डेढ़ माह में आएंगी नौ तरह की महंगी दवाइयां

डेढ़ माह में आएंगी नौ तरह की महंगी दवाइयां

मुख्यमंत्री निरोगी राजस्थान योजना के तहत जोड़ी गई 1758 दवाओं की आपूर्ति जल्द

 
medicines

मुख्यमंत्री निशुल्क निरोगी राजस्थान योजना (एमएनएनआरवाय) के तहत जोड़ी गई 1758 दवाओं की आपूर्ति जल्द होगी । इनमें 9 ऐसी दवाइयां भी शामिल है जो काफी महंगी है। इनकी कीमत 600 से 54 हजार तक है।

इन दवाओं में कई ऐसी दवाइयाँ है जो आम आदमी की पहुंच से बाहर है। वहीं कुछ नई दवाएं भी है जिनके साइड इफैक्ट काफी कम है। सबसे महंगी टेबलेट रूकापेरिब है जो 54 हजार रुपए प्रति 60 टेबलेट में आती है और इसका इस्तेमाल ओवेरियन कैंसर में होता है।

आरएनटी के ड्रग वेयर हाउस के नोडल अधिकारी डॉ. दीपक सेठी ने बताया कि राजस्थान चिकित्सा सेवा निगम जयपुर (आरएमएससी) जयपुर द्वारा प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज से एमएनएनआरवाय के अंतर्गत नई जोड़ी गई दवाओं की आवश्यकता के अनुरूप सूची मंगवा ली गई है। इनमें से कई दवाओं के ऑर्डर दवा कंपनियों को दे दिया गया है और एक से डेढ़ माह के भीतर ये दवाएं अन्य मेडिकल कॉलेज के साथ आरएनटी के मेडिकल ड्रग वेयर हाउस में उपलब्ध होंगी।

ये महंगी दवाएं शामिल लिस्ट में

दवा का नाम    दवा का कार्य  अनुमानित बाजार भाव    
रूकापेरिब ओवेरियन कैंसर 54000 प्रति 60 टेबलेट
बांटूलिनटॉक्सिन नर्व ओवरएक्टिविटि के लिए  24000 प्रति इंजेक्शन
पैज़ोपैनिब  किडनी कैंसर  12000 प्रति इंजेक्शन
रिवारोक्साबन   खून पतला करने की  1500 प्रति स्ट्रिप    
ट्रिप्टोरेलीन प्रोस्टेट कैंसर  6500 प्रति इंजेक्शन
डर्बेपाइंटीन खून बनाने की  5700 प्रति इंजेक्शन
कैस्पोफंगिन  फंगल इंफेक्शन के लिए      4300 प्रति इंजेक्शन    
मिनोक्सिडिल बाल उगाने के लिए  600 प्रति बोतल
लुल्लीकोनाजोल फंगल इंफेक्शन के लिय  600 प्रति ट्यूब

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal