दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए निविदा


दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए निविदा

उदयपुर से अहमदाबाद हाई-स्पीड ट्रैन दो घण्टे में पहुँचेगी
 
दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए निविदा
UT WhatsApp Channel Join Now
886 किलोमीटर लंबे दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए NHSRCL ने जारी किये DPR के टेण्डर 
 

उदयपुर अहमदाबाद ब्रॉड गेज लाइन बिछने के बाद उदयपुर से अहमदाबाद मुंबई-दिल्ली रुट की कई ट्रेनों के उदयपुर से गुज़रने के बाद लेकसिटी में आवागमन के नए साधन उपलब्ध हो पायेगी। भविष्य में हाई स्पीड ट्रेने भी लेकसिटी को उपलब्ध हो सकेंगी। अभी हाल ही में नेशनल हाई-स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) ने कल मंगलवार को अपनी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने के लिए 886 किलोमीटर लंबे दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए निविदाओं के अपने पहले सेट आमंत्रित किया।

यदि यह योजना धरातल पर उतरती है तो उदयपुर से अहमदाबाद दो घंटे के भीतर पहुंचा जा सकेगा। दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद सेक्शन हेतु मंगलवार को जो परियोजना के लिए निविदाएं जारी की गईं, उनमें नदियों / नहरों / रेलवे और सड़कों (एक्सप्रेसवे, एनएच और एसएच और प्रमुख जिला सड़कों) पर पुल पार करने की ड्राइंग तैयार करना और प्रस्तावित स्टेशनों और रखरखाव डिपो की सामान्य व्यवस्था ड्राइंग (जीएडी) शामिल हैं, कॉरिडोर की डीपीआर के लिए राइडरशिप स्टडी (ट्रैफिक स्टडी) और डेटा संग्रह और संबंधित सर्वेक्षण कार्य करने जैसे काम शामिल है।

यह  कॉरिडोर उन आठ हाई-स्पीड नेटवर्क में से एक है, जिसे देश भर में रेलवे योजना बना रहा है। इसके अतरिक्त सात अन्य मुंबई-अहमदाबाद कॉरिडोर, मुंबई-नाशिक-नागपुर, मुंबई-पुणे-हैदराबाद, चेन्नई-बैंगलोर-मैसूर, दिल्ली-चंडीगढ़-लुधियाना-जालंधर-अमृतसर सम्मिलित है। 

देश का पहला हाई-स्पीड कॉरिडोर मुंबई और अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन परियोजना दिसंबर 2023 तक पूरा हो जाएगा। बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए नब्बे प्रतिशत भूमि अधिग्रहण का काम इस साल के अंत तक पूरा होने की सम्भावना है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal