सूर्य नमस्कार में प्रदेश में सातवें स्थान पर रहा उदयपुर

सूर्य नमस्कार में प्रदेश में सातवें स्थान पर रहा उदयपुर

4600 विद्यालयों में 5 लाख 80 हजार 283 संभागियों ने एक साथ किया सूर्य नमस्कार

 
surya Namaskar

उदयपुर। राज्य सरकार के निर्देशानुसार गुरूवार को जिले भर के विद्यालयों में सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम हुए। इसमें सर्वाधिक संभागियों की भागीदारी की दृष्टि से उदयपुर जिला प्रदेश में सातवें नंबर पर रहा।

राज्य सरकार के आदेश पर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय बीकानेर ने गुरूवार को प्रदेश भर के विद्यालयों में सामूहिक सूर्य नमस्कार के निर्देश दिए थे। उदयपुर जिले में जिला कलक्टर अरविन्द पोसवाल के निर्देशन में गुरूवार को जिले भर के 4600 विद्यालयों में कुल 5 लाख 80 हजार 283 संभागियों की उपस्थिति में सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम हुए। 

मुख्य जिला शिक्षाधिकारी महेंद्र कुमार जैन ने बताया कि सूर्य नमस्कार कार्यक्रमों में विद्यार्थियों के अलावा विभागीय अधिकारी, कर्मचारी, अभिभावक, जनप्रतिनिधि तथा अन्य विभागों के अधिकारियों ने भी शिरकत की। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय बीकानेर से सहायक निदेशक सोनिया शर्मा तथा क्रीडा भारती के सचिव विक्रमसिंह चंदेला ने सूर्य नमस्कार कार्यक्रमों का अवलोकन किया साथ ही स्वयं भी सूर्य नमस्कार किए।

सूर्य नमस्कार के बताए फायदे

एडीईओ डाॅ दिनेश बंसल ने बताया कि सूर्य नमस्कार के दौरान संभागियों को इसके फायदे भी बताए गए। विषय विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को बताया कि सूर्य नमस्कार को योगासन में सर्वश्रेष्ठ योगासन माना जाता है क्योंकि इसमें 12 योगासनों का फायदा एक साथ मिलता है, इसके कई फायदे भी हैं। सूर्य नमस्कार के शारीरिक तौर पर कई फायदे हैं, यह वजन घटाने में सहायता करता है, साथ ही पाचन शक्ति को काफी हद तक बढ़ाने में मदद करता है, साथ ही शरीर में लचक बरकरार रखता है, रोजाना सूर्य नमस्कार करने से बॉडी का पोस्ट सही बना रहता है, गर्दन दर्द, कमर दर्द और कंधों के दर्द जैसी बीमारियों से भी दूर रखता है।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal