नारायण सेवा संस्थान के नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड: यूपी बना चैंपियन

नारायण सेवा संस्थान के नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड: यूपी बना चैंपियन

नेशनल व्हीलचेयर क्रिकेट चैंपियनशिप-2022

 
a

उदयपुर 03 दिसंबर। नेशनल व्हीलचेयर क्रिकेट चैम्पियनशिप का तीसरा संस्करण शनिवार को विश्व रिकॉर्ड बनाने के साथ झीलों की नगरी उदयपुर में सम्पन्न हो गया। 

नारायण सेवा संस्थान, डीसीसीआई, डब्ल्यूसीआई एवं राजस्थान रॉयल्स के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस सप्तदिवसीय टूर्नामेंट में उत्तरप्रदेश ने हरियाणा को आसानी से पराजित कर चैम्पियनशिप की ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया। हरियाणा उपविजेता रहा। गत चैंपियन पंजाब इस बार लीग मैच में ही होड़ से बाहर हो गया था। नारायण सेवा संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि दुनिया के सबसे बड़े व्हीलचेयर क्रिकेट टूर्नामेंट को पहली बार गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया। इस सम्बंध में गिनीज बुक के प्रतिनिधि स्वप्निल ने नारायण सेवा संस्थान को विश्व रिकॉर्ड का प्रमाण पत्र प्रदान किया। 

a

जिद, जुनून और जज्बे के इस टूर्नामेंट में चैम्पियनशिप पर कब्जा करने वाली उत्तरप्रदेश की टीम को 2.50 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया। उपविजेता हरियाणा की टीम को 1.50 लाख रुपये मिले। विश्व दिव्यांगता दिवस पर चैम्पियनशिप के समापन समारोह में विजेता यूपी टीम को ओलम्पियन एवं अर्जुन अवार्डी धूलचन्द डामोर , जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा , राजस्थान राज्य धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के सीईओ टीकमचंद बोहरा, डब्ल्यू सी आई के अध्यक्ष स्क्वाड्रन लीडर अभय प्रताप सिंह, डीसीसीआई सचिव रवि चौहान, राजस्थान रॉयल्स के अभिजीत सिंह, राजस्थान जनजाति आयोग के सदस्य पन्नालाल मीणा, राजस्थान धरोहर संरक्षण प्राधिकरण निदेशक मनोहर लाल गुप्ता, जिला तैराकी संघ अध्यक्ष चन्द्रगुप्त सिंह चौहान, जिला खेल अधिकारी शकील हुसैन तथा क्रिकेट के अंतर्राष्ट्रीय अम्पायर मो. रफीक की मौजूदगी में विजेता टीम को ट्रॉफी प्रदान की गई। इस दौरान विजयी टीम और उनके समर्थकों का उत्साह देखते ही बनता था।  प्रारम्भ में संस्थान संस्थापक पद्मश्री कैलाश मानव ने अतिथियों का स्वागत करते हुए दिव्यांगों की शिक्षा, चिकित्सा एवं पुनर्वास की 38 वर्षीय सेवा यात्रा की जानकारी दी।

सैकड़ों क्रिकेट प्रेमियों की मौजूदगी में ग्रैंड फिनाले आर सी ए मैदान पर हरियाणा एवं यूपी के बीच खेला गया। टॉस यूपी ने जीता और हरियाणा को पहले बल्लेबाज़ी के लिए आमंत्रित किया। हरियाणा की टीम के तीन महत्त्वपूर्ण बल्लेबाज पहले ही ओवर में पवेलियन लौट गए। टीम ने पहला विकेट पहली बॉल पर, दूसरा चौथी बॉल पर और तीसरे ओवर की आखिरी बॉल पर गंवा दिया। इससे टीम दबाब में आ गई, जल्दी-जल्दी विकेट पतन के चलते उत्तरप्रदेश टीम ने 14 ओवर में ही हरियाणा को ऑल आउट कर दिया। हरियाणा मात्र 85 रन ही बना सका। जीत का जज्बा लेकर कप्तान सोमजीत सिंह की अगुवाई में मैदान पर उतरी यूपी की टीम ने बिना विकेट खोए 6.2 ओवर में ही चैम्पियनशिप की ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया।उत्तरप्रदेश की ओर से ऑल राउंडर शैलेष यादव ने 2 ओवर फेंकते हुए 7 रन पर 3 विकेट झटके और 20 बॉल पर शानदार 36 रन बनाए। जिन्हें मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा। सलामी बल्लेबाज अनमोल वशिष्ठ ने भी 45 रन का योगदान दिया।

टूर्नामेंट में यूपी के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज  हरियाणा के मोनू मास्टर को बेस्ट बॉलर, यूपी से बेस्ट फिल्डर गौरव यादव चुने गए तथा यूपी से ही शैलेष यादव मैन ऑफ द सीरीज और सर्वाधिक अनुशासित टीम का पुरस्कार कर्नाटक के नाम रहा। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को पहला सेमीफाइनल दिल्ली और हरियाणा तथा दूसरा उत्तराखंड व यूपी के बीच खेला गया। संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने तीसरी राष्ट्रीय व्हीलचेयर चैम्पियनशिप के विश्व रिकॉर्ड बनाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि संस्थान अपनी स्पोर्ट्स एकेडमी के माध्यम से राष्ट्रीय पैरा गैम्स प्रमोट करने का लगातार प्रयास करेगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal