अप्रैल से उदयपुर अहमदाबाद रुट पर चल सकती है रेल

अप्रैल से उदयपुर अहमदाबाद रुट पर चल सकती है रेल  

जल्द ही पूरा होने वाला है उदयपुर-अहमदाबाद आमान परिवर्तन का काम 

 
indian railway

डूंगरपुर-उदयपुर वाया अजमेर रेलवे ट्रैक से अहमदाबाद से दिल्ली 15 घंटे में जबकि उदयपुर से अहमदाबाद में लगेंगे 5 घंटे 

उदयपुर संभाग के लोगों के लिए रेलवे की तरफ से जल्द ही खुशखबरी आने वाली है क्योंकि अप्रैल में 1600 करोड़ रुपए का उदयपुर-अहमदाबाद आमान परिवर्तन का काम लगभग पूरा होने वाला है।  इससे झीलों की नगरी उदयपुर और औद्योगिक नगरी अहमदाबाद सीधे जुड़ जाएंगे। अहमदाबाद से जुड़ने का अर्थ दक्षिणी राजस्थान का दक्षिण भारत से सीधा कनेक्शन हो जाएगा। 

अहमदाबाद से दिल्ली जाने के लिए यह रूट देश का दूसरे नंबर का सबसे छोटा रूट है। अभी तक अहमदाबाद से दिल्ली जाने के लिए दो ही रेल रूट अहमदाबाद से अजमेर वाया आबूरोड जो 871 किमी लंबा जिसमे 14 घंटे का समय लगता है। दूसरा रूट अहमदाबाद से बड़ोदरा व कोटा होकर दिल्ली पहुंचने के लिए 1094 किमी की दूरी को तय करने में करीब 18 घंटे का समय लगता है। जबकि अहमदाबाद से डूंगरपुर-उदयपुर-अजमेर-जयपुर होकर दिल्ली जाने के लिए 937 किमी की दूरी और करीब 15 घंटे का समय लगेगा। 

उदयपुर हिम्मतनगर आमान परिवर्तन के बाद ना सिर्फ अहमदाबाद और उदयपुर, चित्तौडग़ढ़ आपस में जुड़ेंगे। बल्कि सबसे बड़ा फायदा टीएसपी के 3 लाख से अधिक प्रवासियों को होगा। क्योंकि ये प्रवासी मुंबई व गुजरात में रोजगार हेतु आवागमन करते रहते हैं।  आमान परिवर्तन के बाद नया रेल रूट शुरू होने से दिल्ली में भी रोजगार हेतु आवागमन आसान होगा। 

38 किलोमीटर ट्रेक की अनुमति शेष

करीब 297 किलोमीटर लंबे उदयपुर-हिम्मतनगर अहमदाबाद आमान परिवर्तन प्रोजेक्ट में जयसमंद-खारवा के बीच 38 किमी शेष रेल खंड भी पूर्ण हो चुका है। आगामी 29 मार्च को सीआरएस संभावित है। रेलवे अधिकारियों ने सीआरएस की तैयारियां शुरू कर दी है। सीआरएस होने के बाद मंजूरी मिलते ही ट्रेन उदयपुर स्टेशन से अहमदाबाद तक वाया डूंगरपुर होकर चलना शुरू हो जाएगी।  

वर्तमान में डूंगरपुर से हिम्मतनगर 73 किमी पर डेमू ट्रेन शुरु हो चुकी है। डूंगरपुर से जयसमंद रोड स्टेशन 52 किमी का 6 मार्च को सीआरएम हो चूका है।  सीआरएस की मंजूरी मिलते ही इस रेलखंड पर भी ट्रेन शुरू हो जाएगी। 

विद्युतिकरण भी होगा

उदयपुर-हिम्मतनगर आमान परिवर्तन प्रोजेक्ट के पूरा होने की खुशी तो है ही, इससे भी बड़ी खुशी विद्युतिकरण को लेकर है। उदयपुर से हिम्मतनगर के बीच रेल लाइन को 300 करोड़ रुपए से इसका काम भी शुरू हो चुका है। रेल मंत्रालय ने 2023 में इसे पूरा करने का लक्ष्य रखा है। इसके बाद देश को सुपरफास्ट ट्रेनों में शामिल राजधानी एक्सप्रेस, गतिमान एक्सप्रेस, शताब्दी एक्सप्रेस जैसी कई ट्रेनें उदयपुर से अहमदाबाद बाया डूंगरपुर हिम्मतनगर होकर गुजरेगी। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal