लोहे के 15 टन कबाड़ से बना अनोखा पार्क, 33 स्कल्पचर होंगे आकर्षण का केंद्र

लोहे के 15 टन कबाड़ से बना अनोखा पार्क, 33 स्कल्पचर होंगे आकर्षण का केंद्र

यह शहरवासियों के साथ विदेशी पर्यटकों के लिए भी अनूठा टूरिज्म डेस्टिनेशन होगा

 
Waste to wonder park in jodhpur

राजस्थान के दूसरे बड़े जिले जोधपुर में वेस्ट टू वंडर थीम पार्क बनकर तैयार हो चुका है। इसे तैयार होने में एक साल का समय लगा। पार्क की खास बात ये है कि इसमें 33 स्कल्पचर वेस्ट लोहे से बने हैं। इससे रियूज करने का मैसेज भी दिया जा रहा है। इस पार्क को बनाने में करीब 15 टन वेस्ट लोहे का उपयोग हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस पार्क का लोकार्पण करेंगे । यह शहरवासियों के साथ विदेशी पर्यटकों के लिए अनूठा टूरिज्म डेस्टिनेशन होगा।

j

जोधपुर से करीब 15 किलोमीटर दूर आंगणवा गांव में, सुरपुरा बांध के नजदीक 'सुरपुरा सफारी पार्क' बनाया गया है। शहर से कुछ ही दूरी पर यह पार्क लोगों के लिए नया टूरिज्म डेस्टिनेशन होगा। सभी 33 स्कल्पचर काफी आकर्षक हैं। पार्क में आमजन के लिए प्रवेश शुल्क रखा जाएगा। इसे आकर्षक लुक देने के लिए कई हट भी बनाए गए हैं।

15 टन के 33 स्कल्प्चर बनाए गए

सुरपुरा सफारी पार्क में कई स्कल्पचर का 2 से 3 टन तक वजनी हैं। कुछ छोटे स्कल्पचर भी लगाए गए हैं। इनमें अधिकांश जानवरों के हैं, बच्चों को ये स्कल्पचर खास अट्रैक्ट करेंगे। हाथी, बाघ, कंगारू, गेंडा, डायनासोर, गोरिल्ला जैसे जानवरों के स्कल्पचर के साथ बोर्ड पर उनके बारे में जानकारी भी है।

g
यहां राइनो का शिल्प लोगों को खास आकर्षक लग रहा है। फिलहाल आमजन के प्रवेश के लिए टिकट की दरें तय नहीं की गई हैं।
r
सुरपुरा सफारी पार्क में हाथी का यह भारी-भरकम स्कल्पचर 2 टन से ज्यादा वजनी है।
f
सुरपुरा सफारी पार्क में कंगारू का स्कल्पचर।

18 करोड़ का आया खर्च

वेस्ट टू वंडर पार्क को बनाने में 16.4 करोड़ का खर्च आया है। इसके अलावा झोपड़ियां, गुफा, वॉल पेटिंग, बाउंड्री वॉल, पाथ वे, वाटर बॉडी, वृक्षारोपण और स्प्रिंकलर सिस्टम, ड्रिप इरिगेशन, विद्युतीकरण के कार्य किए गए हैं और सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। साथ ही इस पार्क में फ्लड लाइट, बोलार्ड लाइट के साथ हैरिटेज बिल्डिंग को कैफेटेरिया के लिए भी विकसित किया गया है। इसके अलावा अमृत योजना में 2.1 करोड़ का बजट अलग से दिया गया है। जिसमें पौधरोपण, स्टैपिंग गार्डन, सोलर लाइट और बच्चों के लिए झूले लगाए गए हैं। इस तरह कुल बजट 18 करोड़ रुपए से ज्यादा का है।

a

सुरपुरा बांध के नजदीक यह पार्क करेगा पर्यटकों को आकर्षित

सुरपुरा बांध पिछले 4 साल में टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में उभरा है। इस बांध पर बोटिंग भी शुरू की गई है। अब इस बांध के साथ वेस्ट टू वंडर पार्क काफी आकर्षित करने वाला है। पार्क बनने से पहले ही यहां प्रतिदिन सैकड़ों लोग आते हैं। वीकेंड में यह संख्या कई गुणा बढ़ जाती है। अब इस सफारी पार्क से यह आकर्षण और बढ़ेगा।

j

चंडीगढ़ से थीम ली गई

वेस्ट मटीरियल से बने पार्क चंडीगढ़ में हैं। चंडीगढ़ के वेस्ट टू वंडर पार्क से थीम ली गई है। जेडीए के अधिकारी सोलंकी ने बताया  यहां लगाए गए स्कल्पचर को तैयार करने के लिए चंडीगढ़ के पार्क पर स्टडी की गई। इस पार्क के जरिये हम वेस्ट को रियूज करने का मैसेज दे रहे हैं। इसका काम नवंबर 2022 में शुरू किया गया था, यह अब पूरा होने के करीब है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal