवं नन्द महोत्सव को प्रातः 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक राउण्ड-द-क्लॉक माणक चौक स्थित कन्ट्रोल रूम पर मय चालक व प्राथमिक चिकित्सा सुविधा के उपस्थित रहेगी। साथ ही आपात व्यवस्था हेतु न्यॅू कोटेज परिसर पर राजकीय चिकित्सालय, नाथद्वारा की एक चिकित्सा टीम मय दवा व एम्बूलेन्स/ड्राईवर के उपलब्ध रहेगी।परम्परानुसार जन्माष्टमी के दिन रात्रि में 12 बजे श्रीकृष्ण जन्म पर 21 तोपो की सलामी दी जावेगी। रिसाला चौक में परम्परानुसार तोपे दागने के समय डबल बेरिकेडिंग कराई जावेगीे ताकि किसी प्रकार के हादसे का अंदेशा नहीं रहे।

आगजनी की आशंका को ध्यान में रखते हुऐ 7 एवं 8 सितंबर के लिये बड़ी फायरब्रिगेड फायरब्रिगेड रिसाला चौक के सामने की तरफ व छोटी फायरब्रिगेड गोविन्द चौक की तरफ उपलब्ध रहेगी। नक्कारखाना, मनोरथी गेट, वनमालीजी मन्दिर एवं मोतीमहल में पानी के केम्पर व छोटी बोतलों की व्यवस्था रहेगी।

जन्माष्टमी एवं नन्द महोत्सव पर दर्शन समय

7 सितंबर को श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर मंगल पंचामृत प्रातः 4.45 से लगभग 2 घंटे तक रहेगा तथा श्रृंगार के दर्शन प्रातः 9.30 बजे से लगभग 1 घंटे तक रहेंगे। राजभोग के दर्शन दोपहर 12.30 बजे से लगभग डेढ़ घंटे तक रहेगा एवं भोग आरती रात्रि 7.30 बजे से लगभग 1 घंटा तक तथा जागरण रात्रि 8.30 बजे से लगभग 3 घंटे तक रहेगा।

8 सितंबर को नंद उत्सव पर केसर युक्त दही/छाछ छिड़काव प्रातः 7.30 से  11 तक रहेगा। मंगल एवं श्रृंगार अपराहन 12 बजे से लगभग आधा घंटा तक रहेगा। उसके बाद राजभोग दोपहर 12.15 बजे से लगभग 1 घंटा रहेगा। उत्थापना रात्रि 7 से लगभग आधा घंटा तक रहेगा एवं भोग एवं आरती रात्रि 8 बजे से लगभग 1 घंटा रहेगा।

जन्माष्टमी एवं नंद महोत्सव के दिन दर्शन हेतु महिलाओं एवं पुरुषों का प्रवेश  नक्कारखाना से होगा व निकासी मोतीमहल व नक्कारखाना के तीसरे गेट से रहेगी। नंद महोत्सव के दिन प्रात 7.30 से 11 बजे तक दही/छाछ साथ छिड़काव के दर्शन में पुरुषों का प्रवेश प्रितमपोली से एवं महिलाओं का प्रवेश नक्कारखाना से होगा। वह सभी निकासी मोती महल व नक्कारखाना के तीसरे गेट से रहेगी।

विशेषः- सेवा पूजा परंपरा एवं विधि विधान से होने के कारण किसी भी दर्शन के समय में परिवर्तन संभव हैं।

News- शिक्षक दिवस पर राजकीय महाविद्यालय में आयोजित हुआ समारोह

राजसमंद, 5 सितंबर । राजकीय महाविद्यालय में शिक्षक दिवस के उपलक्ष में डॉ.    राधाकृष्णन का सम्मान एवं महाविद्यालय में आचार्य पद पर पदोन्नति पर प्रो. सुमन बडोला एवं प्रो. दुर्गेश शर्मा का सम्मान प्राचार्य निर्मला मीणा द्वारा किया गया। कुंभलगढ़ महाविद्यालय से प्राचार्य पद पर कार्यरत डॉक्टर त्रिभुवन सिंह झाला रेलमगरा महाविद्यालय से उपस्थित प्राचार्य योगेश चितारा, देवगढ़ महाविद्यालय से उपस्थित श्रीमान राजदीप सिंह सांधू का भी इस आयोजन में सम्मान किया गया। महाविद्यालय में एनएसएस प्रभारी एवं महाविद्यालय के सभी समितियां के प्रभारी जिन्होंने वर्ष भर उत्कृष्ट कार्य किया है उन्हें भी सम्मानित किया गया।

इसी सम्मान के अवसर पर शिक्षकों से चर्चा कर उच्च शिक्षा में रिक्त स्थानों की पूर्ति एवं विद्यार्थियों के कौशल विकास हेतु योजनाओं को लागू करने के लिए अपने सुझाव दिए। विद्यार्थियों को महाविद्यालय में ही प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी एवं रोजगार की उपलब्धता हो सके इस तरह के कार्यक्रम महाविद्यालय में चलाया जाएं।

News- जिला स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह

शिक्षक राष्ट्र को सही दिशा दर्शन दे समग्र विकास का मार्ग प्रशस्त करें। आजादी के बाद शिक्षकों की मेहनत और समर्पण का परिणाम है कि हम ज्ञान विज्ञान के क्षेत्र में विश्व में भारत का परचम लहराने में सफल हुए हैं।

उक्त विचार शिक्षा विभाग की ओर से शिक्षक  दिवस पर आयोजित जिला स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह में उपस्थित अतिथियों एवं शिक्षाविदो के विचार मंथन में उभर कर आए। समारोह में राजस्थान मिशन 2030 शिक्षा परिदृश्य पर विषद चर्चा की गई।

समारोह के मुख्य अतिथि जिला कलक्टर नीलाभ सक्सेना थे जबकि प्रमुख अतिथि जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष हरिसिंह राठौड़ थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी रविन्द्र तोमर ने की। विशिष्ट अतिथि, पूर्व जिला प्रमुख नारायण सिंह भाटी शिक्षाविद डा राकेश तेलंग,मनोहर गिरी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक नूतन प्रकाश जोशी, राजेन्द्र गग्गड, मुख्य ब्लाक शिक्षा अधिकारी नरोत्तम दाधीच और घनश्याम गोड़ थे।

समारोह में जिला स्तरीय शिक्षक पुरस्कार यासीन खान शक्ति नगर भीम, अजय सिंह मानावत भाटोली,अहमद अली थानेटा को प्रदान किया गया जबकि राजसमंद खण्ड स्तरीय शिक्षक पुरस्कार शभूलाल कुमावत घाटी और रमेश चंद्र साकरोदा को प्रदान किया गया।

इससे पूर्व राजस्थान मिशन 2030 शिक्षा परिदृश्य पर राकेश पुरी,शैलेष,संजय पालीवाल, कैलाश चौहान, कन्हैयालाल शर्मा, विष्णु जोशी, दिनेश श्रीमाली ने विचार व्यक्त करते हुए शिक्षा की चुनौती और सुझाव प्रस्तुत किए।इस परिचर्चा में  माध्यमिक शिक्षा, प्राथमिक शिक्षा, एनएसएस,एनसीसी, समाजसेवी, राज्य एवं राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार विजेता और शिक्षक संगठनों ने लिखित सुझाव प्रस्तुत किए। कार्यक्रम का संयोजन दिनेश श्रीमाली ने किया।

News - जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक का हुआ आयोजन,सदस्यों ने जनकल्याणकारी मुद्दों पर अधिकारियों से की चर्चा

राजसमंद 5 सितंबर। जिला परिषद राजसमंद की साधारण सभा की बैठक मंगलवार को जिला परिषद के महाराणा प्रताप सभा भवन में जिला प्रमुख रतनी देवी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक का प्रारंभ बैठक 2 जून को हुए निर्णय की पालन की समीक्षा कर किया गया। बैठक में जिला परिषद सीईओ राहुल जैन ने अब तक हुए कार्यों की समीक्षा की तथा अधिकारियों को शेष कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। इसके उपरांत बैठक में विधायक श्रीमती दीप्ति माहेश्वरी, उप जिला प्रमुख सोहनी देवी, पंचायत समितियों के प्रधानों, जिला परिषद सदस्यों और अन्य जनप्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं से प्रशासन को अवगत कराया तथा इन समस्याओं के त्वरित गति से निस्तारण की मांग की। समस्याओं को सुनकर सीईओ जैन ने मौके पर ही अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। बैठक में एवीवीएनएल, चिकित्सा विभाग, पीएचईडी, सार्वजनिक निर्माण विभाग, रसद विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, महिला और बाल विकास विभाग, मनरेगा एवं स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े हुए मुद्दों पर चर्चा की गई। बैठक में जिला परिषद सीईओ जैन ने सभी अधिकारियों को अपने-अपने विभाग के कार्य सही समय पर पूरे करने के निर्देश दिए।

News - कृषि विभाग का ”विजन दस्तावेज 2030” का संवाद कार्यक्रम 11 को

राजसमंद, 5 सितंबर। माननीय मुख्यमंत्री महोदय के निर्देशानुसार राज्य सरकार प्रदेश के चहुंमुखी विकास एवं प्रदेशवासियों की खुशहाली एवं उन्हें सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने तथा राजस्थान को वर्ष 2030 तक देश का अग्रणी राज्य बनाने के उद्देश्य से विकसित राजस्थान हेतु ”विजन दस्तावेज 2030” तैयार किया जा रहा है। इस उद्देश्य से राज्य में राजस्थान मिशन 2030 अभियान दिनांक 15 अगस्त से 30 सितंबर की अवधि में संचालित किया जा रहा है। अतः राजस्थान मिशन 2030 अभियान के सफल संचालन हेतु विभागीय अधिकारियों,    हितधारकां,े वैज्ञानिको,ं विषय विशेषज्ञा,ें कृषि कॉलेज के अधिष्ठाता, विद्यार्थिया,ें कर्मचारीयों प्रगतिशील कृषक, कृषि उद्यमिया,ें एफ.पी.ओ आदान विक्रेता एवं जनप्रतिनिधियों इत्यादि से विचार/सुझाव आमंत्रित करने एवं गहन परामर्श करने हेतु दिनांक 11 सितंबर  को प्रातः 12.30 बजे से 2.30 बजे तक आत्मा सभागार कक्ष (कृषि विभाग) राजसमंद में बैठक कार्यशाला का आयोजन किया जाना है। जिसमें आप अपने-अपने सुझावों सहित समय पर उपस्थित होने का श्रम करावें।

News- एस. आर. के. कॉलेज में राजस्थान मिशन 2030 के तहत जिला स्तरीय गहन परामर्श कार्यक्रम

राजसमन्द, 5 सितम्बर। सेठ रंगलाल कोठारी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, राजसमन्द में राजस्थान सरकार के अभियान राजस्थान मिशन 2030 के तहत् “जिला स्तरीय गहन परामर्श कार्यक्रम“ का आयोजन मंगलवार को किया गया। इस कार्यक्रम में राजसमन्द जिले के स्थानीय शिक्षाविद/प्रबुद्धजन/स्वयंसेवी संस्थाऐ, औद्योगिकी संगठन के प्रतिनिधि/समाज कल्याण विभाग के प्रतिनिधि/महिला अधिकारिता विभाग के प्रतिनिधि/कौशल एवं उद्यमिता विभाग के प्रतिनिधि, जिला समन्वयक एन.एस.एस., जिले के समस्त राजकीय महाविद्यालयों के प्राचार्य आमंत्रित थे। कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए महाविद्यालय प्राचार्य निर्मला मीणा ने आमंत्रित अतिथियों से राजस्थान मिशन-2030 के तहत् तीन स्तरों पर - महाविद्यालय स्तर, आयुक्तालय स्तर तथा राज्य सरकार के स्तर पर सुझाव देने हेतु कहा। साथ ही मीणा ने कॉलेज शिक्षा विभाग की उपलब्धियों से सदन को अवगत कराया।

सेवानिवृत्त प्राचार्य प्रो. रचना तैलंग ने परीक्षा का दबाव कम करने के लिए जिला स्तरीय भर्तियां करने के लिए सुझाव दिया। आमेट प्राचार्य प्रो. मनोज कुमार बहरवाल ने महाविद्यालयों मे मूलभूत सूविधाओं को उपलब्ध कराने का सुझाव दिया। नाथद्वारा प्राचार्य प्रो. मोनिका रोत ने हर जिले मे सर्व सुविधायुक्त एक मॉडल महाविद्यालय खोलने का सुझाव दिया। प्रबुद्ध नागरिक देवेन्द्र कच्छारा ने उपलब्ध संसाधनों का सर्वश्रेष्ठ उपयोग करते हुए श्रेष्ठ परिणाम पाने पर जोर दिया। महाविद्यालय के सहायक आचार्य सोहनलाल गोसाई ने राजस्थान की जनसंख्या और विशाल मरूभूमि को रोजगार परक उपयोग हेतु अनुसंधान पर जोर दिया। रेलमगरा प्राचार्य डॉ. योगेश चितारा ने विद्यार्थियों को संस्कारवान बनाने वाले पाठ्यक्रम लागू करने पर जोर दिया। कार्यक्रम प्रभारी प्रो. सुमन बडोला ने आमंत्रित अतिथियों का आभार प्रदर्शित किया व उत्साही व सक्रिय विद्यार्थियों को निरन्तर आगे बढने की प्रेरणा देने का सुझाव दिया। कार्यक्रम में शिक्षाविद सोहन लाल रेगर,  संस्कृत सहायक आचार्य विजेन्द्र कुमार शर्मा, प्रो. विनिता श्रीवास्तव, प्रो. सुशिल कुमार, नारायण सिंह राव, भीम प्राचार्य प्रेम सिंह, कुम्भलगढ प्राचार्य डॉ. त्रिभुवन सिंह झाला, डॉ. मिनाक्षी बोहरा ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्रो. दुर्गेश शर्मा, डॉ बृजेश कुमार बासोतिया, डॉ. सन्तोष भण्डारी, डॉ. महेश चन्द तिवारी, डॉ. प्रतीक विजय, डॉ. गोपाल लाल कुमावत, श्री अनिल कुमार कालोरिया, सुश्री खुशबु, आदि उपस्थित थे। तथा कार्यक्रम का संचालन डॉ. विभा शर्मा ने किया। दिनांक 8 सितम्बर  को जिला स्तरीय भाषण प्रतियोगिता तथा 9 सितंबर को निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा।

News- अनुजा निगम द्वारा प्रधानमंत्री अनुसूचित जाति अभ्युदय (पीएम अजय) ऋण योजना के अंतर्गत आवेदन मांगे

राजसमन्द 5 सितम्बर। राजस्थान अनुसूचित जाति जनजाति वित्त एवं विकास निगम के प्रधानमंत्री अनुसूचित जाति अभ्युदय (पीएम अजय) ऋण योजना जिसमें निम्न योजनाओं पोप योजना शहरी एवं ग्रामीण उन्नत गाय/भैंस/बकरी, ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा, व्यक्तिगत पंप सेट, मुद्रा योजना के लिए आवेदन मांगे हैं। परियोजना प्रबंधक जयप्रकाश ने बताया कि आवेदक राजस्थान का मूल निवासी होना आवश्यक है अनुसूचित जाति का होना चाहिए एवं आय 2.50 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। आवेदन अनुसूचित जाति, जनजाति वित्त एवं विकास सहकारी निगम लिमिटेड, नगर पालिका, नगर परिषद, पंचायत समितियां के माध्यम से किया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए कार्यालय परियोजना प्रबंधक अनुजा निगम राजसमंद कलेक्ट्रेट परिसर कमरा नंबर 304 फोन नंबर 02952-221831 पर संपर्क करें।

News- अनुजा निगम की योजनाओं में  आवेदन अब 15 सितंबर 2023 तक कर सकेंगे

राजसमन्द 5 सितम्बर। राजस्थान अनुसूचित जाति, जनजाति वित्तीय विकास निगम ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति/जनजाति, राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी, दिव्यांगजन, स्वावलम्बन योजना, राष्ट्रीय पिछड़ा वगर्, वित्त एवं विकास निगम की योजनाओं में तिथि 31 अगस्त 2023 से बढ़कर 15 सितंबर 2023 तक कर आवेदन मांगे हैं। परियोजना प्रबंधक के प्रकाश में बताया कि आवेदक राजस्थान का मूल निवासी होना आवश्यक है। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग जाति के आवेदन के लिए आय 3 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। सफाई कर्मचारियों एवं दिव्यांगजन के लिए आयु सीमा की बाध्यता नहीं है। योजना में लघु व्यवसाय शहरी एवं ग्रामीण महिला महिला समृद्धि योजना डेयरी, जीप, टैक्सी/ऑटो रिक्शा, ई रिक्शा इत्यादि के लिए आवेदन एसएसओ आईडी या ई मित्र से किया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए कार्यालय परियोजना प्रबंधक अनुजा निगम राजसमंद कलेक्ट्रेट परिसर कमरा नंबर 304 फोन नंबर 02952-221831 पर संपर्क करें।

News- मुख्यमंत्री कामधेनु बीमा योजना का जिला स्तरीय कार्यक्रम आज

राजसमंद, 05 सितम्बर। पशुपालन विभाग के प्रमुख शासन सचिव जयपुर के निर्देशानुसार राज्य सरकार के बजट घोषणा वर्ष 2023-24 के तहत मुख्यमंत्री कामधेनु बीमा योजना का मुख्यमंत्री द्वारा शुभारंभ 6 सितम्बर, बुधवार को प्रातः 10 बजे गुलाबपुरा-जिला भीलवाड़ा से किया जायेगा।

 जिला स्तरीय मुख्यमंत्री कामधेनु बीमा योजना कार्यक्रम आज बुधवार को भिक्षु नीलियम में आयोजित किया जाएगा। जिसमें मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जिले के पशुपालकों से वीसी के माध्यम से संवाद करेंगे। जिला कलक्टर ने आदेश जारी कर संबंधित अधिकारियों को कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु आवश्यक  जिम्मेदारियां दी है।

News- पेयजल समृद्वि हेतु जिलेवासियो ने रखे सुझाव

राजसमन्द 5 सितम्बर। राजस्थान विजन 2030 के परिदृश्य के मद्देनजर जन स्वास्थ्य अभियात्रिंकी विभाग एवं भू जल विभाग राजसमन्द के तत्वाधान में उपजिला प्रमुख सोहनीदेवी गुर्जर की अध्यक्षता में पंचायत समिति सभागार राजसमन्द में परामर्श वार्ता का आयोजन किया गया जिसमें पेयजल क्षैत्र में सेवाओ के सुधार एवं बदलाव को लेकर जिला व ब्लॉक अधिकारियो, जनप्रतिनिधियो, व ग्राम जल स्वच्छता समिति सदस्यो द्वारा अपने सुझाव प्रस्तुत किये गये जिनको संकलित कर जिले का विजन डॉक्युमेन्ट बना राज्य स्तर पर प्रेषित किया जायेगा। उक्त कार्यशाला में उपजिला प्रमुख द्वारा समस्त जिले में हर घर नल से जल से हर घर हर गॉव को लाभान्वित किये जाने हेतु सुझाव रखे। कार्यशाला में जनप्रतिनिधी महेश आचार्य, भॅंवरलाल गुर्जर, पुर्व सरपंच पिपली आचार्यान मनोहर किर, सरपंच कुवारियॉ ललीत श्रीमाली, अधिशाषी अभियंता जन स्वा. अभि. विभाग खण्ड राजसमन्द लालसिंह मीणा, तकनिकी व अधिशाषी अभियंता वृत राजसमन्द लोकेश सैनी, ने विस्तृत सुझाव प्रस्तुत किये। कार्यशाला में सहायक अभियंता गुप्तसिंह जाटव, लोकेश वर्मा, राहुल जोशी, कनिष्ठ अभियंता ज्योति प्रकाश योगी, सद्दाम अली, देवेन्द्र कुमार, विकास मीणा, मुकेश माहेश्वरी, भू जल वैज्ञानिक संदीप जैन, सलाहकार शुभम बागोरा, व डीपीएमयु राजसमन्द प्रकाश बोलीवाल, राजकुमार, आयुष शर्मा, व ओमप्रकाश आदि उपस्थित थे।

News- डिस्कॉम लोक अदालत के माध्यम से निस्तारित करेगा 1.02 लाख से ज्यादा प्रकरण

’आपसी रजामंदी से निस्तारित होंगे स्थायी विद्युत कनेक्शन विच्छेद और बिजली चोरी के प्रकरण’

अजमेर 05 सितंबर। अजमेर विद्युत वितरण निगम ने विद्युत कनेक्शन विच्छेद  और बिजली चोरी के 1 लाख 2 हजार 195 मामलों को निस्तारित करने की तैयारी शुरू कर दी है। डिस्कॉम आगामी 09 सितंबर को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से यह मामले निस्तारित करेगा। इन उपभोक्ताओं पर डिस्कॉम का करीब 160.16 करोड़ रूपया बकाया है। लोक अदालत में आपसी सहमति से इन मामलों को निस्तारित किया जाएगा।  अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एन एस निर्वाण ने सभी संभागीय मुख्य अभियन्ताओं तथा अधीक्षण अभियन्ताओं को निर्देश दिए कि वे लोक अदालत के लिए अपने कार्यालय के नोडल अधिकारी की नियुक्ति करें। प्रबंध निदेशक निर्वाण ने बताया कि राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में 09 सितंबर को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है। इस सम्बंध में निगम द्वारा जारी अद्यतन दिशा निर्देशों के अनुरूप निगम राजस्व से सम्बंधित प्रकरणों का अधिकाधिक निस्तारण करने हेतु निर्देशित किया गया है। प्रबंध निदेशक निर्वाण ने सभी सम्भागीय मुख्य अभियन्ताओं को निर्देशित किया की वे राष्ट्रीय लोक अदालत के प्रभावी एवं सफलतापूर्वक संचालन के लिए अपने-अपने क्षेत्रधिकार के अधीन कार्यालय द्वारा विभिन्न न्यायालयों के समक्ष नियुक्त नोडल अधिकारियों की उपस्थिति अनिवार्य रूप से होना सुंनिश्चित करे। ताकि लोक अदालत में निस्तारित होने योग्य प्रकरणों का अधिकाधिक निस्तारण संभव हो सके। प्रबंध निदेशक श्री निर्वाण ने बताया कि स्थायी विद्युत संबंध विच्छेद के 92366 मामले बकाया हैं। इनमें अजमेर सिटी सर्किल के 3722, अजमेर जिला सर्किल के 2068, भीलवाड़ा सर्किल के 1924, नागौर सर्किल के 4159, झुंझुनू के 9134, सीकर के 14517, राजसमंद के 3055, बांसवाड़ा के 4813, डूंगरपुर के 7636, चित्तौड़गढ़ के 23373, प्रतापगढ़  के 6112 एवं उदयपुर सर्किल के 11853, पीडीसी उपभोक्ताओं को लोक अदालत के जरिये निस्तारण के लिए नोटिस भेजे जा रहे हैं।  इन पर निगम का कुल 143.54 करोड़ रुपयों का राजस्व बकाया है।

इसी तरह बिजली चोरी से संबंधित 9829 मामले लंबित हैं। इनमें अजमेर सिटी सर्किल के 163 अजमेर जिला सर्किल के 193, भीलवाड़ा के 257, नागौर के 1198, झुंझुनू  के 3901, सीकर के 2253, राजसमंद के 23, बांसवाड़ा  के 341, डूंगरपुर  के 48, चित्तौड़गढ़ के 417, प्रतापगढ़ के 866 एवं उदयपुर के 169 वीसीआर वाले उपभोक्ताओं को लोक अदालत के जरिए निस्तारण करने के लिए नोटिस भेजे जा रहे है। इन पर निगम का कुल 16.62 करोड़ रुपयों का बकाया है।

News- राष्ट्रीय लोक अदालत के लिए जिलेभर में 11 बैंचों का गठन

दिनांक 09.09.2023 को आयोजित होने वाली इस वर्ष की तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत में रेफर प्रकरणों के निस्तारण के लिए जिलेभर में कुल 11 बैंचों का गठन किया गया है। सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, राजसमंद (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) मनीष कुमार वैष्णव ने बताया कि इस माह की 09 तारीख को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत में रेफर किये गये प्रकरणों को राजीनामे के माध्यम से निस्तारण के लिए जिला मुख्यालय पर 04 बैंच तथा जिलेभर की तालुकाओं में कुल 07 बैंचों का गठन अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, (जिला एवं सेशन न्यायाधीश) आलोक सुरोलिया के आदेश से किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत में अब तक सम्पूर्ण जिले में कुल 2929 लंबित प्रकरण रेफर किये गये हैं, जिनमें लोक अदालत के दिन पक्षकारों के मध्य समझाईश के माध्यम से निस्तारण का प्रयास किया जायेगा। लोक अदालत में सभी प्रकार के फौजदारी राजीनामे योग्य प्रकरण, सिविल प्रकरण, मोटर दुर्घटना के प्रकरण, पारिवारिक प्रकरण, बिजली, पानी, टेलीफोन विवाद, भूमि विाद, रास्ते का विवाद, 138 एनआईएक्ट संबंधी राजीनामा योग्य प्रकरणों का राजीनामे के माध्यम से निस्तारण करवाया जायेगा।  

News- रसद विभाग का राजस्थान मिशन 2030 संवाद आयोजित

राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री राजस्थान आर्थिक सुधार एवं सलाहकार परिषद (सीएमआरईटीसी) के नेतृत्व में विकसित राजस्थान-2030 दस्तावेज तैयार करने का निर्णय लिया गया। इस संबंध में मंगलवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में रसद विभाग द्वारा संवाद कार्यक्रम आयोजित कर सुझाव लिये गये, सर्वप्रथम संदीप माथुर, जिला रसद अधिकारी द्वारा, स्वागत उदबोधन कर विभाग द्वारा संचालित समस्त योजनाओं के क्रम जानकारी दी गई। अध्यक्ष, जिला उपभोक्ता मंच, राजसमन्द द्वारा जिले में संचालित समस्त योजनाओं में पात्र लाभार्थियों का सत्यापन करने का सुझाव दिया, ताकि पात्र लाभार्थी तक योजना का लाभ पहुंच सकें। खाद्यान्न व्यापार मण्डल, राजसमन्द के अध्यक्ष कमल खण्डेलवाल द्वारा खाद्यान्न यथा दालों एवं अनाज के क्रम में भारत सरकार द्वारा संचालित दो पोर्टल की बजाय एक ही पोर्टल पर उक्त दालों एवं अनाज का स्टॉक अद्यतन करने का सुझाव दिया। राजसमन्द राशन संघ के जिलाध्यक्ष उदयलाल कुम्हार द्वारा राशन विक्रेताओं के मानदेय निर्धारित करने, जिले में समस्त उचित मूल्य दुकानदारों हेतु 4जी तकनीक युक्त पॉस मशीनें उपलब्ध करवाने एवं समस्त राशन सामग्री का एक ही बार में बायोमैट्रिक सत्यापन कर पॉस मशीन से राशन वितरण के क्रम में सुझाव दिया। ओम पालीवाल जी विषय विशेषज्ञ द्वारा राशन विक्रेताओं की आय वृद्धि के क्रम में जिले में संचालित मिड-डे-मील योजना पोषाहार, आंगनवाड़ी पोषाहार के अन्तर्गत आवंटित राशन सामग्री का वितरण उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से करने एवं खाद्य सुरक्षा योजना से वंचित परिवारों हेतु भी निःशुल्क अन्नपूर्णा फूड् पैकेट का वितरण रियायती दरों पर करने का सुझाव दिया, ताकि उपभोक्ताओं को भी महंगाई से राहत मिल सके एवं उचित मूल्य दुकानदारों के कमीशन में भी वृद्धि हो सके। इसके अलावा बैठक में उपस्थित अन्य सदस्यों द्वारा भी सुझाव दिये गये। बैठक में श्री विजय सिंह, प्रवर्तन अधिकारी, श्री सोहन सिंह, प्रवर्तन निरीक्षक, श्री प्रकाश लौरा, कनिष्ठ सहायक उपस्थित रहे।  

News - जल संसाधन खंड राजसमन्द का राजस्थान मिशन 2030 का संवाद कार्यक्रम हुआ आयोजित

विजन डॉक्यूमेंट 2030 तैयार करने हेतु राजस्थान मिशन 2030 के अंतर्गत दिनांक 5 सितंबर मंगलवार को दोपहर 12.00 बजे से 2.00 तक अधिशासी अभियंता की अध्यक्षता में जल संसाधन खंड राजसमंद से संबंधित जल उपभोक्ताओं संगमों के अध्यक्ष, सदस्य, काश्तकार, संगठन एवं आमजन द्वारा कार्यालय उपनिदेशक कृषि एवं परियोजना निदेशक (आत्मा) राजसमंद के सभागार में अपने-अपने सुझाव विचार प्रस्तुत किए गए।


 

 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal