पर्यटकों के लिए 48 किलोमीटर का रूट अनुमोदित

पर्यटकों के लिए 48 किलोमीटर का रूट अनुमोदित

जिला यातायात प्रबंधन समिति की बैठक में हुए महत्त्वपूर्ण निर्णय

 
rto

लेकसिटी के गौरव को बरकरार रखने परिवहन व्यवस्था में हो सुधार

उदयपुर 21 अप्रेल 2022 । लेकसिटी उदयपुर अपने पर्यटन स्थलों के लिए देश-दुनिया में विख्यात है, यहां आने वाले पर्यटकों को परिवहन की बेहतर सुविधाएं मिलें, इस दिशा में प्रभावी प्रयास करने की जरूरत है। यहां आने वाला पर्यटक ट्रेफिक में न फंसे, समय पर उसे परिवहन का उपयुक्त और रियायती साधन मिले तभी हम लेकसिटी का गौरव बनाएं रख सकेंगे।

यह विचार गुरुवार को जिला परिषद सभागार में आयोजित हुई जिला यातायात प्रबंधन समिति की बैठक में शामिल विभिन्न जनप्रतिनिधियों और समिति सदस्यों ने चर्चा करते हुए व्यक्त किए। शहर विधायक गुलाबचंद कटारिया, ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा, वल्लभनगर विधायक प्रीति शक्तावत, महापौर जीएस टांक की मौजूदगी व जिला कलक्टर की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में शहर सहित जिलेभर में दुर्घटनामुक्त परिवहन की बेहतर सुविधाएं मुहैया करवाने पर मंथन करते हुए महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

अस्पतालों व मेवाड़ के पर्यटन स्थलों के लिए बनेगा अलग रूट

बैठक में विधानसभा नेता प्रतिपक्ष व शहर विधायक गुलाबचन्द कटारिया ने लकडवास से सूरजपोल रूट को बस स्टेण्ड से जोड़ने तथा चारों मेडिकल कॉलेजों के साथ जिला अस्पताल को जोड़ने वाले रूट का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए ताकि बड़ी संख्या में ईलाज के लिए आने वाले नागरिकों को चिकित्सा सेवा प्राप्त करने के लिए परिवहन सेवा उपलब्ध हो सकें। कटारिया व जिला कलक्टर मीणा ने मेवाड़ के प्रमुख पर्यटन स्थलों को जोड़ने के लिए परिवहन सुविधा स्थापित करने हेतु रूट के प्रस्ताव तैयार करने का सुझाव दिया।

रोडवेज बंद होने पर दिखाई नाराजगी

बैठक में वल्लभनगर विधायक प्रीति शक्तावत ने वल्लभनगर विधानसभा मे रोडवेज बसों के संचालन के बन्द होेने पर नाराजगी दिखाते हुए सक्षम स्तर पर इन सभी बसों को पुनः संचालित करने के लिए रोडवेज प्रबंधक को निर्देश दिये। उन्होंने कुराबड़ क्षेत्र में 4 माह में 8 एक्सीडेंट होने की जानकारी देते हुए यहां इस सड़क पर स्पीड ब्रेकर बनवाने के निर्देश दिए।

ब्लेक स्पॉट की सर्वे करो ताकि एक्सीडेंट कम हो

बैठक में कलक्टर मीणा ने भी जिले में जिन क्षेत्रों में एक्सीडेंट ज्यादा हो रहे हैं, वहां पर पीडब्ल्यूडी व एनएचएआई को ब्लेक स्पॉट की सर्वे करते हुए कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने ब्लेक स्पॉट के सुधार कार्य के लिए यातायात प्रबंधन समिति के माध्यम से एनएचएआई को गंभीरता से लेने को कहा। नगर निगम महापौर गोविन्द सिंह टांक ने कहा कि चीरवा घाटी पर रोड के स्ट्रक्चर के कारण यह सबसे खतरनाक हाइवे एनएचएआई रोड बन चुकी है। उन्होंने एनएचएआई को इसे शीघ्र दुरस्त करने के लिए कहा। इस दौरान कलक्टर ने एनएचएआई को वन्यजीवों के लिए अण्डरपास बनाने के निर्देश दिए।

ओल्ड सिटी में ई-रिक्शा चलेंगे

बैठक में नगर निगम द्वारा पुराने शहर वॉल सिटी में डीजल/पेट्रोल फ्यूल आधारित यातायात को इलेक्ट्रीक यातायात में शिफ्ट करने के लिए प्रजेंटेशन प्रस्तुत किया। कमेटी द्वारा वॉल सिटी में सैद्धान्तिक रूप से ट्रांसपोर्ट वाहनों को नॉन डीजल/पेट्रोल फ्यूल, इलेक्ट्रीक वाहनों में शिफ्ट करने को सहमति प्रदान की। जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने कहा कि समस्त वाहनों का किसी क्षेत्र में रोकना सम्भव नहीं है। इसके लिए कॉमर्शियल वाहनों का फेज क्षेत्र शिफ्ट करना अनिवार्य होगा।

पर्यटकों के लिए 48 किलोमीटर का रूट अनुमोदित

बैठक में शहर के प्रमुख सभी पर्यटन स्थलों की सैर कराने वाले रूट का अनुमोदन किया गया। इसके तहत गोवर्धन सागर पार्क से लेकर पटेल सर्कल, दूध तलाई, गुलाब बाग, टाउन हॉल, देहलीगेट, चेटक सर्कल, फतहसागर, मल्लातलाई चौराहा, सज्जनगढ़, रानी रोड, शिल्पग्राम, टाईगर हिल तिराहा, सहेलियों की बाड़ी, सुखाडि़या सर्कल, आहड संग्रहालय, सेवाश्रम, सूरजपोल, रेल्वे स्टेषन, से गोवर्धन सागर पार्क का 48.1 किमी के रूट का अनुमोदन किया गया। इस रूट पर यात्री व पर्यटक पूरे दिन की टिकिट लेकर विभिन्न स्थानों पर पर्यटन करते हुए किसी भी बस में सवार होकर भ्रमण कर सकेगा। इस तरह के रूट से यात्रियों को बार-बार ऑटो/केब आदि से भ्रमण से निजात मिलेगी। साथ ही उदयपुर के निवासियों के लिए लगभग सभी महत्वपूर्ण स्थान इन रूटों के अन्दर शामिल कर दिए गए है।

इन विषयों पर भी हुई चर्चा

जन प्रतिनिधियों ने एनएचएआई द्वारा डबोक से प्रतापनगर के बीच बस स्टॉपेज के लिए मंजूरी अस्वीकार करने पर नाराजगी जताई जिस पर कलक्टर ने एनएचएआई को पुनः प्रस्ताव प्राप्त कर शीघ्र बस स्टॉप के लिए जगह देने के लिए निर्देषित किया। कलक्टर ने देवाली रोड दुर्गा नर्सरी रोड पर कुम्हारों का भट्टा आदि स्थानों पर ट्रांसफॉर्मरं को हटाने के प्रकरण में एवीवीएनएल के अधिकारियों को बैठक में बुलाने के निर्देश दिए। बैठक में सिटी राउंड सेक्टर 14 से लेकर 23.7 किमी के रूट का तथा बहुप्रतिक्षित हवाई अड्डे से चेतक सर्कल के लिए एसी/नॉन एसी बसों के लिए निरन्तर सेवाएं प्रदान करने के लिए 23.8 किमी का रूट का अनुमोदन किया गया। इसके साथ ही शहर में सिटी बस संचालन के लिए आठ नये मार्गो का अनुमोदन किया गया।

यातायात प्रबंधन समिति की बैठक में उदयपुर ग्रामीण विधायक फुलचन्द मीणा, यूआईटी सचिव अरूण हसीजा, नगर निगम आयुक्त हिम्मतसिंह बारहठ, पीडब्ल्यूडी एसई अशोक शर्मा कुमार, स्मार्ट सिटी के प्रदीप सांगावत आदि ने विचार व्यक्त किए। प्रादेशिक परिवहन अधिकारी प्रकाश सिंह राठौड़ ने बैठक एजेंडा व नवीन प्रस्तावों पर विस्तार से जानकारी दी वहीं जिला परिवहन अधिकारी डॉ. कल्पना शर्मा ने आभार जताया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal

From around the web