कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए कलक्टर ने ली आवश्यक बैठक

कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए कलक्टर ने ली आवश्यक बैठक

हाल ही में इटली से आए कोरोना पीडि़त पर्यटक के सम्पर्क में आए संबंधित होटल कर्मियों एवं अन्य संबंधित लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है और इनमें सबकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है, यह राहत का विषय है।

 
कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए कलक्टर ने ली आवश्यक बैठक

समन्वित प्रयास करें, जागरूकता फैलावें - कलक्टर

सिर्फ संदिग्ध के लिए जरूरी है एन-95 मास्क

10 स्थानों पर जांच की सुविधा मिलेगी

पर्यटकों की सूची की जांच के निर्देश

उदयपुर, 6 मार्च 2020। जिला कलक्टर श्रीमती आनंदी ने कहा है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने की दृष्टि से सभी लोगों के समन्वित प्रयास ही कारगर साबित होंगे। उन्होंने इन प्रयासों के साथ-साथ इससे बचाव के लिए व्यापक जनजागरूकता फैलाने के भी निर्देश दिए।

जिला कलक्टर शुक्रवार को यहां कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर पर्यटन व होटल क्षेत्र से जुड़ी संस्थाओं के प्रतिनिधियों, रेल्वे, एयरपोर्ट, वन और पुलिस विभाग व संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों की एक आवश्यक बैठक की अध्यक्षता करते हुए संबोधित कर रही थी।  

कलक्टर श्रीमती आनंदी ने उदयपुर शहर में आने वाले विदेशी पर्यटकों की बड़ी संख्या को देखते हुए पर्यटन व होटल व्यवसाय से जुड़े समस्त प्रतिनिधियों को वायरस के संक्रमण की संभावनाओं के लिए एहतियाती उपाय सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हाल ही में इटली से आए कोरोना पीडि़त पर्यटक के सम्पर्क में आए संबंधित होटल कर्मियों एवं अन्य संबंधित लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है और इनमें सबकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है, यह राहत का विषय है। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारा दायित्व है कि विदेशी पर्यटकों को स्वास्थ्य जांच दौरान होने वाली असुविधा के बावजूद जांच का कार्य विभागीय प्रावधानों के अनुसार जरूरी है, इसमें किसी प्रकार की कोताही नहीं बरती जावें।

कलक्टर ने कहा कि उदयपुर एक प्रमुख ट्यूरिस्ट डेस्टिनेशन है और यहां देश-विदेश से विभिन्न पर्यटक आते है। ऐसे में यहां विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए राज्य सरकार से प्राप्त होने वाले दिशा-निर्देशों की पूर्णतः पालना की जा रही है। 

कलक्टर ने बताया कि होटल्स क्षेत्र एवं सार्वजनिक स्थलों पर विशेष एहतियात बरतने के लिए समय-समय पर गाइडलाइन प्राप्त हो रही है जिसका नियमित फोलोअप किया जा रहा है। उन्होंने मौजूद प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों को सतर्क रहकर सावधानी बरतने की बात कही।

10 स्थानों पर जांच की सुविधा मिलेगी

कलक्टर ने पर्यटकों की बड़ी संख्या को देखते हुए पर्यटकों की स्वास्थ्य जांच के लिए शहर में अलग-अलग 10 स्थानों पर जांच के लिए व्यवस्थाएं सुनिश्चित करवाने के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए वहीं होटल प्रबंधकों को अपने-अपने होटल्स में इस संबंध में जागरूकता के लिए आईईसी मटेरियल डिस्प्ले करवाने को भी कहा।

पर्यटकों की सूची की जांच के निर्देश

कलक्टर ने निर्देश दिए कि विदेशी पर्यटकों के संबंध में पुलिस विभाग द्वारा संधारित की जाने वाली लिस्ट से अस्पताल में जांच करवाने वालों की सूची को प्रतिदिन चैक किया जावे ताकि कोई भी पर्यटक जांच से वंचित नहीं रहे।

सिर्फ संदिग्ध के लिए जरूरी है एन-95 मास्क

बैठक में मौजूद प्रतिनिधियों ने बाजार में मास्क की किल्लत के बताई तो कलक्टर के निर्देशों पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि एन-95 मास्क सिर्फ संदिग्ध पाए गए रोगी के लिए ही जरूरी है अन्य लोग बाजार में उपलब्ध सामान्य थ्री लेयर मास्क का उपयोग कर सकते हैं।

इस मौके पर सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने शहर में आने वाले हर विदेशी पर्यटक के स्वास्थ्य की जांच करवाने की अनिवार्यता को बताते हुए होटल प्रबंधकों को होटलों के कक्षों की प्रावधानों के अनुसार सफाई सुनिश्चित कराने, हर पर्यटक को मास्क व सेनीटाईजर उपलब्ध कराने को भी कहा। बैठक के दौरान डब्ल्यूएचओ से पहुंचे डॉ. व्यास व डॉ. उमेश खन्ना ने होटलों पर सफाई की प्रक्रिया के साथ पर्यटक स्थलों पर टिकट खिड़की पर बैठे कार्मिकों को मास्क उपलब्ध कराने, मॉल के एस्केवेटर पर भी हर घंटे स्प्रे करवाने तथा ज्यादा लोगों के एकत्र होने वाले स्थानों पर विशेष सतर्कता बरतने के भी निर्देश दिए।

नगर निगम आयुक्त अंकित कुमार सिंह, उप वन संरक्षक सुपांग शशि, पर्यटन उपनिदेशक शिखा सक्सेना के साथ होटल प्रबंधक और पर्यटन व्यवसाय से जुड़े प्रतिनिधि मौजूद थे।  

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal